वित् मंत्री के हजारो करोड़ो का एलान,लेकिन किसानो के चेहरे पर नही दिखी मुस्कान(आत्म निर्भर भारत अभियान)

By | May 15, 2020

आत्म निर्भर भारत अभियान इन हिंदी,Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan
in hindi,Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan online aavedan,Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan applicaton form,

वित् मंत्री के हजारो करोड़ो का एलान,लेकिन किसानो के चेहरे पर नही दिखी मुस्कान(आत्म निर्भर  भारत अभियान)

क्रषि सेक्टर में राहत का एलान:-

आत्म निर्भर भारत अभियान के थे देश कि वित् मंत्री श्री निर्मला सीता रमन ने 20
लाख करोड़ कि आर्थिक सहायता का एलान किया था और इसी एलान में उन्होंने देश के
किसानो के लिए क्रषि सेक्टर में भी बड़ा एलान किया था मगर देश के किसान उनके
इस राहत फंड से खुश नही है उनका कहना है कि सरकार ने उनके लिए एसा कुछ
विशेष राहत फंड का एलान नही किया है सिर्फ ज्यादा से ज्यादा लोन देने कि बात कर
रही है अगर इस संकट कि घड़ी में यदि सरकार उनके लिए को और भी राहत पैकेज का
एलान हि करती है तो वो लोग सडकों पर उतर जायेगे

किसानो कि मांग:-

वित् मंत्री ने इस आत्म निर्भर भारत अभियान के तहत जो एलान किया है उससे
किसान नाखुश है और उनकी कुछ सरकार से मांग है कि सरकार ने जो लोन के जरिये
किसानो को पैसा देने का विचार किया है उसकी बजाय उनको सीधा उनके खाते में
डायरेकट पैसा दे क्योंकि उनंके उपर पहले से बैंको के कर्ज का बोझ है और ऐसे में इस
संकट कि घड़ी में मजबूरन उनको और लोन लेना पड़ेगा और वो इसे चुका नही पायेगे
इसलिए सरकार से उनकी ये गुजारिश है कि उनको राहत कोष का पैसा सीधा हि प्रदान
किया जाए ताकि इस कोरोना संकट में उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हो

किसान आत्म हत्या को मजबूर:-

जैसा कि आपको मालूम ही है देश में कोरोना संकट कि वजह से जो लोकडाउन लगा
हुआ है उससे देश के किसानो को इससे सबसे ज्यादा नुक्सान हुआ है क्योंकि इस
लोकडाउन कि वजह से सब जगह तालाबंदी है जिसके कारण वो लोग न तो अपनी
फसल को बाजार में बेच सके और न हि कोई सब्जी दूध फल बाजार में बेचने के लिए
बाजार में ला सके और यदि कुछ किसानो ने अपना अनाज यानी गेहूं,सरसों,चना या
फिर सब्जी बेचा भी है तो उसे उनकी सही रकम नही मिली कुछ किसानो को तो सब्जी
फल सडको पर फेंकने को मजबूर हो गये है और बैंको से जो लोन ले रखा है उसकी
भरपाई का भी वक्त नजदीक आ रहा है

ऐसे में सरकार से उनकी एक आस थी कि वो आत्म निर्भर भारत अभियान के तहत जो राहत पैकेज का एलान करेगी उनसे उनको थोड़ी निजात मिलेगी लेकिन जब वित् मंत्री ने जो 20 करोड़ रूपये के आर्थिक पैकज का एलान किया है उनसे किसानो को कोई ख़ुशी नही मिली है क्योंकि किसानो का मानना है कि इस एलान में सिर्फ उनको बैक से और ज्यादा कर्ज देना कि बात कही है लिकिन उनका मानना है कि बैंको का कर्ज तो उनके उपर पहले से हि है और अधिक कर्ज लेगे तो उसे चूका हि नही पायेगे और इस कारण किसानो को आत्म हत्या करने को मजबूर होना पड़ेगा  ऐसे में उन्होंने सरकार के इस आत्म निर्भर भारत अभियान को आत्म हत्या का नाम दे दे दिया है

कर्जमाफी का कोई एलान नही:-

कोरोना के इस संकट में वित् मंत्री ने जो आर्थिक पैकेज के एलान किया है उसमे kcc
कर्जामफी का कोई एलान नही है जिसके कारण किसान खुश नही है उनका मानना है
कि सरकार को कर्जा माफ़ी का भी इस Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan के तहत
एलान करना चाहिए था क्योंकि देशके लगभग किसानो ने बैंको से kcc के जरिये लोन
ले रखा है और इस सालो में उनको फसल में कोई अधिक इजाफा हुआ नही है जिसके
कारण वो बैंको का लोन चूका नही पा रहे है

जीसके कारण किसानो पर बैंक ब्याज का बोझ दिन प्रतिदिन चढ़ता हि जा रहा है ऐसे में
कुछ किसान तो आत्म हत्या को मजबूर हो रहे हैं लेकिन किसानो को इस राहत पैकेज
में कुछ आस थी वो भी अब टूटती नजर आ रही है किसान सोच रहे थे कि सरकार उनके
लिए कर्जमाफी में भी कोई योजना बनाएगी मगर एसा कोई एलान हि नही हुआ है सिर्फ
किसान बैंको से और अधिक ऋण ले सकता है

देश के किसानो का नुक्सान:-

आपको बता दे कि भारतीय क्रषक समाज के रास्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. क्रष्णवीर चोधरी भी
सरकार के राहत पैकेज से ना खुश है उनका मानना है कि इस कोरोना संकट में देश के
किसानो का गन्ना बाजार में नही आने के कारण उनका काफी नुकसान हुआ है उसकी
भरपाई के लिए सरकार को कोई ठोस कदम उठाने चाहिए थे देश के लगभग 40 लाख
किसानो का गन्ना उत्पादन से घर चलता है और PM kisan smman nidhi
yojana में जो सालाना 6000 रूपये मिलते है उसमे बढ़ोतरी होनी चाहिए हर साल
24000 रूपये इस योजना से किसानो को मिलना चाहिए और तो और जिन किसानो
कि फसले बर्बाद हुई है उनके खाते में कम से कम 10 हजार रूपये कि सहायता राशि
भेजनी चाहिए थी

लेटेस्ट योजनाक्लिक करे
ताजा समाचार हिंदीक्लिक करे
सभी सरकारी योजनाक्लिक करे
किसान योजनाक्लिक करे

2 thoughts on “वित् मंत्री के हजारो करोड़ो का एलान,लेकिन किसानो के चेहरे पर नही दिखी मुस्कान(आत्म निर्भर भारत अभियान)

  1. Pingback: कोरोना वायरस वैक्सीन पर बड़ी कामयाबी, बंदरों में विकसित हुई एंटीबॉडी,

  2. Pingback: दिल्ली मजदूर सहायता योजना । 5000रुपये Delhi Construction Worker Scheme

Leave a Reply

Your email address will not be published.