आत्म निर्भर भारत अभियान: मधुमक्खी पालन को बढ़ावा देने के लिए 500 करोड़ रूपये का पैकेज

By | May 21, 2020

आत्म निर्भर भारत अभियान,Atmnirbhar Bharat Abhiyan letest news,Atmnirbhar Bharat Abhiyan in hindi,Atmnirbhar Bharat Abhiyan online aavedan,Atmnirbhar Bharat Abhiyan ki jankari

आत्म निर्भर भारत  अभियान: मधुमक्खी पालन को बढ़ावा देने के लिए 500 करोड़ रूपये का पैकेज

आज हम आपको बतायेगे कि आत्म निर्भर भारत अभियान के तहत वितमंत्री ने
मधुमक्खी पालन के लिए 500 करोड़ के पैकेज का एलान किया है इसकी सम्पूर्ण
जानकारी के लिए आप इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े

आत्म निर्भर भारत अभियान के तहत मधुमक्खी पालन क्या है:-

जैसा कि इस समय देश में कोरोना वायरस जैसी माहामारी के कारण पुरे देश में लोगो
कि सुरक्षा के लिए सरकार ने लोकडाउन लगा रखा है लोकडाउन का मतलब है तालाबंदी
इस लोकडाउन के कारण देश कि अर्थव्यवस्था काफी कमजोर होती नजर आ रही है
ऐसे में देश के तत्कालीन प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी देश कि अर्थव्यवस्था को पटरी
पर लाने के लिए 20 लाख करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज कि घोषणा 12 मई 2020 को
कि थी ये आर्थिक पैकेज देश कि जीडीपी के 10% बराबर है

मोदी जी ने इस लोकडाउन में सभी देशवाशियो को आत्म निर्भर भारत अभियान के सूत्र
में बंद जाने का निर्देश दिया है इस राहत पैकेज कि घोषणा देश कि वित् मंत्री श्री
निर्मला सीता रमन ने खुद कि थी इसमें सभी वर्गो को लोकडाउन में हुए नुक्सान कि
भरपाई का लाभ दिया जाएगा साथ हि सरकार ने इस राहत पैकेज में किसानो को
मधुमक्खी पालन के लिए भी प्रेरित किया है सरकार चाहती है कि किसान मधुमक्खी
पालन कि और ध्यान दे जिससे उनकी आय में वृदि होगी इससे किसान अपनी खेती के
साथ साथ मधुमक्खी पालन का काम भी शुरु करके अपनी आय को बढ़ा सकता है

मधुमक्खी पालन(honey bee palan) के पैकेज से क्षेत्रों में होने वाले लाभ:-

Atmnirbhar Bharat Abhiyan के तहत मधुमक्खी पालन से होने वाले लाभ निम्न प्रकार है

  • इस योजना के शुरु हो जाने से देश कि महिलाओं को रोजगार मिलेगा
  • ट्रेसबिलीटी सिस्टम का विकास होगा
  • इस योजना से मधुमक्खी पालको का विकास होगा
  • कोरोना वायरस कि त्रासदी झेल चुके किसानो कि इससे आर्थिक स्थिति काफी कमजोर हो
    गई है इससे उनकी आय में काफी बढ़ोतरी होगी
  • और देश में मिल रहे मिलावटी शहद से लोग बच जायेगे क्योकि मधुमक्खी पालन से अच्छी
    गुणवत्ता का शहद प्राप्त किया जा सकता है
  • देश के 2 लाख किसानो को इसका लाभ दिया जाएगा

मधुमक्खी पालन(honey bee palan) का उदेश्य क्या है:-

सरकार ने लोकडाउन में जो आर्थिक पैकेज का एलान किया है उसमे 500 करोड़ रूपये
का पैकेज मधुमक्खी पालन के लिए भी रखा गया है सरकार का इस 500 करोड़ के
पैकेज का एलान करने का मुख्य उदेश्य है कि देश में ग्रामीण इलाको में घनी आबादी है
उर उनके पास रोजगार के साधनो का अभाव है ऐसे में यदि इन लोगो को मधुमक्खी
पाल के लिए प्रेरित किया जाए तो इनको रोजगार भी मिल जाएगा और इनकी आय में
भी काफी अच्छी बढ़ोतरी होगी फसल के साथ साथ ये लोग मधुमक्खी पालन से भी
काफी लाभ ले सकेंगे और देश को अच्छी गुणवता वाला शहद प्राप्त होगा

देश का मधुमक्खी पालन में कोनसा स्थान है और कितना शहद उत्पाद किया जाता है:-

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि विश्व में भारत देश का मधुमक्खी पालन में आठंवा स्थान है और देश में लगभग 64.9 हजार टन शहद का उत्पादन किया जाता है और यदि पहले स्थान कि बात करे तो चीन में सबसे ज्यादा मधुमक्खी पालन किया जाता है और शहद उत्पादन कि बात कि जाए तो चीन अकेला हि 551 हजार टन शहद का उत्पादन करता है इस्ल्ये सरकार चाहती है कि लोग मधुमक्खी पालन को बढ़ावा दे ताकि देश का मधुमक्खी पालन में सुधार हो सके और इसके डंक के विष से निर्मित उत्पाद को बेच कर किसान अच्छी खासी कीमत कमा सके इसके लिए देश में आत्म निर्भर भारत अभियान(anba) के तहत इस योजना को शुरु किया जा रहा है 

हमारा अप्प डाउनलोड करेक्लिक करे
ताजा समाचार हिंदीक्लिक करे
सभी सरकारी योजनाक्लिक करे
किसान योजनाक्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published.