Yojana News

अमृत सरोवर योजना – लोगों के लिए वरदान साबित होने वाली है यह योजना,जाने आप भी योजना के बारे में

अमृत सरोवर योजना क्या है | amrit sarovar yojana online registration form | कब सुरु हुई अमृत सरोवर योजना | अमृत सरोवर योजना का लाभ कैसे ले सकते है | amrit sarovar yojana form in hindi |

Amrit Sarovar Yojana– नमस्कार दोस्तों आज के हिसाब से कल में हम आपको बताएंगे केंद्र सरकार की तरफ से शुरू की गई अमृत सरोवर योजना के बारे में अमृत सरोवर योजना Amrit Sarovar Yojana की शुरुआत केंद्र सरकार ने की है तथा इस योजना के तहत ऐसे जलाशय जो सुख चुके हैं उनका जीर्णोद्धार करके फिर से उनमें तैयार किया जाए ताकि उनके जल को पीने योग्य बनाया जा सके हम बात कर रहे हैं बिहार राज्य के नवादा जिले इस जिले में केंद्र सरकार की इस योजना Amrit Sarovar Yojana को शुरू किया गया है जैसा कि आप जानते हैं आज के समय में मानव जाति प्रकृति के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं ऐसे में मानव जाति पर संकट तो आया ही है

इसके साथ-साथ जीव जंतु पशु पक्षियों पर भी संकट बना हुआ है उन्हें पीने के पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है पुराने जमाने में बनाए गए तालाब,पोखर आदि सब सूख गए हैं मानव जाति की विधि गलतियों की वजह से जलवायु पूरी तरह से दूषित हो चुकी हैं पर्यावरण भी पूरी तरह से दूषित हो चुका है ऐसे में केंद्र सरकार ने इस योजना को शुरू किया है आइए जाने इस योजना के बारे में

अमृत सरोवर योजना के बारे में-

आज के इस युग में मानव जाति प्रकृति के साथ आए दिन खिलवाड़ कर रही है ऐसे में मानव के साथ-साथ जीव जंतु पशु पक्षियों का जीवन भी संकट में पड़ गया है जलाशय जैसे पोखर तालाब आदि सूख चुके हैं पीने के पानी की किल्लत खड़ी हो चुकी है मानव की कुछ गलतियों की वजह से जलवायु तथा पर्यावरण पूरी तरह से दूषित हो चुके हैं मानव पुराने समय में बनाए गए जलाशय पूरी तरह से विलुप्त हो चुके हैं जीव जंतु तथा मानव जाति के लिए पानी की व्यवस्था की जा सके इसके लिए केंद्र सरकार मेरे अमृत सरोवर योजना Amrit Sarovar Yojana की शुरुआत की है इस योजना के माध्यम से पुराने जो पोखर तालाब आदि हैं उनका जीर्णोद्धार करके उन्हें फिर से सही ढंग से व्यवस्थित किया जाएगा

ताकि उनमें पानी को एकत्रित किया जा सके जिससे मानव जाति तथा पशु पक्षियों के लिए पानी की व्यवस्था हो सके केंद्र सरकार की ओर से इस योजना को स्वीकृति भी चार प्रशासनिक कार्य के आधार पर दी जा चुकी है तथा इस योजना Amrit Sarovar Yojana को मनरेगा के तहत शुरू किया गया है मनरेगा योजना के तहत इन तालाब या फिर अन्य पीने के जलाशयों की खुदाई का कार्य जोर-शोर से शुरू भी करवा दिया गया है इन सभी के शुरू हो जाने से राज्य में पीने के पानी के साथ-साथ सिंचाई के पानी की भी सही ढंग से व्यवस्था हो सकेगी

4 तालाबों का किया जाएगा क्रियान्वयन-

अमृत सरोवर योजना के तहत राज्य में जिन तालाबों का क्रियान्वयन किया जाएगा उनके बारे में जानकारी नीचे दी गई है

  • धमनी पंचायत के कुमरहा गाँव के पास महुआकोल तालाब को
  • सेवैयाटाड पंचायत के चट्करी के पास तालाब को
  • रजौली पंचायत नोकाडिह स्तिथ तालाब को
  • फर्काबुजुर्ग पंचायत के हाथोचक के पास वाले तालाब को

तालाबों के पास किया जाएगा पौधारोपण-

केंद्र सरकार की इस योजना के तहत इन तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा उनके साथ साथ वहां पर पौधारोपण का कार्य भी करवाया जाएगा ताकि पर्यावरण प्रदूषण होने से बचाया जा सके पौधारोपण का कार्य भी केंद्र सरकार की ओर से मनरेगा योजना को सौंपा गया है मनरेगा योजना के तहत तालाबों की साफ-सफाई का कार्य जोर-शोर से शुरू कर दिया गया है साथ ही पौधारोपण का कार्य भी जल्द शुरू करवा दिया जाएगा

मनोहर ज्योति योजना 2022 : सरकार दे रही है 15000 की सब्सिडी,ऐसे करे आवेदन
यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना : UP Bhagya Lakshmi Yojana Application From

तय किया गया बजट-

अमृत सरोवर योजना जो केंद्र सरकार की ओर से लागू की गई है इस योजना के तहत पुराने तालाब सरोवर आदि की साफ सफाई का कार्य शुरू किया गया है ताकि पेयजल की पूर्ति को बरकरार रखा जा सके क्योंकि आज के समय में प्रकृति से व्यक्ति खिलवाड़ करता जा रहा है जिसके कारण इन जलाशयों का पानी सूखता जा रहा है ऐसे में सरकार की ओर से नरेला को कार्य सौंपा गया है कि वह इन जलाशयों का साफ-सफाई तथा सीमा द्वार करके फिर से इन्हें पीने के पानी योग्य बनाया जाए इस योजना के लिए केंद्र सरकार ने 367837 रुपए का बजट तय किया है ताकि पुराने इन जलाशयों को फिर से तैयार करके उन्हें जल को पीने योग्य बनाया जा सके

नोट-दोस्तों इस आर्टिकल में हमारी ओर से बताया गया है कि केंद्र सरकार ने अमृत सरोवर स्कीम की शुरुआत की है इस योजना के तहत पुराने जलाशयों को फिर से तैयार किया जा रहा है क्योंकि मानव जाति प्रकृति के साथ आए दिन खिलवाड़ करती जा रही है ऐसे में मानव जाति का जीवन संकट में तो पड़ गया ही है परंतु इसके साथ-साथ जीव जंतु पशु पक्षियों का भी पड़ गया है उन्हें पीने के पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है ऐसे में सरकार चाहती है कि पुराने जलाशयों को फिर से तैयार किया जाए ताकि उन्हें पीने के पानी की व्यवस्था सही ढंग से हो सके आर्टिकल में दी गई जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं

JaiSing Rathor

Recent Posts

Google Pay Se Paise Kaise Kamaye : गूगल ऐप से रोजाना 500 से 1000 रुपये कमाने के आसान तरीका 

Google Pay Se Paise Kaise Kamaye प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के…

2 months ago

रेल कौशल विकास योजना : खुशखबरी फ्री में कौशल विकास योजना में प्रशिक्षण के लिए आवेदन शुरू,10 वीं, 12 वीं पास जल्दी करे आवेदन

रेल कौशल विकास योजना केंद्र की मोदी सरकार दुवारा देश के सभी वर्ग के नागरिको…

2 months ago

Anganwadi Bharti New Update : खुशखबरी आंगनबाड़ी में निकली इस साल की सबसे बड़ी भर्ती,बिना परीक्षा होगा चयन, आवेदन शुरू

Anganwadi Bharti New Update राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार दुवारा राज्य की महिलाओ को रोजगार प्रदान…

2 months ago

Work From Home Job : खुशखबरी घर बैठे सरकार के साथ काम करें डाटा एंट्री की नौकरी, कमाए 15 से 20 हजार रूपये महीना

Work From Home Job प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से…

2 months ago

Rajasthan Free Mobile Yojana : गहलोत सरकार दे रही है सभी को 3 साल फ्री इंटरनेट के साथ फ्री में मोबाइल फोन,ऐसे चेक करे अपना नाम

Rajasthan Free Mobile Yojana नमस्कार दोस्तों आज हम आपके लिए राजस्थान सरकार की योजना से…

2 months ago