बाढ़ राहत सहायता योजना बिहार ऑनलाइन पंजीकरण ~ badh rahat yojana bihar लाभ व् पात्रता

Bihar Badh Rahat Sahayata Yojana online, बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन, बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना मुआवजा राशि, बाढ़ राहत सहायता योजना लाभार्थी सूची, बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के लाभ, बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना क्या है

बिहार सरकार प्रदेश के किसानो को आर्थिक रूप से सहायता प्रदान करने के लिय अनेको योजनाओ को प्रदेश में लागु किया है उनमे से एक योजना बाढ़ राहत सहायता योजना है जिसके अंतर्गत प्रदेश में किसानो को किसी प्राकृतिक अपदाओ के कारण जो फसल को बर्बाद कर दिया है उनको राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में 6000 रुपया की आर्थिक सहायता प्रदेश के हर किसान भाई को दी जाएगी राहत सहायता योजना के अंतर्गत दी जाने वाली वाली को अलग लग विभागों में विभाजित किया गया है प्रदेश में अगर किसान भाई अपनी भूमि की फसल को सिंचाई के साधनों से फसल तैयार करते है उनको राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता राशी ज्यादा प्रदान करेगी

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के दस्तावेज , पात्रता , उधेश्य , विशेषताए और गुणवता के बारे में चर्चा को विस्तार से करेंगे इसलिय आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर पढ़े योना का लाभ उठाए

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना 2020 || badh rahat sahayata scheme

बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने प्रदेश के किसानो को बाढ़ जैसी प्राकृतिक अपदाओ से जो फसलो का नुकसान हुआ है उनकी कुछ आर्थिक मदद के रूप में सहायत देने के लिय राज्य की कृषि मंत्रालय द्वारा कुछ विशेष प्रावधान राज्य की सरकार ने किया है इस योजना के माध्यम से प्रदेश के वे किसान भाई जो अपने खेतो की फसलो को सिंचाई के माध्यम से पकाते है उन की फसल किसी प्राकृतिक आपदाए जैसे बाढ़ का आना , ओलावृष्ठी , अकाल घोषित होना जैसी परिस्थति होने पर उनको आर्थिक सहायत के रूप में प्रति हेक्टेयर के हिसाब से राज्य सरकार द्वारा 6000 रुपया की आर्थिक मदद दी जाएगी

और वे जो अपनी फसल बरसात के मोसम पर ही तैयार करते है उन किसान भाई को राज्य की कृषि मंत्रालय द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में प्रति हेक्टेयर के हिसाब से 4000 रुपया की आर्थिक मदद दी जाएगी

बिहार कृषि इनपुट अनुदान योजना

योजना का नाम बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना
शुरू की गई नितीश कुमार द्वारा
उधेश्य प्रदेश के नागरिको को आर्थिक सहायता राशी प्रदान कराना
सहायता राशी कितनी है 6000 रु
अधिकारिक वेबसाइट bihar.gov.in

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना क्या है ?

राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के किसानो को प्राकृतिक अपदाओ की वजह से जो फसलो की सिंचाई तथा फसल किसी बाढ़ की समस्या से फसलो का नुकसान हुआ है उन किसान भाई को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिय राज्य में बाढ़ राहत योजना को शुरू किया है इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के किसानो को राहत के ओतूर पर प्रत्येक किसान भाई जिनकी भूमि 4 हेक्टेयर या उससे कम है उन सभी किसानो को प्रति हेक्टेयर के हिसाब से 6000 रुपया की आर्थिक सहायता राशी प्रदान की जाएगी और जिस किसान भाई की फसल बरसाती मौसम से तैयार की जाति है

उन किसानो को भी आर्थिक सहायता के रूप में 4000 रुपया तक की आर्थिक सहायत राशी के रूप में प्रदान किय जाएँगे मुह्क्य्मंत्री जी की ये योजना किसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करने में अहम् रोल के मुकाम पर जाएगी जिससे प्रदेश का हर किसान मुख्यमंत्री की इस योजना पर गर्व महसूस करेगा

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना का मुख्य उधेश्य क्या है ?

बिहार राज्य में जो प्राकृतिक अपदाओ का भीषण लहर जो प्रदेश के किसान परिवारों का जीवन जीना मुश्किल कर दिया है ऐसे में उनकी सहायता करने वाला कोई भी प्रदेश का मानव सुरक्षित नही है उनके परिवार के परिवार बेघर हो गए है उनके पास खाने के लिय आनाज व् सोने के लिय बिस्तर एवं मकान की सुविधा नही है ऐसे में राज्य सरकार ने प्रदेश के दिन गरीब दुखीं को आर्थिक सहायत प्रदान करने की योजना को जन्म दिया है इस बाढ़ राहत सहायता योजना के अंतर्गत प्रदेश के उन्ही परिवारों को लाभ प्रदान नही किया जाएगा जो बाधा की चपेट में आए है

इस योजना का लाभ तो बिहार राज्य के सभी परिवारों को दिया जाएगा इसमें कोई भी जाति विशेष या गरीब अमीर का सवाल नही है सबको समान रूप से 6000 रुपया की आर्थिक सहायता राशी वितरण की जाएगी राज्य सरकार का मुख्य उधेश्य है की प्रदेश के सभी लोगो को समान रूप से अधिकार मिले सरकार की सभी योजनाओ की update सब तक पहुंचे

बिहार मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक ऋण योजना

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना के मुख्य पहलू किस प्रकार है

  • बिहार सरकार की इस योजना का लाभ प्रदेश के सभी गरीब व् अमीर धनाड्य सभी को समान रूप से अधिकार व् लाभ प्रदान किया जाएगा
  • बिहार राज्य में आई इस भीषण बाढ़ की वजह से बहुत से परिवार बे घर हो गए है उनको बिहार सरकार नए मकान एवं खान पान की सभी सुविधा की पूर्ति के लिय ६००० रुपया की आर्थिक सहायता राशी वितरण करेगी
  • इस प्राकृतिक आपदा की वजह से बिहार प्रदेश के करीब 10 जिलो में इस बाढ़ ने बिहार के गरीब परिवाओ को मिटटी में मिला दिया है बहुत से परिवारों को जन मॉल की हानि हुई है उन सबको को राज्य सरकार ने आर्थिक मदद प्रदान करने की घोषणा राज्य सरकार ने की है
  • प्रदेश सरकार राज्य के किसानो तथा व्यापारियों दोनों को समान रूप से प्रत्येक परिवार को 6000 – 6000 रुपया देने की घोषणा राज्य सरकार द्वारा की गई है

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना बिहार से होने वाले लाभ किस प्रकार है

  • बिहार सरकार की इस योजना से प्रदेश के दिन गरीब परिवारों को अपने बच्चो तथा पशुओ को पालन करने के लिय आर्थिक मदद मिलेगी राज्य सरकार ने प्रदेश के जिस किसी परिवार को जितना नुकसान हुआ है उसके अनुसार ही योजना का time table तैयर किया है उनके अनुसार वितरण किया जाएगा
  • प्रदेश के प्रत्येक परिवार को समान रूप से ६००० – ६००० रुपया की राशी वितरण की जाएगी
  • फसल के लिए -6800 रुपए प्रति हेक्टेयर
  • गाय , भैंस की छती होने पर -30000 प्रति
  • घोड़ा की छती पर – 25000 प्रति
  • भेड़ ,बकरी ,सूअर की छती पर -3000 प्रति
  • पक्का मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त होने पर – 5200 रूपये
  • कच्चा मकान के आंशिक क्षतिग्रस्त होने पर – 3200 रूपये 
  • जानवर के शेड नुकसान होने पर – 2100 रूपये

बिहार किसान रजिस्ट्रेशन

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजनाके मुख्य दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • मुलनिवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र राशन कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक सहित
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो

बिहार सरकारी योजना लिस्ट

बिहार बाढ़ राहत सहायता योजना आवेदन प्रक्रिया

दोस्तों हम आपको बता दे की इस बाढ़ राहत योजना की आवेदन प्रक्रिया राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के हर जिलो में शिविर केम्प लगे जाएँगे जिससे प्रदेश के हर परिवार के मुख्या को राज्य सरकार के अधिकारियो जैसे तहसीलदार , कलेक्टर , sdm आदि दवारा सर्वे किया जाएगा उसके बाद गोरमेंट अधिकारी इसकी जाँच कर परिवार की आर्थिक स्थति को मध्य नजर रखकर ही उनके बैंक अकाउंट में आर्थिक सहायता राशी वितरण की जाएगी ये केम्प सेवा अभी राज्य सरकार ने शुरू नही की है जैसे ही सरकार को समय का सदपयोग होगा उस समय शुरू कर दी जाएगी

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Enable Notifications    OK No thanks