खुसखबरी: एस्ट्राजेनेका ने मिलाया भारत से हाथ, कोरोना वैक्सीन अब पुणे में बनेगी 1 अरब लोगों के लिए

corona vaccine latest news,corona vaccine latest update in hindi, corona vaccine latest updates,corona vaccine in india update, corona vaccine news in hindi,corona vaccine oxford, corona vaccine clinical trials in india, corona vaccine development phases,कोरोना वैक्सीन के बारे में

आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिये बताने जा रहे है कि अब इस कोरोना संकट कि
घड़ी में लोगो के लिए खुशखबरी है कोरोना के लिए वेक्सिन अब भारत में बनने जा रही
है इसकी सम्पूर्ण जानकारी के लिए आप इस पोस्ट को ध्यानपूर्वक पढ़ें

महाराष्ट्र (पुणे) कोरोना वैक्सीन:-

जैसा कि आप सभी को पता है इस समय देश हि नही बल्कि पूरी दुनिया covid-19 के
प्रकोप कि वजह से परेशान है है इसकी वजह से दुनिया कि अर्थव्यवस्था काफी कमजोर
होती नजर आ रही है रोजाना कोरोना संक्रमण के मरीजो कि संख्या बढ़ती जा रही है न
जाने कितने लोगो को इस covid-19 कि वजह से जिन्दगी कि जंग हारनी पड़ रही है
ऐसे में लोगो के लिए एक खुशखबर आई है Oxford University कि संभावित
वैक्सीन कि सप्लाई को देखते हुए British Swedish Pharmaceutica
Company Astrazeneca नाम कि कम्पनी ने भारत से हाथ मिलाया है

कोरोना वैक्सीन पर एस्ट्राजेनेका ने भारत के महाराष्ट्र के पुणे शहर में कोरोना वैक्सीन
बनाने के लिए लाइसेंस देने वाली है ये वैक्सीन पुणे के सेरम इंस्टिट्यूट के साथ
मिलकर लगभग 1 अरब लोगो के लिए बनाने वाली है इस कोरोना वैक्सीन का सबसे
ज्यादा फायदा उन देशो को होगा जो भारत कि तरह कम आय वाले देश है इस टार्गेट
को लगभग 2020 के अंत तक 40 करोड़ वैक्सीन बनाने का तय किया जा रहा है
क्योंकि इस covid-19 कि वजह से सभी देश परेशान है और इसकी अभी तक कोई
वैक्सीन नही आई है लेकिन अब एसा लग रहा है कि जल्द हि कोरोना वायरस पर काबू
पाया जा सकेगा 

कितने लोगो पर होगा सबसे पहले इसका ट्रायल:-

कोरोना कि इस वैक्सीन का सबसे पहले Oxford University ने घोषणा करके कहा है
कि AZD1222 के 2 और 3 फेज में जब ट्रायल शुरु किया जाएगा तब लगभग 10000
लोगों पर इसका ट्रायल किया जाएगा और ये ट्रायल व्यस्को पर किया जाएगा न कि
किसी वृद्ध व्यक्ति पर किया जाएगा इसे बाद जो देश बाकी है उनके लोगो पर इसका
ट्रायल किया जाएगा आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ब्राजील देश ने तो इस
ओक्स्फोर्ट युनिवर्सिटी को अपने लोगो पर ट्रायल करने के लिए मंजूरी भी दे दी है बहुत
जल्द इस कोरोना वैक्सीन को तैयार करके इसका traayl शुरु कर दिया जाएगा

कब तक इसकी डिलीवरी शुरु हो जायेगी:-

अब आप ये सोच रहे है कि अगर ये वैक्सीन बनकर तैयार हो जायेगी तो इसकी
डिलीवरी कब तक सम्भव है तो आपको बता दे कि इसकी 2020 के अंत तक dilivari
होनी संभव है British कि दवा निर्माता कम्पनी ने इस corona vaccine के लिए जो
डिस्ट्रीब्यूशनकम्पनी है जो दवा निर्माता कामनी कि मदद करती है सेपी और गेपी दोनों
ने ब्रिटिस दवा कम्पनी के साथ मिलकर 750 मिलियन डॉलर पर समझोता किया है
सबसे पहले इस कोरोना वैक्सीन का 30 करोड़ dos का खरीद और वितरण शुरु होगा
इसलिए संभव है कि 2020 के last तक इसका dilivari हो सकती है

Oxford University और SII साथ मिलकर corona vaccine पर काम कर रहा है:-

हमे जहाँ तक जानकारी मिली है उसके हिसाब से corona vaccine बनाने में
Oxford University सबसे आगे है क्योंकि ये इसपर मुम्बई के पुणे में स्तिथ SII
कम्पनी साथ मिलकर काम कर रही है और लोगो को इस कोरोना वायरस से निजात
पाने के लिए दिन रात corona vaccine पर नई नई खोज कर रही है

कुछ महत्वपूर्ण बातें:-

इस समय कोरोना संकट से लड़ रही पूरी दुनिया के लिए एक अच्छी खबर सामने आय
है कि भारत सरकार और British Swedish Pharmaceutica Company
Astrazeneca ने कोरोना वैक्सीन पर काम करने के लिए लाइसेंस देने वाली है और
साथ में SII के CEO ने ये भी बताया कि हमारी कम्पनी भारत के साथ मिलकर इस
कोरोना वैक्सीन को बनाकर जिन देशो कि आय कम है उनको इए vaccine देकर
ख़ुशी महसूस करेगी और उन्होंने ये भी बताया कि पिछले 50 सालों से SII ने विश्व
स्तर पर वैक्सीनो का निमार्ण कर उनकी आपूर्ति करने में अपनी क्षमता को बरकार
रखा है और आज हम एस्ट्राजेनेका के साथ मिलकर इस corona vaccine पर काम
करके खुश है  

Leave a Comment