All Govt Yojana

All Government Program Latest News Updates and more
All Government Program Latest News Updates and more. Sarkari Yojana (सरकारी योजना)
search icon

NOTICE

Free Boring Yojana 2 lakh || निशुल्क बोरिंग योजना किसान अपने खेत में बोरिंग के लिए आवेदन कर फ्री में करवाए बोरिंग

Free Boring Yojana 2023, निशुल्क बोरिंग योजना, Nishulk Boring Yojana 2023, खेत में बोरिंग के लिए आवेदन कर फ्री में करवाए बोरिंग, फ्री बोरिंग योजना आवेदन फॉर्म, फ्री में बोरिंग कैसे करवाए, फ्री ट्यूबेल योजना का फ्गोर्म कैसे भरे, किसानो को मिलेगा 2 लाख रूपए का लाभ, सरकार ने निजी लघु सिंचाई कार्यक्रम के तहत राज्य के छोटे और सीमांत किसानों के कृषि उत्पादन को बढ़ाने के लिए यूपी फ्री बोरिंग योजना शुरू की है। इस योजना के तहत राज्य के किसानों के खेतों में बोरिंग की व्यवस्था की जाएगी, ताकि किसानों को अपनी फसल उगाने में आसानी हो। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उप निशुलक बोरिंग योजना 2023 को लागू करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को मुफ्त बोरिंग की सुविधा प्रदान करना है। इस लेख में हम आपको निशुलक बोरिंग योजना 2023 से संबंधित सभी जानकारी देने जा रहे हैं, इसलिए इस लेख को पूरा पढ़ें।


Free Boring Yojana 2023, निशुल्क बोरिंग योजना, खेत में बोरिंग के लिए आवेदन कर फ्री में करवाए बोरिंग, फ्री बोरिंग योजना आवेदन फॉर्म, फ्री में बोरिंग कैसे करवाए, फ्री ट्यूबेल योजना का फ्गोर्म कैसे भरे, किसानो को मिलेगा 2 लाख रूपए का लाभ,

Nishulk Boring Yojana 2023 - निःशुल्क बोरिंग योजना का लाभ 

Free Boring Yojana 2 lakh - किसानो के लिए शुरू की निशुलक बोरिंग योजना 2023, राज्य के छोटे और सीमांत किसानों को सिंचाई सुविधा के लिए बोरिंग के लिए वित्तीय अनुदान प्रदान करती है ताकि वे अपने खेतों में बोरिंग करवाकर अपनी फसल को अच्छी तरह से तैयार कर सकें और अपनी फसल से अच्छे दाम प्राप्त कर सकें। निःशुल्क बोरिंग योजना के माध्यम से यदि किसानों की फसल अच्छी होगी तो उत्पादन में वृद्धि होगी और देश में आर्थिक विकास भी बढ़ेगा इसके साथ ही हमारे देश के किसान भी आत्मनिर्भर बन सकेंगे -पर्याप्त। यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इस लेख में हम आपको उप निशुलक बोरिंग योजना 2023 की आवेदन प्रक्रिया बताने जा रहे हैं तो इस लेख को पूरा पढ़ें।


भारत में जल संकट के कारण कृषि की असुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ रही है और ऐसे में सरकार भूमि संरक्षण की योजना बना रही है। इन योजनाओं के तहत जमीन में तालाब और पोखर बनाए जाएंगे ताकि बारिश के पानी को संग्रहित कर सिंचाई के लिए इस्तेमाल किया जा सके. इस योजना से किसानों को जल संचयन एवं सिंचाई की सुविधा मिलेगी और परिणामस्वरूप उनकी फसलों का उत्पादन भी बेहतर होगा।


किसानो को मिलेगा 2 लाख रूपए तक का लाभ 

फ्री बोरिंग योजना में किसानो को सरकार की और इस फ्री बोरिंग योजना में 2 लाख रूपए तक लाभ दिया जायगा जिसमे किसान अपने खेत में बोरिंग करवा सकता है जिसके लिए किसान फ्री ट्यूबेल (बोरिंग) योजना के लिए रजिस्ट्रेशन योजना का लाभ ले पायगा किसानो को खेती के लिए पानी आवश्यकता होती है एसे किसान अब अपने खेत में ही ट्यूबेल करवा सकता है जिसके लिए किसानो को 2 लाख रूपए का लाभ होगा सभी जिलो किसान इस योजना का लाभ ले पायंगे और किसना अपनी फ्री बोरिंग योजना के लिए फाइल लगाकर अपना रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर सकता है 


OVerview Nishulk Boring Yojana 2023 

योजना का नामयूपी निःशुल्क बोरिंग योजना
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थी सभी किसान किसान
उद्देश्यनिशुल्क बोरिंग की सुविधा उपलब्ध करवाना
आधिकारिक वेबसाइटminorirrigationup.gov.in
साल2023
TypeKisan
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

निशुल्क बोरिंग योजना के फायदे 

  • किसानो को अपने खेत में ट्यूबेल मिलेगी 
  • किसान जब चाहे अपने खेत में फाल को पानी दे पायगा 
  • बिजली से चलने वाले बोरिंग किसान के खेत हो जायगा 
  • किसानो को वर्षा नहीं होने के कारण भी कम नुकसान होगा 
  • किसान सिचाई के माध्यम से अच्छी फसल ले पायंगे 
  • अब इस योजना से किसानो को डब्बल फायदा होगा और किसानो की आय में भी बढ़ोतरी होगी 
  • किसानो द्वारा फसल खाद्य सामग्री मसाले आदि की अधिक उपज की जायगी 
  • बोरिंग करवाने के लिए किसानो को 2 लाख रूपए तक लाभ दिया जायगा 

जमीन को आधार कार्ड से लिंक कैसे करे

सहारा रिफंड फॉर्म Download पीडीऍफ़

Free Boring Yojana की विशेषता 

  • भूमि संरक्षण योजना के तहत बिहार राज्य के किसानों को बहुत सारे लाभ मिलेंगे। खासकर दक्षिण बिहार के किसानों को इस योजना से ज्यादा फायदा होगा। यहां कुछ मुख्य लाभ निम्नलिखित हैं:
  • अतिरिक्त सिंचाई क्षमता की वृद्धि: तालाब और पोखरों के निर्माण के द्वारा, किसानों को सिंचाई के लिए अतिरिक्त सिंचाई क्षमता प्राप्त होगी। इससे वे अपनी फसलों को पर्याप्त पानी से सिंचा सकेंगे और उनकी फसलों का उत्पादन बढ़ा सकेंगे।
  • भूमिगत जल का संरक्षण: योजना के अंतर्गत, भूमिगत जल की कमी के कारण बंजर हो चुकी जमीनों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। इससे जमीन की नमी बनी रहेगी और मिट्टी उपजाऊ बनेगी।
  • जल संचयन: तालाबों और पोखरों में वर्षा के जल को संचित किया जा सकेगा, जो खेतों की सिंचाई के लिए उपयोगी होगा। यह जल किसानों को खेती के लिए उपलब्ध कराने में मदद करेगा।
  • फसल सुरक्षा: सिंचाई की पर्याप्तता से किसानों की फसलों की सुरक्षा मजबूत होगी। जल संरक्षण योजना के माध्यम से, किसान खेती में जल संचयन करके अपनी फसलों को सुरक्षित रख सकेंगे।
  • वृद्धि क्षेत्रों की पहचान: योजना के तहत जल संचयन के क्षेत्रों की पहचान की जाएगी, जहां जलस्तर में लगातार गिरावट हो रही है। ऐसी पंचायतों को चिन्हित करके सरकार इन क्षेत्रों में जल संरक्षण एवं पेड़ लगाने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

Free Boring Yojana Eligibility Criteria

  • फ्री बोरिंग योजना के लिए किसान राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए 
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक किसान होना चाहिए और किसान की न्यूनतम जोत सीमा 0.2 हेक्टेयर होनी चाहिए।
  • यदि किसान के पास न्यूनतम जोत सीमा 0.2 हेक्टेयर नहीं है तो किसान समूह बनाकर इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।
  • इस मुफ्त बोरिंग योजना का लाभ उन किसानों को दिया जाएगा जिन्हें किसी अन्य सिंचाई योजना का लाभ नहीं मिला हो।
  • आवेदन करने वाले किसान के नाम से खेती करने योग्य भूमि होना चाहिए 
  • किसान उस क्षेत्र के लिए आवेदन करे जहा पानी होने की संभवाना हो 

फ्री बोरिंग योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • आधार कार्ड
  • जमाबंदी (खसरा खेतोनी)
  • गिरदावरी 
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

फॉर्म पीडीऍफ़ डाउनलोड

    Free Boring Yojana Registration Kaise Kare - फ्री बोरिंग योजना रजिस्ट्रेशन कैसे का

    निशुल्क बोरिंग योजना का आवेदन करने के लिए आप यहा दिए गए स्टेप को फॉलो करके इस योजना केलिए रजिस्ट्रेशन कर सकते है इसके साथ आपको बता दे आप इस योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते है इसके लिए आपको कृषि विभाग कार्यलय में जाकर इसके लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा |

    • आवेदक किसान को सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
    • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
    • होम पेज पर व्हाट्स न्यू के सेक्शन में जाएं और दिए गए विकल्पों में से डाउनलोड विकल्प पर क्लिक करें।
    •   क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन पत्र खुल जाएगा, जिसे आप डाउनलोड कर उसका प्रिंटआउट अपने पास रख सकते हैं।
    • फॉर्म का प्रिंटआउट प्राप्त करने के बाद फॉर्म में पूछी गई जानकारी भरें।
    • इसके साथ ही फॉर्म में मांगे गए सभी दस्तावेजों की फोटोकॉपी भी संलग्न करें।
    • फॉर्म को पूरा भरने के बाद आप इसे खंड विकास अधिकारी, तहसील या लघु सिंचाई विभाग में जमा कर दें।

    FQA - Free Boring Yojana 2 lakh

    Q:- फ्री बोरिंग में क्या मिलता है?

    Ans:- फ्री बोरिंग योजना 2023 में आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य के लघु सीमांत किसान आवेदन पत्र भरने के पात्र माने जायेंगे। योजना के तहत किसानों को कितनी अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। सरकार राज्य के छोटे किसानों को 5 हजार रुपये और सीमांत किसानों को 7 हजार रुपये का अनुदान देगी.

    Q:- निःशुल्क बोरिंग कैसे करायें?

    Ans:- निःशुल्क बोरिंग योजना में आवेदन करने के लिए यूपी सरकार की वेबसाइट tinyirrigationup.gov.in को खोलना होगा, इसके बाद योजनाओं का विकल्प चुनना होगा, फिर आवेदन पत्र का विकल्प चुनने के बाद फॉर्म खुल जाएगा. खोलें जिसे डाउनलोड कर प्रिंट आउट लिया जा सकता है। फिर सिंचाई विभाग में फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी स्पष्ट रूप से भरनी होगी

    Q:- बोरिंग कराने में कितना खर्चा आता है?

    Ans:- एक सामान्य बोरिंग पर 50 हजार से एक लाख रुपये तक का खर्च आता है. बोरिंग और केसिंग की लागत 80 से 100 रुपये प्रति फीट की दर से आती है.

    Q: ट्यूबवेल से ट्यूबवेल की दूरी कितनी होनी चाहिए?

    Ans:- हाल ही में सरकार ने आदेश दिया है कि दो ट्यूबवेलों के बीच कम से कम 100 मीटर की दूरी होनी चाहिए। विशेष परिस्थिति में इन्हें लगाने के लिए प्रशासन से अनुमति लेनी होगी. मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चंद्र मिश्र ने बताया कि प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। पहले की 70 मीटर की दूरी को बढ़ाकर 100 मीटर कर दिया गया है.

    राशन कार्ड वाले परिवारों को मिलेगी फ्री आटा चक्की

    फ्री लैपटॉप योजना में के लिए रजिस्ट्रेशन

    फसल बिमा योजना रजिस्ट्रेशन

    RECENT