Advertisement
Categories
Yojana News

Free Ration Update: सरकार जल्द बंद कर सकती है फ्री राशन योजना, ये है लेटेस्ट अपडेट

फ्री राशन योजना बंद, free ration, free ration scheme, free ration in rajasthan, free ration news, free ration card, delhi govt free ration, free ration in india, free ration yojana, free ration in up,free ration app

Free Ration Update फ्री राशन योजना बंद

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को बंद कर सकती है भारत सरकार। खाद्य विभाग की ओर से सरकार को एक सुझाव दिया गया है, जिसके बाद वह मंथन कर रहा है. सरकार ने कोरोना काल में देश के गरीब परिवारों के लिए मुफ्त हिस्से की योजना शुरू की थी। गेहूं, चावल, स्वाब, बीट्स, चीनी आदि। भाग कार्ड धारक को नि:शुल्क सौंपे जाते हैं। फिलहाल केंद्र सरकार ने इस योजना को सितंबर महीने तक बढ़ा दिया है। लेकिन अब यह योजना जल्द ही बंद हो सकती है। वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले व्यय विभाग ने सरकार को सुझाव दिया है कि इस योजना को सितंबर से आगे नहीं बढ़ाया जाना चाहिए।

Advertisement

विभाग के सुझाव पर सरकार कर रही मंथन

फ्री राशन योजना बंद – फ़ूड विभाग का कहना है कि इस योजना से देश पर वित्तीय बोझ बढ़ रहा है। पीएम फ्री राशन योजना देश के वित्तीय सेहत के लिए ठीक नहीं है। पिछले महीने पेट्रोल-डीजल पर ड्यूटी एक्साइज ड्यूटी म करने से करीब 1 लाख करोड़ का अतिरिक्त बोझ राजस्व पर पड़ा है. अगर आगे राहत दी गई तो वित्तीय बोझ और बढ़ेगा। अब कोरोना महामारी का प्रभाव कम हो गया है तो मुफ्त राशन की योजना को बंद किया जा सकता है।

सरकार की इस योजना के तहत देश के लगभग 80 करोड लोगों को मुफ्त में राशन दिया जा रहा है। इस योजना के चलते सरकार पर लगातार वित्तीय बोझ बढ़ रहा है। विभाग ने सरकार को सुझाव दिया कि अगर इस योजना को आगे 6 महीने और बढ़ाया जाता है तो फ़ूड सब्सिडी का बिल 80 करोड़ रुपये से बढ़कर करीब 3.7 लाख करोड रुपए तक पहुंच जाएगा।

फ्री राशन योजना दिल्ली हेगु चावल दाल

फ्री राशन योजना दिल्ली सरकार नई योजना – तीसरे लॉक डाउन के चलते कैबिनेट बैठक में दिल्ली सरकार ने एसे लाभार्थी जिनके पास राशन कार्ड नहीं उन्हें भी फ्री राशन कार्ड देने कि घोषणा कि है इसके साथ अन्य भी कई घोषणा कि गई जिसमे ई रिक्शा चालको को 5000रु दिने कि घोषणा कि गई है CM Arvind Kejriwal ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान दिल्ली के ड्राइवरों की मदद के लिए हम पीएसवी बैज धारकों को 5-5 हजार रुपये की सहायता दे रहे हैं,

Advertisement

लेकिन ऐसी भी जानकारी मिली है कि हजारों ई-रिक्शा चालकों के पास PSV बैज नहीं है। ऐसे में कैबिनेट ने तय किया है कि ऐसे सभी ई रिक्शा चालकों को भी पांच ₹5000 की सहायता राशि दी जाएगी।

Advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.