body{--wp--preset--color--black:#000000;--wp--preset--color--cyan-bluish-gray:#abb8c3;--wp--preset--color--white:#ffffff;--wp--preset--color--pale-pink:#f78da7;--wp--preset--color--vivid-red:#cf2e2e;--wp--preset--color--luminous-vivid-orange:#ff6900;--wp--preset--color--luminous-vivid-amber:#fcb900;--wp--preset--color--light-green-cyan:#7bdcb5;--wp--preset--color--vivid-green-cyan:#00d084;--wp--preset--color--pale-cyan-blue:#8ed1fc;--wp--preset--color--vivid-cyan-blue:#0693e3;--wp--preset--color--vivid-purple:#9b51e0;--wp--preset--color--contrast:var(--contrast);--wp--preset--color--contrast-2:var(--contrast-2);--wp--preset--color--contrast-3:var(--contrast-3);--wp--preset--color--base:var(--base);--wp--preset--color--base-2:var(--base-2);--wp--preset--color--base-3:var(--base-3);--wp--preset--color--accent:var(--accent);--wp--preset--gradient--vivid-cyan-blue-to-vivid-purple:linear-gradient(135deg,rgba(6,147,227,1) 0%,rgb(155,81,224) 100%);--wp--preset--gradient--light-green-cyan-to-vivid-green-cyan:linear-gradient(135deg,rgb(122,220,180) 0%,rgb(0,208,130) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange:linear-gradient(135deg,rgba(252,185,0,1) 0%,rgba(255,105,0,1) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-vivid-orange-to-vivid-red:linear-gradient(135deg,rgba(255,105,0,1) 0%,rgb(207,46,46) 100%);--wp--preset--gradient--very-light-gray-to-cyan-bluish-gray:linear-gradient(135deg,rgb(238,238,238) 0%,rgb(169,184,195) 100%);--wp--preset--gradient--cool-to-warm-spectrum:linear-gradient(135deg,rgb(74,234,220) 0%,rgb(151,120,209) 20%,rgb(207,42,186) 40%,rgb(238,44,130) 60%,rgb(251,105,98) 80%,rgb(254,248,76) 100%);--wp--preset--gradient--blush-light-purple:linear-gradient(135deg,rgb(255,206,236) 0%,rgb(152,150,240) 100%);--wp--preset--gradient--blush-bordeaux:linear-gradient(135deg,rgb(254,205,165) 0%,rgb(254,45,45) 50%,rgb(107,0,62) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-dusk:linear-gradient(135deg,rgb(255,203,112) 0%,rgb(199,81,192) 50%,rgb(65,88,208) 100%);--wp--preset--gradient--pale-ocean:linear-gradient(135deg,rgb(255,245,203) 0%,rgb(182,227,212) 50%,rgb(51,167,181) 100%);--wp--preset--gradient--electric-grass:linear-gradient(135deg,rgb(202,248,128) 0%,rgb(113,206,126) 100%);--wp--preset--gradient--midnight:linear-gradient(135deg,rgb(2,3,129) 0%,rgb(40,116,252) 100%);--wp--preset--duotone--dark-grayscale:url('#wp-duotone-dark-grayscale');--wp--preset--duotone--grayscale:url('#wp-duotone-grayscale');--wp--preset--duotone--purple-yellow:url('#wp-duotone-purple-yellow');--wp--preset--duotone--blue-red:url('#wp-duotone-blue-red');--wp--preset--duotone--midnight:url('#wp-duotone-midnight');--wp--preset--duotone--magenta-yellow:url('#wp-duotone-magenta-yellow');--wp--preset--duotone--purple-green:url('#wp-duotone-purple-green');--wp--preset--duotone--blue-orange:url('#wp-duotone-blue-orange');--wp--preset--font-size--small:13px;--wp--preset--font-size--medium:20px;--wp--preset--font-size--large:36px;--wp--preset--font-size--x-large:42px;--wp--preset--spacing--20:0.44rem;--wp--preset--spacing--30:0.67rem;--wp--preset--spacing--40:1rem;--wp--preset--spacing--50:1.5rem;--wp--preset--spacing--60:2.25rem;--wp--preset--spacing--70:3.38rem;--wp--preset--spacing--80:5.06rem}:where(.is-layout-flex){gap:0.5em}body .is-layout-flow > .alignleft{float:left;margin-inline-start:0;margin-inline-end:2em}body .is-layout-flow > .alignright{float:right;margin-inline-start:2em;margin-inline-end:0}body .is-layout-flow > .aligncenter{margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained > .alignleft{float:left;margin-inline-start:0;margin-inline-end:2em}body .is-layout-constrained > .alignright{float:right;margin-inline-start:2em;margin-inline-end:0}body .is-layout-constrained > .aligncenter{margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained >:where(:not(.alignleft):not(.alignright):not(.alignfull)){max-width:var(--wp--style--global--content-size);margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained > .alignwide{max-width:var(--wp--style--global--wide-size)}body .is-layout-flex{display:flex}body .is-layout-flex{flex-wrap:wrap;align-items:center}body .is-layout-flex > *{margin:0}:where(.wp-block-columns.is-layout-flex){gap:2em}.has-black-color{color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-color{color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-color{color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-color{color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-color{color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-color{color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-color{color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-color{color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-black-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-black-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-vivid-cyan-blue-to-vivid-purple-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--vivid-cyan-blue-to-vivid-purple) !important}.has-light-green-cyan-to-vivid-green-cyan-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--light-green-cyan-to-vivid-green-cyan) !important}.has-luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-orange-to-vivid-red-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-vivid-orange-to-vivid-red) !important}.has-very-light-gray-to-cyan-bluish-gray-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--very-light-gray-to-cyan-bluish-gray) !important}.has-cool-to-warm-spectrum-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--cool-to-warm-spectrum) !important}.has-blush-light-purple-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--blush-light-purple) !important}.has-blush-bordeaux-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--blush-bordeaux) !important}.has-luminous-dusk-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-dusk) !important}.has-pale-ocean-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--pale-ocean) !important}.has-electric-grass-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--electric-grass) !important}.has-midnight-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--midnight) !important}.has-small-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--small) !important}.has-medium-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--medium) !important}.has-large-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--large) !important}.has-x-large-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--x-large) !important}.wp-block-navigation a:where(:not(.wp-element-button)){color:inherit}:where(.wp-block-columns.is-layout-flex){gap:2em}.wp-block-pullquote{font-size:1.5em;line-height:1.6} .separate-containers .inside-article>.featured-image{margin-top:0;margin-bottom:2em;display:none}

गुजरात श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण दस्तावेज पात्रता gujarat labour & employment department

labour card online apply gujarat, गुजरात लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण, gujarat labour & employment department, गुजरात लेबर कार्ड कैसे बनवाएं, gujarat labour license application, gujarat contract labour registration,

labour card online apply gujarat, गुजरात लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण, gujarat labour & employment department, गुजरात लेबर कार्ड कैसे बनवाएं, gujarat labour license application, gujarat contract labour registration,

Labour card online apply gujarat – गुजरात श्रमिक कार्ड

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बतायेगे कि गुजरात श्रमिक कार्ड क्या है और आप इसका आवेदन किस प्रकार कर सकते है और इसका लाभ कोन कोन ले सकता है क्योंकि सरकार कि और से राज्य के हर मजदूर के लिए लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड के रूप में एक अहम दस्तावेज जारी किया है गया है जिसके माध्यम से हर योजना का लाभ मिल सकता है तो आइये जानते है इसके आवेदन के बारे में और इसके आवेदन में लगने वाले दस्तावेजों के बारे में

गुजरात श्रमिक कार्ड (Gujrat Shrmik Card):-

गुजरात लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड एक एसा कार्ड है जिसके माध्यम से गुजरात राज्य के हर मजदूर और उसके परिवार को सरकारी हर योजना का लाभ बड़ी आसानी से मिल सकता है क्योंकि ये मजदूर के पास मजदूर होने का एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है इस कार्ड के जरिये श्रम विभाग में उस मजदूर का पंजीकरण हो जाता है जो इसके लिए आवेदन करता है

लेबर कार्ड के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है कुछ लोग इसका ऑफलाइन आवेदन नही करना चाहते है क्योंकि ऑफलाइन आवेदन में थोडा समय निकालना पड़ता है और मजदूरों के पास इतना टाइम नही होता है क्योंकि इसके लिए द्फफ्त्रों के चक्कर भी लगाने पद जाते है मगर यदि चाहे तो इसका घर बैठे भी ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है तो आइये जानते है इसका आवेदन करने का तरीका

[Dairy Loan] डेयरी लोन सब्सिडी आवेदन फॉर्म

Yojana गुजरात श्रमिक कार्ड
Location Gujrat
Yojana Type Majdoor Scheme
Official Website https://gujratlcard.gov.in/

गुजरात लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड उदेश्य:-

गुजरात श्रमिक कार्ड बनाने का सरकार का मुख्य उदेश्य है कि राज्य के सभी मजदूरों के पास एक एसा कार्ड होना चाहिए जो इस बात का प्रमाण हो कि ये मजदूर है और इनको सरकार कि हर योजना का लाभ मिले जो सरकार कि और से इनके हित के लिए शुरु कि गई हो जैसे मजदूरों को मकान,बिजली कनेक्शन,चिकित्सा सेवायें,महिलाओं को लाभ,मजदूर को दुर्धटना बिमा पॉलिसी का लाभ तथा और भी कई योजना का लाभ मजदूरों को मिलना चाहिए

Gujrat लेबर कार्ड का आवेदन करने के बाद मजदूर का श्रम विभाग कल्याण बोर्ड में पंजीकृत हो जाता है इसका आवेदन सिर्फ मजदूर लोग हि आवेदन कर सकते है राज्य में बहुत से ऐसे गरीब मजदूर परिवार है जो कमजोर आर्थिक स्तिथि से गुजर रहे है जिनके रोज के कमाने से घर का खर्चा चलता है कुछ मजदूरों के बच्चों को भी काम पर जाना पड़ जाता है मगर अब एसा नही है सरकार के इस प्लान के तहत हर मजदूर का पंजीकरण हो रहा है और उसको हर सरकारी योजना का लाभ दिया जा रहा है अगर आपने अभी तक पंजीकरण नही करवाया है तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ कर आवेदन आकर सकते है

labour card online apply gujarat कोन आवेदन कर सकता है?

गुजरात श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन निम्न श्रेणी के मजदूर कर सकते है इनमे से कुछ इस प्रकार है

  • राज मिस्त्री
  • कारपेंटर
  • वेल्डर
  • बढई
  • बाँध बनाने वाले
  • चुना पत्थर बनाने वाले
  • पुताई का काम करने वाले
  • हतोड़ा चलाने वाले
  • रंगाई का काम करने वाले
  • सीमेंट ढोने वाले
  • छप्पर छाने वाले
  • लोहार
  • भवन निर्माण करने वाले
  • सड़क निर्माण करने वाले
  • रोलर चालक
  • नरेगा में काम करने वाले मजदूर
  • सेटरिंग लोहा का काम करने वाले मजदूर
  • इट भट्टों पर काम करने वाले आदि

इन योजनाओं का लाभ मिलता है:-

अगर आप गुजरात राज्य से है और मजदूर कार्ड/लेबर कार्ड के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस कार्ड के तहत बहुत सि योजनाओं का लाभ सरकार कि और से मजदूरों को दिया जाता है जिनमे से कुछ योजना इस प्रकार है

क्र.सं. योजना
1 मजदूर साइकिल सहायता योजना
2 मजदूर ओजार सहायता योजना
3 अंत्येष्टि सहायता योजना
4 मातृत्व प्रसूति योजना
5 विवाह सहायता योजना
6 पेंशन योजना
7 मेघावी पुत्र/पुत्री छात्रवृति योजना
8 चिकित्सा सहायता योजना
9 विकलांगता पेंशन योजना
10 अन्नाथ पेंशन योजना
11 श्रमिक सेफ्टी किट योजना
12 श्रमिक बिमा सहायता योजना
13 श्रमिक निर्माण दुर्घटना सहायता योजना

गुजरात श्रमिक कार्ड के आवेदन के लिए आयु सीमा कितनी है?

अगर कोई मजदूर इस लेबर कार्ड के लिए आवेदन करना चाहता है तो इसके आवेदन के लिए 18 साल से लेकर 40 साल तक इसकी आयु सीमा रखी गई इसके बाद यानी 40 वर्ष से अधिकायु का मजदूर इस कार्ड के लिए आवेदन नही कर सकता है

मजदूर कार्ड से होनेवाले लाभ:-

लेबर कार्ड/मजदूर कार्ड से होने वाले लाभ निम्न प्रकार है

  • इस कार्ड से हर पंजीकृत मजदूर कि कमजोर आर्थिक स्तिथि में सुधार होगा
  • मजदूर कि पत्नी को प्रसव के समय 15000 रूपये कि आर्थिक सहायता दी जाती है
  • मजदूर के बच्चो को साइकिल सरकार कि तरफ से मुफ्त दी जाती है ताकि जब बच्चें दूर पढने जाते तो स्कुल पहुचने में देरी न हो
  • अगर किसी मजदूर को विकलांगता अपना शिकार बना लेती है तो सरकार कि और से आर्थिक मदद कि जाती है
  • मजदूर को हर प्रकार कि चिकित्सा सुविधा दी जाती है ताकि इलाज के अभाव में किसी मजदूर कि मृत्यु न हो
  • अगर कोई मजदूर किसी बिमा पॉलिसी का भुगतान कर रहा हो और लेबर कार्ड के लिए पंजीकृत करवा दिया गया है आगे का प्रीमियम सरकार कि और से भरा जाएगा
  • यदि किसी कारणवंस किसी पंजीकृत मजदूर कि मोत हो जाती है तो उसके परिवार को राज्य सरकार कि और से 1.5 लाख रूपये कि आर्थिक मदद कि जाती है  

श्रमिक कार्ड के आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज:-

अगर आप भी इस श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन करना चाहते है तो इसमें लगने वाले दस्तावेज निम्न प्रकार है

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पास बुक
  • जाती प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मूलनिवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • नरेगा जॉब कार्ड
  • ठेकेदार के पास काम करने का प्रूफ

गुजरात श्रमिक कार्ड/लेबर कार्ड के लिए आवेदन कैसे करे?

अगर आपको श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन करना है तो आप अपने किसी नजदीकी E-Mitra (CSC) पर जाकर बताये गये दस्तावेजों कि मदद से आवेदन कर सकते है या फिर आप इसका आवेदन ऑनलाइन तरीके से खुद भी कर सकते है

  • सबसे पहले आपको इसकी Official Website पर जाना होगा इसके लिए यहाँ क्लिक करे
  • इसके बाद आपके सामने इसका मुख्य पेज खुलेगा 
  • इस पेज में आपको New Registration का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर ओके करना है
  • इसके बाद आपके सामने दूसरा पेज खुलेगा
  • इस पेज में आपको आपका नाम,जन्म तिथि,पिता का नाम,तथा और भी कुछ जानकारी मांगी जायेगी जो सही सही भरनी है और ओके कर देना है
  • अब आपको आगे के पेज में बताये गये दस्तावेजों को अपलोड करना है और Submit कर देना है
  • फिर आपके सामने एक पेज और ओपन होगा जिसमे कुछ और जानकारी भरनी है और ओके कर देना है
  • और इस प्रकार आपका आवेदन पूरा हो जाएगा और कुछ दिनों बाद आपका लेबर कार्ड सरकार कि और से जारी कर दिया जाएगा अगर आप चाहे तो अपना नाम सूचि में चैक कर सकते है

गुजरात श्रमिक कार्ड हेल्पलाइन नंबर:-

गुजरात श्रमिक कार्ड/लेबर कार्ड हेल्पलाइन नंबर पर आप इसके बारे में और अधिक जानकरी प्राप्त कर सकते है – 18001800999

Telegram Icon
Join Our Telegram Group
Telegram Icon
Join Our Telegram Group

6 thoughts on “गुजरात श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण दस्तावेज पात्रता gujarat labour & employment department”

  1. 23-Mar-2020 — Official पोर्टल: Click New23-Mar-2020 —(7478122973) PM KISAN YOJANA HELPLINE NUMBER (7478122973)किसान योजना हेल्पलाइन

  2. 23-Mar-2020 — Official पोर्टल: Click New23-Mar-2020 —(7478122973) PM KISAN YOJANA HELPLINE NUMBER (7478122973)किसान योजना हेल्पलाइन 23-Mar-2020 — Official पोर्टल: Click New23-Mar-2020 —(7478122973) PM KISAN YOJANA HELPLINE NUMBER (7478122973)किसान योजना हेल्पलाइन

Leave a Comment

RECENT