Insomnia ka karan or symptoms,bachav-अनिंद्रा का कारण ,लक्षण ,बचाव

Insomnia ka karan or symptoms,bachav-अनिंद्रा या नींद न आने की
समस्या को पहचान कर समय पर उसका इलाज करवाना बहुत आवश्यक होता है
अगर समस्या नॉर्मल हो तो इसका इलाज अपनी दिनचर्या व आदतों को सुधार कर
ओर अपने खान पान मे बदलाव लाकर किया जा सकता है कुच्छ घरेलू उपाय भी है
जिनके द्वारा Insomnia को नियत्रित किया जा सकता है जिन लोगो को इस प्रकार
की समस्या नही होती है उनको यह नॉर्मल लगता है लेकिन जो इससे पीड़ित होते है
उनके लिय यह बहुत बड़ी समस्या होती है

Insomnia क्या है -आप दिन भर पूर्ण रूप से कार्य करने के बाद भी अनिंद्रा की शिकायत
आप को होती है तो इसके कई कारण हो सकते है जैसे -मानसिक तनाव ,तीव्र मन मे
कड़वाहट,लालसा, द्वेष की भावना रखना ,ईर्ष्या ,कार्य क्षेत्र पर किसी घटना का अकस्मात
या अचानक होना आदि कारण हो सकते है दिन भर की थकान के बाद भी सो नही पाना यह
बहुत बड़ी समस्या होती है क्यो की एक गहरी व अच्छी नींद ही आपको अगले दिन कार्य
करने के लिय तैयार करती है आप जानते है की घबराहट भी अनिंद्रा का एक बहुत बड़ा कारण होता है !

insomnia

अनिंद्रा का कारण –

insomnia के कई कारण हो सकते है जैसे-शारीरिक परेशानी जैसे-कब्ज ,गेस ,आफरा ,कोई
शरीर से संबन्धित पीड़ा व शराब का अत्यधिक सेवन इस प्रकार के कई कारण हो सकते है
अचानक मोसम मे बदलाव जैसे -अधिक सर्दी व गर्मी के कारण अनिंद्रा की स्थिति बन जाती
है ये सभी एक्यूत Insomnia के उदाहरण है यह अनिंद्रा की स्थिति थोड़े समय के लिय
होती है लेकिन अनिंद्रा की बीमारी अगर अधिक समय के लिय हो जाए जैसे -कुच्छ महीनो
से कुच्छ वर्षो के लिय तो इसे क्रोनिक Insomnia कहते है !

इसके कई कारण होते है जैसे-तनाव ,चिंता ,अवसाद ,स्ट्रोक,महिलाओ मे रजोनिवर्ति की
समस्या ,किसी ड्रग्स का दुसप्रभाव कोई न्यूरोलोजिकल बीमारी का होना ,सिने मे जलन
होना ,अस्थमा जैसी बीमारी का होना ,हार्ट से संबन्धित बीमारी का होना आदि !

Insomnia के लक्षण –

अनिंद्रा के लक्षण कुच्छ इस प्रकार के हो सकते है जैसे -सोने के बाद अधिक देर तक जागना
ऐसा तब होता है जब आप सोने से पहले किसी मोबाइल फोन ,टीवी ,लेपटोप आदि का
अधिकउपयोग किया गया हो ,रात्री को कुच्छ समय के लिय नींद आना फिर जाग जाना व
फिर बाद मे नींद का नही आना बहुत ही जल्दी नींद का खुल जाना ,ऐसा फिल होना की आप
बिल्कुल ही नही सोए है नींद खुलने या न आने पर मिनटो (समय )का हिसाब लगाना
,व्यक्ति तनाव से ग्रसित हो जाता है उसकी दिनचर्या मे बदलाव आ जाता है ओर वह समय
के अनुरूप नही चलता है !

Rabies ke karan lakshan bachav-रेबीज का कारण लक्षण ओर बचाव

Insomnia से बचाव –

नियमित तोर पर रनिग करे ओर रनिग के साथ साथ मस्थिस्क से समन्धित योगा भी
करे योगा से चित शांत होता है जिस कारण आपको रात्री मे आराम दायक नींद आएगी
ओर नींद बीच मे टूटेगी भी नही ,अगर आप नींद लेने के अलावा अधिक समय बिस्तर
पर लेटे रहते है तो इस आदत को बदल दीजिये क्यो की नींद न आने का यह भी एक
बहुत बड़ा कारण हो सकता है सोने के बाद किसी बात पर अधिक समय के लिय सोचने
या विचार करने की अगर आदत है तो उसे बदल दीजिये क्यो की ऐसा करने से
मस्थिस्क मे अशांति पैदा होती है जो अनिंद्रा का एक कारण है!

Cancer:Causes,Symptoms-कैंसर के होने का कारण,लक्षण व बचाव

One Reply to “Insomnia ka karan or symptoms,bachav-अनिंद्रा का कारण ,लक्षण ,बचाव”

Leave a Reply

Your email address will not be published.