Jharkhand Labour Card Scheme झारखण्ड लबोर कार्ड योजना

Jharkhand लेबर कार्ड कैसे बनाए, झारखण्ड लेबर कार्ड योजना, मजदुर कार्ड के फायदे, Jharkhand labour card kaise banay, shrmik card Jharkhand, shrmik card yojan, majdur card yojana,

झारखंड देश के सबसे उच्च औद्योगिक राज्यों में से एक है। झारखंड पूर्वी भारत का एक राज्य है। 15 नवंबर 2000 को बिहार के दक्षिणी भाग से इसकी नक्काशी की गई थी। झारखंड उत्तर, उत्तर प्रदेश और छत्तीसगढ़ से लेकर पश्चिम में ओडिशा, दक्षिण में पश्चिम बंगाल और पूर्व में पश्चिम में बिहार की सीमा से लगा हुआ है। रांची शहर इसकी राजधानी है और दुमका उप राजधानी है जबकि जमशेदपुर राज्य का सबसे बड़ा और सबसे बड़ा औद्योगिक शहर है। झारखंड अपने समृद्ध खनिज संसाधनों जैसे यूरेनियम, मीका, बॉक्साइट, ग्रेनाइट, सोना, चांदी, ग्रेफाइट, मैग्नेटाइट, डोलोमाइट, फायरक्ले, क्वार्ट्ज, फील्ड्सपर, कोयला (भारत का 32%), लोहा, तांबा (भारत का 25%) के लिए प्रसिद्ध है।

आदि वन और वुडलैंड राज्य के 29% से अधिक पर कब्जा करते हैं जो भारत में सबसे अधिक है। झारखंड व्यापार और अर्थव्यवस्था केंद्र क्षेत्र में रखे जाने वाले विभिन्न उद्योगों को पूरा करते हैं। झारखंड में व्यवसाय और अर्थव्यवस्था झारखंड के प्रशासनिक तंत्र का एक महत्वपूर्ण घटक प्रतीत होता है; यह झारखंड सरकार का यह पहलू है जो सरकार को इस औद्योगिक दुनिया की चुनौतियों का सामना करने में मदद कर रहा है।

झारखण्ड लबोर कार्ड योजना

झारखंड के व्यापार और अर्थव्यवस्था के बारे में बात करते हुए, यह कहा जा सकता है कि झारखंड में भारत में दो प्रमुख इस्पात संयंत्र हैं। बोकारो में स्टील प्लांट और टाटा आयरन एंड स्टील कंपनी झारखंड के क्षेत्र के भीतर रखे गए दो प्रमुख संयंत्र हैं। ये इस्पात संयंत्र न केवल झारखंड, बल्कि भारत की अर्थव्यवस्था में योगदान करते हैं।

राज्य के पास असंगठित क्षेत्र में बड़ी संख्या में कार्य बल भी है। 2011 की जनगणना के आंकड़ों के अनुसार 3.29 करोड़ जनसंख्या में से लगभग। 1.98 करोड़ की आबादी गैर-कामकाजी है। श्रम ब्यूरो द्वारा आयोजित रोजगार और बेरोजगारी सर्वेक्षण 2013-14 पर श्रम का सुझाव है कि श्रम बल भागीदारी दर (प्रति हजार) 15 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए और वर्तमान साप्ताहिक स्थिति दृष्टिकोण के अनुसार 489 थी जो राष्ट्रीय से नीचे थी। औसतन 525. एनएसएसओ की सर्वेक्षण रिपोर्ट बताती है कि संगठित क्षेत्र में केवल 15.6 लाख लोग कार्यरत थे। इसका अर्थ यह है कि अप्रोक्स.90% कार्यबल असंगठित क्षेत्र में कार्यरत है।

असंगठित क्षेत्र मोटे तौर पर ऐसे सभी कारखानों, दुकानों और प्रतिष्ठानों को कवर करता है जिनमें 10 से कम श्रमिक, स्वरोजगार और कृषि श्रमिक हैं।

नागरिक इस पोर्टल का उपयोग निम्नलिखित उद्देश्यों के लिए कर सकते हैं-

  • विभिन्न श्रम अधिनियमों के बारे में जानकारी प्राप्त करना
  • दुकान और स्थापना अधिनियम के तहत स्थापना पंजीकरण
  • दुकान और स्थापना अधिनियम के तहत पंजीकरण प्रमाणपत्र में संशोधन
  • अनुबंध श्रम अधिनियम के तहत प्रधान कर्मचारी पंजीकरण
  • अनुबंध श्रम अधिनियम के तहत पंजीकरण प्रमाणपत्र में संशोधन
  • कारखानों अधिनियम के तहत मानचित्र स्वीकृति
  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण अधिनियम के तहत स्थापना पंजीकरण
  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण अधिनियम के तहत पंजीकरण प्रमाण पत्र में संशोधन
  • अनुबंध श्रम अधिनियम के तहत ठेकेदार लाइसेंसिंग
  • अनुबंध श्रम अधिनियम के तहत ठेकेदार लाइसेंस में नवीकरण
  • फैक्ट्री अधिनियम के तहत फैक्टरी लाइसेंस के लिए पंजीकरण
  • फैक्ट्री अधिनियम के तहत फैक्ट्री लाइसेंस में नवीकरण
  • बॉयलर अधिनियम के तहत बॉयलर पंजीकरण
  • बॉयलर अधिनियम के तहत बॉयलर पंजीकरण का नवीकरण
  • फैक्ट्री अधिनियम के तहत कारखाना लाइसेंस में संशोधन
  • भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण अधिनियम के तहत उपकर भुगतान
  • निर्माण श्रमिक पंजीकरण
  • समेकित ऑनलाइन रिटर्न
  • बीओसी कार्यकर्ता योजना लाभ
  • अनुबंध श्रम अधिनियम के तहत ठेकेदार लाइसेंस में संशोधन
Jharkhand लेबर कार्ड कैसे बनाए, झारखण्ड लेबर कार्ड योजना, मजदुर कार्ड के फायदे, Jharkhand labour card kaise banay, shrmik card Jharkhand, shrmik card yojan, majdur card yojana,

झारखण्ड लेबर कार्ड योजना क्या है?

Jharkhand Labour Card Scheme – असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरो के लिए शुरू कि गई योजना जिससे गरीब मजदूरो को आगे बढाने व उनकी आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए इस योजना को शुरू किया गया देश में बहुत से जिससे मजदूरो को उनकी सही मजदूरी मिले व किसी अन्याय से मजदूरो को बचाया जा सके Sarkar ने मजदूरो को सहायता देने के लिए कई तरह Yojana शुरू कि है जो Jharkhand Labour Card Yojana के अंतर्गत आती है और इन योजना का लाभ मजदुर कार्ड धारक ले सकते है

YojanaLabour Card
LocationJharkhand
Yojana TypeCM Yojana
Official Websitehttps://shramadhan.jharkhand.gov.in
Post UpdateAugust 2020

झारखण्ड लेबर कार्ड योजना का उद्देश्य Jharkhand Labour Card Form:-

बहुत से मजदुर है जिन्हें समय पर मजदूरो नहीं मिलती है साथ में कई एसे मजदुर है जो सिर्फ एक वक्त कि रोटी कमा सकते है एसे मजदूरो को आगे बढ़ाने के लिए सरकार ने मजदूरो के विकास के लिए एक Deparment बनाया Labour Deparment ये डिपार्टमेंट मजदूरो के लिए समय समय पर नई नई योजनाओ कि घोषणा आवश्यकता अनुसार करता है और असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरो कि देख रेख करता है जिससे मजदूरो को सही लाभ मिल सके

असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदुर कोन से होते है ?

यहा देख List जो असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरो कि श्रेणी में आते है ये मजूदर अपना मजदुर कार्ड बना सकते है

1- अकुशल कारीगर और भवन और सड़क निर्माण के कार्यकर्ता
2- राजमिस्त्री
3- राजमिस्त्री हेल्पर
4- बढ़ई
5- लोहार
6- पेंटर
7- इलेक्ट्रीशियन
8- टाइल मिस्त्री
9-केन्द्रित और लोहे का बांधना
10 – गेट ग्रिल वेल्डिंग रिड्यूसर
11- कंक्रीट मिक्सर
12- सीमेंट घोल मिक्सर
13- रोलर चालक
14 – सड़क पुल आदि बनाने वाले कारीगर और सहायक।
15- मनरेगा कार्य में बागवानी और वानिकी को छोड़कर श्रमिक
इसके अलावा, मजदुर कार्ड योजना में मजदुर कारीगरों की कई श्रेणियां शामिल हैं।

झारखण्ड लेबर कार्ड योजना के ऑनलाइन रेजिस्ट्रेशन दस्तावेज

Jharkhand Labour card के लिए आवश्यक दस्तावेज में आपको एक फोटो ,
एक ID प्रूफ ,
आधार कार्ड या परिचय पत्र ,
Ration Card
बैंक पास बुक ,
इन डॉक्यूमेंट के साथ आप बड़ी आसानी से लेबर कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते है

लेबर कार्ड के लिए ऑनलाइन रेजिस्ट्रेशन Jammu-Kshmir Labour Card Form:-

सर्वप्रथम एड्रेस बार पर “https://shramadhan.jharkhand.gov.in”टाइप करें और इंटर बटन को दबाएँ |

अब आपके सामने उत्तर प्रदेश लेबर डिपार्टमेंट की वेबसाइट खुल गयी है |
यदि हिंदी में Website देखना चाहते हैं तो “हिंदी” बटन पर क्लिक करें |
अब “अधिनियम प्रबंधन प्रणाली (Online Registration and Renewal)” लिंक पर क्लिक करें|
अब आपके सामने “Labour Act Management System” Website खुल गयी है
अब यहाँ से आप अपनी भाषा का चयन कर सकते हैं |
यदि हिंदी में देखना चाहते हैं तो ‘हिंदी’ भाषा का चुनाव करे |

Leave a Reply

Your email address will not be published.