Holi 2020 होलिका दहन व पूजन महत्व पूर्ण दिन व तारीख

होलिका दहन व पूजनहोली दहन, कब है होली, होली के महत्वपूर्ण महूर्त, होली पूजन Holi Kab Hai, Holi 2020 Date, Holika Dahan 2020 Shubh Muhurat In Hindi होलिका दहन व पूजन

होलिका दहन व पूजन

होलिका दहन व पूजन Important for Holi Festival 2020

भारत देश का महत्वपूर्ण त्यौहार है होली जो देश में नहीं बल्कि विदेशो में भी मनाया जाता है

प्रह्लाद के पिता हिरनाकुश जो अपने आप को भगवान मानता था इसी लिए वो अपने पुत्र प्रह्लाद को भगवन को भुलाने के लिए कई तरह की कोशशि करता रहा प्रह्लाद भगवन विष्णु का बड़ा भगत था हिरनाकुश ने अपनी बहन होलिका जिसे वरदान था की उसे अग्नि भी जला नहीं सकती

इसी वरदान के साथ हिरनाकुश ने प्रह्लाद को मारने के लिए अपने बहन के साथ अग्नि पर बिठा दिया

जिसके बाद होलिका ने अपने वरदान का गलत उपयोग किया है और वो जलकर राख हो गई और विष्णु भगवन के सचे भगत प्रह्लाद को अग्नि भी जला नहीं सकी इसी धार्मिक घटना पर होली का त्यौहार हिन्दू धर्म में तब से लेकर अब तक मनाया जाता है जिससे साफ संकेत मिलते है कि पाप का हमेशा विनाश होता है और धर्म और इश्वर पर आस्था रखने वालो का कोई कुछ नहीं बिगड़ सकता

होलिका दहन व पूजन Holi 2020 KAB HAI

होली 2020 में 9 मार्च को मनाई जायगी 10मार्च को रंगों से खेलने का दिन होगा Holi दहन पर कई तरह कि परम्पराय है

होलिका दहन का शुभ मुहूर्त – होलिका दहन – 9 मार्च 2020 संध्या काल में– 06 बजकर 22 मिनट से 8 बजकर 49 मिनट तक भद्रा पुंछा – सुबह09 बजकर 50 मिनट से 10 बजकर 51 मिनट तक भद्रा मुखा – सुबह 10 बजकर 51 मिनट से 12 बजकर 32 मिनट तक

फ्री बिजली योजना आसान क़िस्त योजना के लिए 31 मार्च तक होंगे आवेदन

होलिका दहन व पूजन Holi worship

होली के दिन अलग अलग महिलाए अलग अलग तरह से होली कि पूजा भी करती है शास्त्रो के अनुसार होली दहन के बाद होली कि सिल्गती हुई राख अपने घर लेकर उसे ठंडा करने से मनोकामना पूरी होती है होली दहन से पहले महिलाए होलिका की पूजा भी कराती है 10 मार्च को रंगों से खेलने का दिन होगा Holi दहन पर कई तरह कि परम्पराय है भारत देश का महत्वपूर्ण त्यौहार है होली जो देश में नहीं बल्कि विदेशो में भी मनाया जाता है

Thanks for Comment