कृषि निर्यात किसान योजना – Kisan Krishi Niryat yojana Update

Krishi Niryat yojana Update |कृषि निर्यात किसान योजना | किसान योजना कृषि निर्यात Kisan News किसान योजना नोडल एंजेंसियों कि घोषणा कि

kisan yojana किसान निर्यात योजना
कृषि निर्यात किसान योजना

क्या है कृषि निर्यात योजना Quid consilii agriculturae export

किसानो कि आय दुगना करने के लिए के लिए देश कि केंद्र सरकार व राज्य सरकारे नई नई योजना आजमा रही है हाल मे किसानो कि आय बढ़ाने के लिए देश मे आठ राज्यो कि सरकारो ने कृषि निर्यात को दुगना करने कि योजना तयार कि है जिसमे महाराष्ट्र उत्तरप्रदेश पंजाब ओर कर्नाटक नागालेंड तमिलनाडु असम आदि सामील है कृषि नियत को सरकारे दो गुना करने के लिए नई एजेंसी तयार करेगी जिससे किसानो द्वारा पैदा किया गया अनाज विदेशो मे भी निर्यात किया जायगा जिससे अनाज कि खपत होगी ओर देश मे भी किसानो द्वारा पैदा होने वाले अनाज कि मांग बढ़ेगी

जिस अनाज कि मांग बढ़ेगी उस अनाज कि कीमत भी बढ़ेगी कृषि निर्यात योजना इस टीआरएच काम करेगी

Kisan Karj Mafi List किसान कर्ज माफी सूची

योजना का नामकृषि निर्यात योजना
LocationAll State
योजना टाइपप्रधानमंत्री योजना
योजना का लाभकिसानो कि आय में वर्धि

कृषि निर्यात एजेंसी व नोडल अधिकारी नामित

कृषि निर्यात को बढ़ावा देने के लिए कई राज्यो ने कृषि निर्यात एजेंसी व अधिकारिओ को भी नामित कर दिया है कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) कृषि निर्यात नीति के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए राज्य सरकारों की अधिक भागीदार सुनिश्चित करने को एक केंद्रित रुख अपना रहा है। एपीडा ने पूरे साल के दौरान राज्य सरकारों के अधिकारियों तथा अन्य अंशधारकों के साथ राज्य कार्रवाई योजना तैयार करने को कई बैठकें कीं जिसमे सभी मुद्दो पर चर्चा कि गई खाद क्लस्टर निर्माण क्षमता आदि सामील है

किसान कृषि निर्यात मे कृषि कल्याण योजाने , डेयरी पशु पालन खाद प्रसंस्करण आदि सामील है

कई राज्यों ने राज्य स्तर की निगरानी समितियों का गठन किया

कृषि नियत को बढ़ावा देने केलिए कई राज्यो मे राज्य स्तर कि कृषि समितियों का गठन किया है इस नीति के क्रियान्वयन को एपीडा की ओर से कई संगोष्ठियों व बैठकों का आयोजन किया गया है। सहकारिताओं की सक्रिय भूमिका के लिए राष्ट्रीय सहकारी विकास के साथ सहमति पर दस्तखत किए गए किसानों की आय को दोगुना करना है। कई राज्यों ने इसके लिए नोडल एजेंसी और नोडल अधिकारी नामित कर दिए हैं।

महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, नगालैंड, तमिलनाडु, असम, पंजाब और कर्नाटक ने राज्य कार्रवाई योजना को अंतिम रूप दे दिया है

1 Comment

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.