कृषि इनपुट योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए करे इन दस्तावेजों का इस्तेमाल होगा लाभ~Online Document

कृषि इनपुट योजना, krishi input subsidy scheme 2021, krishi input anudan form pdf,कृषि इनपुट योजना ऑनलाइन आवेदन, kisan input subsidy,

Krishi Input Subsidy Scheme-आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताना चाहेगे कि बिहार राज्य कि तत्कालीन सरकार कि और से इस योजना कि सुरुआत कि गई है इस योजना का लाभ सिर्फ किसान वर्ग को हि दिया जा रहा है इसलिए इसमें सिर्फ किसान हि अपना आवेदन कर सकते है राज्य में जिन किसानो कि फसलों का नुकसान प्राक्रतिक आपदा के कारण हो जाता है उन किसानो कि फसल के नुकसान कि भरपाई के लिए बिहार सरकार कि तरफ से उनके बैंक खातों में 13500-13500 रूपये प्रति हेक्टेयर के हिसाब से धनराशी भेजी जाती है ताकि किसानो कि कमजोर आर्थिक स्तिथि में सुधार लाया जा सके इस योजना को किन किन राज्यों में लागू किया गया है तथा इसके आवेदन में कोन कोन से दस्तावेज काम में लिए जायेगे इसके बारे में हम आपको बतायेगे आइये जाने इसके बारे में

कृषि इनपुट योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए करे इन दस्तावेजों का इस्तेमाल होगा लाभ~Online Document

Krishi Input Subsidy Scheme (कृषि इनपुट योजना ऑनलाइन आवेदन):-

बिहार राज्य के मुख्यमंत्री नितीश कुमार यादव ने इस योजना कि सुरुआत कि है इस कृषि इनपुट योजना किसानो को प्राक्रतिक आपदा के कारण होने वाले फसल कि नुकसान कि भरपाई के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रोत्साहन के रूप में दी जाती है ताकि किसान कृषि कार्यों में लगा रहे क्योंकि सरकार को डर है कि कही किसानो को ने हर साल होने वाली इस प्राक्रतिक आपदा के कारण फसल कि बुआई बंद कर दी तो राज्य काफी मुश्किलों में पड़ जाएगा इसी उदेश्य से इस योजना को शुरु किया गया है

बिहार सरकारी योजनाओं कि सूचि चैक करने के लिए क्लिक करे:-

जो किसान अस्निचित क्षेत्र में फसल कि बुआई करते है और प्राक्रतिक आपदा से फसल खराब हो जाती है तो उसको प्रति हेक्टेयर के हिसाब से 6800 रूपये कि धन राशि दी जायेगी जो किसान सिंचित क्षेत्र में कृषि करते है तो उनको 13500 रूपये कि राशि दी जायेगी और जो किसान बालू मिट्टी या फिर जहां सिल्ट का जमाव 3 इंच तक है और वहा खेती करते है उनको प्राक्रतिक आपदा के नुकसान से होने वाली खराब फसल के लिए 12200 रूपये कि धन राशि दी जाती है कृषि इनपुट योजना में राज्य के लगभग 23 जिलों को शामिल किया गया है इन राज्यों में हर साल किसानो कि फसले प्राक्रतिक आपदा के कारण खराब हो जाती है

YojanaKrishi Input Subsidy Scheme
Update2021
Official Websitehttps://dbtagriculture.bihar.gov.in/
Yojan TypeOnly Kisan Scheme
LocationBihar

जिसके चलते उनकी आर्थिक स्तिथि पर काफी ज्यादा बुरा असर पड़ता है इन्छुक किसान इस योजना का लाभ लेने के लिए इसमें ऑनलाइन आवेदन कर सकते है इसके लिए इस योजना कि ऑफिसियल वेबसाइट जारी कि गई है जिस पर किसान ऑनलाइन आवेदन घर बैठा हि कर सकता है यदि आप भी इस योजना का लाभ लेने के लिए ओन्लिने४ आवेदन करने के इन्च्चुक है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े क्योंकि हम आपको इसके आवेदन में लगने वाले दस्तावेज तथा इससे होने वाले फायदों के बारे में बतायेगे

योजना में शामिल किये गये जिले:-

बिहार सरकार कि और से शुरु कि गई इस कृषि इनपुट योजना में राज्य के जिन जिलों का चयन किया गया है यानी झा सबसे ज्यादा हर साल प्राक्रतिक आपदा के कारण फसलों का नुकसान होता है उनके नाम कुछ इस प्रकार है

  • बक्सर
  • रोहतास
  • ओरंगाबाद
  • चम्पारण
  • दरबंगा
  • मुंगेर
  • बांका गया
  • जहानाबाद
  • भोजपुर
  • पटना
  • नालंदा
  • भागलपुर
  • गोपालगंज
  • भभुआ
  • शेखपुर
  • लखीसराय
  • पश्चिमी चम्पारण
  • मुजफरपुर
  • समस्तीपुर
  • किशनगंज
  • अरवल नवादा
  • मधेपुरा

कृषि इनपुट योजना का मूल उदेश्य क्या है?

बिहार सरकार कि इस कृषि इनपुट योजना का मुख्य उदेश्य है कि राज्य में ऐसे किसान जिनकी फसलों का हर वाढ किसी न किसी प्राक्रतिक आपदा के कारण नुकसान हो जाता है उनको इस योजना के जरिये उनकी फसल कि नुकसानी कि भरपाई के लिए सहायता राशि दी जाती है ये राशि 6800 रूपये से लेकर 13500 रूपये तक दी जाती है यानी जो किसान जिस क्षेत्र में कृषि करता है उसे उसके हिसाब से उसका लाभ दिया जाता है जैसा कि आप सभी जानते है प्राक्रतिक आपदा वो आपदा है

जो किसानो के खिले चेहरों पर मौसी ला देती है हर साल प्राक्रतिक आपदा के कारण किसानों कि फसले बर्बाद हो जाती है और मजबूरन किसानो को आत्महत्या करणी पडती है क्योंकि फसल के लिए लिए गये बैंक ऋण को किसान नही चुका पाते है और बैंक ब्याज इतना अधिक हो जाता है कि उसे चुकाना किसान के लिए नामुमकिन हो जाता है ऐसे किसानो को आत्महत्या जैसे पाप से बचाने के लिए इस योजना के जरिये सहायता राशि दी जाती है ये राशि प्रति हेक्टेयर के हिसाब से उनके बैंक खातों में भेजी जाती जय ताकि कोई बिचोलिय पैसे को न खा सके किसान इस योजना का लाभ घर बैठा हि ऑनलाइन आवेदन करके ले सकता है

कृषि इनपुट योजना के क्या क्या फायदे है?

किसानो को इस Krishi Input Subsidy Scheme से जो फायदे होने वाले है वो कुछ इस प्रकार है

  • जिन किसानो के पास 2 हेक्टेयर भूमि है उनको इस योजना में शामिल किया जाएगा
  • जो किसान असिंचित क्षेत्र में कृषि करते है उन्हें 6800 रूपये कि राशि प्राक्रतिक आपदा के कारण फसल के हुए नुकसान कि भरपाई के लिए दिए जाते है
  • सिंचित क्षेत्र में कृषि करने वालों को 13500 रूपये कि राशि प्रदान कि जाती है
  • जिन इलाकों में बालू मिट्टी,सिल्ट का जमाव 3 इंच तक है और जहां किसान खेती करते है उनको 12200 रूपये कि राशि आर्थिक सहायता के रूप में दी जाती है
  • योजना के जरिये मिलने वाली धनराशी उनके बैंक अकाउंट में भेजी जाती है
  • किसानो कि आर्थिक स्तिथि में सुधार आयेगा
  • राज्य में कृषि क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा

जल जीवन हरियाली योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म~Online Registration Form

Krishi Input Subsidy Scheme के ऑनलाइन आवेदन के लिए मुख्य दस्तावेज कोन कोन से है?

Krishi Input Subsidy Scheme के ऑनलाइन आवेदन के लिए काम में आने वाले दस्तावेज निम्न प्रकार है

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • जमीन कि जमाबंदी
  • जमीन का नक्सा
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

कृषि इनपुट योजना के ऑनलाइन आवेदन कि विधि:-

यदि आप भी बिहार राज्य से है और सरकार कि और से शुरु कि गई इस कृषि इनपुट योजना का लाभ लेने के लिए इस आर्टिकल में दिए गये तरीके को फोलो करके आप इसमें आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते है

  • शबे पहले आपको इस कृषि इनपुट योजना कि ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करना होगा https://dbtagriculture.bihar.gov.in/
  • इसके बाद आपके सामने इस योजना का मेन पृष्ठ ओपन हो जाएगा
  • अब आपको इस पेज में कृषि इनपुट अनुदान का ऑप्शन मिलेगा जिस आपको क्लिक करना है जिसके बाद aपका दूसरा पेज ओपन हो
  • इसके बाद आपको इसमें आवेदन फॉर्म के ऑप्शन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपके सामने इसका आवेदन फॉर्म ओपन हो जाएगा
  • इस फॉर्म में आपसे पूछी गई जानकारी को सही सही भरना है
  • इसके बाद आपको बताये गये द्स्तावेजोइन को अपलोड करना है जिसके बाद आपको केप्चर कोड दर्ज करना है
  • अब आपको इसमें दिए गये सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपका इस योजना में ऑनलाइन आवेदन मानी हो जाएगा

Thanks for Comment