आत्मनिर्भर भारत अभियान: ऑनलाइन आवेदन (Aatm Nirbhar Yojana)

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना के तहत होने वाला लाभ Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan

Aatm Nirbhar Yojana, पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज, Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan, आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, आत्म निर्भर योजना लाभ,

Aatm Nirbhar Yojana, पीएम मोदी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज, Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan, आत्मनिर्भर भारत अभियान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, आत्म निर्भर योजना लाभ,

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना

लॉकडाउन के चलते पीएम द्वारा एक बड़ी घोषणा कि गई है जिसका नाम है आत्म निर्भर भारत अभियान योजना इसमें देश के लिए कोरोना राहत पैकेज कि घोषणा हुई है जिसमे 20 लाख करोड़ का एलान किया गया है जो देश के किसानो के लिए मजदूरो के लिए उद्योगिक क्षेत्र के लिए व अन्य कई क्षेत्र में इस फण्ड को दिया जायगा जिससे देश में हो रहा आर्थिक नुकसान को कवर किया जायगा इसके साथ आपको बता दे पीएम मोदी ने देश को आत्म निर्भर बनाने के लिए देश के नागरिको से अपील कि है

क्या है आत्म निर्भर भारत अभियान (Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan)

आत्म निर्भर भारत अभियान – यानी अपने आप पर निर्भर करना पीएम के अनुसार देश के लोग देश में बने सामान को ज्यादा से ज्यादा यूज़ करे आज भारत दुनिया में कोरोना संकट से लड़ने के लिए कई तरह को दवाईया विदेशो को बेचता है लेकिन अभी कुछ क्षेत्र एसे है जिनका लाभ भारत को मिलता है हमारे देश में लोग ज्यादातर चाइनीज व अन्य विदेशी सामान को ज्यादा यूज़ करते है इससे देश को नुक्सान होता है अगर पुरे भारत के नागरिक अपने देश में बने सामान को

PM SARKARI YOJANA

Aatm Nirbhar Yojana- आत्म निर्भर योजना

इस योजना अथवा अभियान का उद्देश्य 130 करोड़ भारतवासियों को आत्मनिर्भर बनाना है ताकि देश का हर नागरिक संकट की इस घड़ी में कदम से कदम मिलाकर चल सके और कोविड-19 की महामारी को हराने में अपना योगदान दे सके| प्यारे देशवासियों एक समृद्ध और संपन्न भारत के निर्माण में आत्मनिर्भर भारत अभियान निश्चित ही महत्वपूर्ण योगदान देगा प्रधानमंत्री आर्थिक राहत पैकेज में सभी सेक्टरों की दक्षता बढ़ेगी और गुणवत्ता भी सुनिश्चित होगी | इस योजना के ज़रिये देश की अर्थ व्यवस्था को 20 लाख करोड़ रूपये का संबल मिलेगा |

महत्वपूर्ण जानकारी आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज

योजना का नामआत्मनिर्भर भारत अभियान
किसके द्वारा आरंभ की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार
लाभार्थीदेश का प्रत्येक नागरिक
उद्देश्यसमृद्ध और संपन्न भारत निर्माण
आरंभ की तिथि12 मई 2020
पैकेज की धनराशि20 लाख करोड़ रुपए
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://www.pmindia.gov.in/en/

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan (आत्मनिर्भर भारत)

आप सभी लोग जानते है कि कोरोना वायरस के कारण पूरे देश के लॉक डाउन की स्थिति चल रही है जिसका सबसे ज्यादा बुरा असर देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो पर पड़ रहा है इन सभी नागरिको को लाभ पहुंचाने के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री जी ने देश के सुक्ष्म, लघु तथा मध्यम उद्योगों , श्रमिकों ,मजदूरों और किसानो को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान कर दिया | इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए इन सभी लाभार्थियों को सबसे बड़ी सहायता राशी आर्थिक पैकेज के रूप प्रदान की जाएगी |केंद्र सरकार की इस मदद से भारत देश एक नई ऊचाई की तरफ जायेगा |

एमएसएमई के तहत की गई 16-घोषणाएं

कोविड-19 ने देश और देश दुनिया के सामने बहुत से संकट खड़े किए हैं और चुनौती के समय में देश को अग्रसारित करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सूक्ष्म लघु मध्यम वर्गीय गृह उद्योग (MSMEs)के लिए निम्नलिखित 16 घोषणाएं की है क्या आप जानते हैं एमएसएमई जोकि 12 हजार करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार उपलब्ध कराता है देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है आइए जानते हैं सरकार द्वारा कौन सी घोषणाएं की गई है

  • Rupee 3 lakh Crore Collateral free automatic loan for business including MSMEs
  • MSMEs सहित व्यापार के लिए रुपये 3 लाख करोड़ संपार्श्विक नि: शुल्क स्वचालित ऋण
  • Rupee 20000 Crore subordinate debt for MSMEs
  • MSMEs के लिए रु। 20000 करोड़ अधीनस्थ ऋण
  • Rupees 50000 crore equity infusion through MSMEs fund of funds
  • MSMEs के फंड के माध्यम से रुपए 50000 karod इक्विटी इन्फ्यूशन
  • MSMEs की नई परिभाषा
  • New Definition Of MSMEs
  • Global Tender For to be disallowed upto rs 200 crores
  •  ग्लोबल टेंडर 200 करोड़ रुपये तक का है
  • Other Interventions For MSMEs
  • एसएमई के लिए अन्य हस्तक्षेप
  • Rs 2500 Crore EPF Support For Business and Workers For 3 More Months

Aatm Nirbhar Yojana

  • 3 और महीनों के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए 2500 करोड़ रुपये का ईपीएफ समर्थन
  • EPF Contribution reduced for business and workers for 3 months
  • ईपीएफ अंशदान 3 महीने के लिए व्यापार और श्रमिकों के लिए कम हो गया
  • Rs 30000 Crore Liquidity facility for NBFCS/HCs/MFIs
  • एनबीएफसीएस / एचसी / एमएफआई के लिए 30000 करोड़ रुपये की तरलता सुविधा
  • Rs 45000 Cr Partial Credit Guarantee Scheme For NBFC
  • एनबीएफसी के लिए 45000 करोड़ रुपये की आंशिक क्रेडिट गारंटी योजना
  • Rs 90000 Crore Liquidity injection for DISCOMs
  • DISCOM के लिए 90000 करोड़ रुपये की तरलता इंजेक्शन
  • Relief to Contractors
  • ठेकेदारों को राहत
  • Extension of registration and completion date of real estate projects under RERA
  • RERA के तहत रियल एस्टेट परियोजनाओं के पंजीकरण और पूर्णता तिथि का विस्तार
  • Rs 50000 cr Liquidity through TDs/TCS reduction
  • टीडीएस / टीसीएस कटौती के माध्यम से 50000 करोड़ रुपये की तरलता
  • Other Tax Measures
  • अन्य कर उपाय

PM Modi आत्म निर्भर योजना

भारत निरंतर ही बहुत ही बड़ी बड़ी जानलेवा बीमारियों जैसे टीवी पोलियो कुपोषण जैसी बीमारी से लड़ता आया है पूर्व की भांति इस बार भी हमारा संकल्प कोरोनावायरस आपदा कोविड-19 को हराना है और विश्व कल्याण में पुनः अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाना है | किसी भी देश के विकास में और उसे आत्मनिर्भर बनाने के लिए मुख्यतः 5 चीजों की आवश्यकता होती है

  • अर्थव्यवस्था  (Economy)
  • आधारिक संरचना (better Infrastructure)
  • प्रणाली (System)
  • जनसांख्यिकी (Demography)
  • मांग और आपूर्ति (Dempand & Supply Chain)

आत्मनिर्भर भारत अभियान के संकल्प

  • कोरोनावायरस संकट का सामना करते हुए नए संकल्प के साथ देश को विकास के नए दौर में ले जाने के लिए देश के विभिन्न वर्गों को एक साथ जोड़ा जाएगा और देश को विकास यात्रा की एक नई गति प्रदान की जाएगी
  • इस अभियान के अंतर्गत देश के मजदूर श्रमिक किसान लघु उद्योग कुटीर उद्योग मध्यमवर्गीय उद्योग सभी पर विशेष ध्यान अथवा बल दिया जाएगा यह पैकेज इन सभी उद्योगों को 20 लाख करोड़ की सहायता प्रदान करेगा जो कि भारत के एक गरीब नागरिक की आजीविका का साधन है
  • यह पीएम मोदी राहत पैकेज देश के उत्तरी श्रमिक व्यक्ति के लिए है जो हर स्थिति में देशवासियों के लिए परीक्षण करता है और देश को बुलंदी की ओर अग्रसर करता है

आत्मनिर्भर भारत अभियान के लाभार्थी

  • देश का गरीब नागरिक
  • श्रमिक
  • प्रवासी मजदूर
  • पशुपालक
  • मछुआरे
  • किसान
  • संगठित क्षेत्र व असंगठित क्षेत्र के व्यक्ति
  • काश्तकार
  • कुटीर उद्योग
  • लघु उद्योग
  • मध्यमवर्गीय उद्योग

PM Modi राहत पैकेज Aatm Nirbhar Yojana के लाभ

  • 10 करोड़ मजदूरों को लाभ होगा
  • MSME से जुड़े 11 करोड़ कर्मचारियों को फायदा
  • इंडस्ट्री से जुड़े 3.8 करोड़ लोगों को लाभ पहुंचेगा
  •  टेक्सटाइल इंडस्ट्री से जुड़े 4.5 करोड़ कर्मचारियों को लाभ पहुंचेगा |
  • ये आर्थिक पैकेज हमारे कुटीर उद्योग, गृह उद्योग, हमारे लघु-मंझोले उद्योग, हमारे MSME के लिए है, जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन है |
  • इस आर्थिक पैकेज से गरीब मजदूरों, कर्मचारियों के साथ ही होटल तथा टेक्सटाइल जैसी इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को फायदा होगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान राहत पैकेज के अंतर्गत महत्वपूर्ण क्षेत्र

  • कृषि प्रणाली (Reformation Of Agricultural Supply Chain & System)
  • सरल और स्पष्ट नियम कानून (Rational Tax System)
  • उत्तम आधारिक संरचना (Reformation Of Infrastructure)
  • समर्थ और संकल्पित मानवाधिकार ( Capable Human Resources)
  • बेहतर वित्तीय सेवा (A Good Financial System)
  • नए व्यवसाय को प्रेरित करना (To Motivate New Business)
  • निवेश को प्रेरित करना (Provide Good Investment Opportunities)
  • मेक इन इंडिया (Make In India Mission)

Aatm Nirbhar Yojana अभियान का निष्कर्ष

आत्मनिर्भरता आत्मबल और आत्मविश्वास से ही संभव है आइए हम मिलकर देश के विकास में योगदान दें और वैश्विक आपूर्ति चयन में अपनी भूमिका निभाएं प्यारे देशवासियों आज भारत के सामने एक बहुत बड़ी चुनौती इस आपदा के रूप में खड़ी है भारत की संस्कृति और भारत के संस्कार हमें संसार के सुख सहयोग और शांति की चिंता सिखाती है आइए मिलकर अपनी पूरी संकल्प शक्ति के साथ इस महामारी का सामना करें और भारत को विकास की दिशा में अग्रसर करने के लिए योगदान दें

Leave a Comment

Your email address will not be published.