Advertisement

Mahabhulekh 7*12 महा भूमि अभिलेख 8a utara Mahabhulekh ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड

Aaple abhilekh mahabhumi gov in records, Mahabhulekh ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड, महाराष्ट्र महा भूलेख पोर्टल, Mahbhumi Abhilekh 7/12, महाराष्ट्र महा भूलेख पोर्टल क्या है Maharashtra mahabhulekh satbara, bhulekh.mahabhumi.gov.in Portal, Mahabhulekh ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड 2021, View 7/12 (Mahabhulekh ७ /१२ पहा) Digital SatBara 2021, महाभूलेख पोर्टल, ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड पोर्टल, Mahabhulekh 7*12 | महा भूमि अभिलेख

महाराष्ट्र महा भूलेख पोर्टल Mahbhumi Abhilekh 7 12 | Maharashtra mahabhulekh satbara | bhulekh.mahabhumi.gov.in Portal | Mahabhulekh ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड 2021 | View 7/12 (Mahabhulekh ७ /१२ पहा) Digital SatBara 2021 | महाभूलेख पोर्टल | ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड पोर्टल

महाराष्ट्र महा भूलेख पोर्टल – Mahabhulekh 7*12 महा भूमि अभिलेख

महाराष्ट्र सरकार ने महाराष्ट्र राज्य में सभी भूमि रिकॉर्ड के लिए एक ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड पोर्टल भी बनाया है, जिसे महाभूलख के नाम से जाना जाता है। पुणे, नासिक, औरंगाबाद, नागपुर, कोंकण और अमरावती छह प्रमुख स्थान हैं जो पोर्टल पर जानकारी को विभाजित करते हैं। इच्छुक लोग जो महाराष्ट्र राज्य में भूमि के बारे में जानना चाहते हैं, वे इस पोर्टल की मदद से विवरण एकत्र कर सकते हैं।

Advertisement

इससे सरकारी कार्यालय के बाहर खर्च करने के लिए थोड़ी सी जानकारी एकत्र करने और कुछ मिनटों के भीतर जानकारी प्रदान करने में लगने वाले समय की बचत होगी।

Mahabhulekh Online (Mahabhulekh 7*12 महा भूमि अभिलेख)

भूलेख को अलग अगल जगहों पर अलग अलग नामो जैसे जमाबंदी , खसरा खतौनी ,अभिलेख , भूमि का ब्यौरा , खेत के कागज़ात ,खेत का नक्शा आदि से जाना जाता है ।अब राज्य के लोगो को पटवारखाने जाने की आवश्यकता नहीं होगी ।अब लोग घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर आसानी से देख सकते है इससे लोगो के समय की भी बचत होगी ।

राज्य के लोग कही से भी कभी भी अपनी भूमि की पूरी जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकते है तथा साथ ही साथ ऑनलाइन डाउनलोड भी कर सकते है ।

Advertisement

ई मैप्स से संबंधित जानकारी (Mahabhulekh 7*12 महा भूमि अभिलेख)

भू अभिलेख विभाग द्वारा पूरे राज्य के मैप तैयार किए गए हैं। इन मैप को आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया गया है। जिससे कि सभी नागरिक मैप से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सके। इसी के साथ आधिकारिक वेबसाइट पर सेटेलाइट के माध्यम से अपनी भूमि को भी देखा जा सकता है। इन मैप के आधार पर भूमि की सीमाओं को बनाया जाता है। सभी मैप का डिजिटलीकरण किया गया है। जिससे कि प्रदेश के नागरिकों को मैप देखने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने की आवश्यकता ना पड़े।

Mahabhulekh Highlights

Name of the web portalMahabhulekh 7*12 | महा भूमि अभिलेख
Portal forLand records
Launched byGovernment of Maharashtra state
Official websitebhulekh.mahabhumi.gov.in

महा भूमि अभिलेख का उद्देश्य

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि इस ऑनलाइन पोर्टल के आरम्भ होने से पहले राज्य के लोगो को अपने भूमि से जुड़ी कोई भी जानकारी प्राप्त करनी होती थी तो उन्हें पटवारखाने जाना पड़ता था और वहाँ जाकर काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था जिसकी वजह से लोगो के काफी समय की बर्बादी होती थी। इस सभी परेशानियों को देखते हुए राज्य सरकार ने भूमि से जुड़ी सभी जानकारी को ऑनलाइन कर दिया है।

Advertisement

अब राज्य के नागरिक बिना किसी परेशानी के अपनी जमीन से जुड़ी सभी जानकारी ऑनलाइन पोर्टल पर आसानी से देख सकते है जिससे उनके काफी समय की बचत होगी। इस ऑनलाइन पोर्टल पर जमीन से जुड़ी कोई भी जानकारी बड़ी ही सरलता से देखी जा सकते है |

भू अभिलेख विभाग का लक्ष्य

भू अभिलेख विभाग का मुख्य उद्देश्य भूमि से संबंधित सभी प्रकार के रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध करवाना है। जिससे कि राज्य के नागरिकों को किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता ना पड़े। उन्हें घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से भूमि से संबंधित सभी प्रकार के रिकॉर्ड प्रदान किए जाएं। जिससे कि समय और पैसे दोनों की बचत हो तथा प्रणाली में पारदर्शिता आए। भू अभिलेख विभाग द्वारा आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल करके भू नक्शा भी आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जाएगा।

डिस्ट्रिक्टसब डिस्ट्रिक्टऑफिशल लिंक
अमरावतीअमरावती, अकोला, बुलढाणा, वाशिम, यवतमालयहां क्लिक करें
नागपुरनागपुर, भंडारा, वर्धा, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, गोंदियायहां क्लिक करें
औरंगाबादऔरंगाबाद, जलना, हिंगोली, नांदेड़, लातूर, उस्मानाबाद, बिड, परभणीयहां क्लिक करें
पुणेपुणे, सातारा, सोलापुर,संगला, कोल्हापुरयहां क्लिक करें
नाशिकनाशिक, अहमदनगर, जलगांव, Dhule, नंदुरबारयहां क्लिक करें
कोंकणपालघर, थाने, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, मुंबई suburban, मुंबई सिटीयहां क्लिक करें

महाभूलेख पोर्टल के लाभ

  • महाभूलख ऑनलाइन मोड के माध्यम से भूमि रिकॉर्ड विवरण प्रदान करेगा |
  • भूलेख विवरण के लिए, आपको सरकारी कार्यालय के बाहर लंबे समय तक इंतजार करने की आवश्यकता नहीं है
  • अब आपको महाभूलखिन के माध्यम से भूमि की जानकारी कुछ ही मिनटों में मिल सकती है |
  • अब लोग घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर आसानी से देख सकते है इससे लोगो के समय की भी बचत होगी ।

ई भूलेख से संबंधित जानकारी

ई भूलेख को भूमि रिकॉर्ड आधुनिकरण कार्यक्रम के अंतर्गत आरंभ किया गया है। ई भूलेख के माध्यम से राज्य के सभी नागरिक कंप्यूटराइज सातबारा डेटा एवं भू नक्शा देख सकते हैं। इसके माध्यम से सभी प्रकार की जानकारी एक स्थान पर उपलब्ध करवाई जाएगी। आधिकारिक वेबसाइट पर प्रदेश के नागरिकों को उनकी आय की जानकारी भी प्रदान की जाएगी।

आधिकारिक वेबसाइट से प्राप्त हुए भूमि के विवरण के आधार पर नागरिकों को लोन भी प्रदान किया जा सकेगा। अब प्रदेश के नागरिक इस नई तकनीक का उपयोग करके अपनी भूमि से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड विवरण की जांच करने की प्रक्रियाMahabhulekh

  • महाराष्ट्र राज्य भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट खोलें जो “bhulekh.mahabhumi.gov.in” है।
  • यहा आपके सामने महाराष्ट्र भूमि पोर्टल का होम पेज ओपन होगा
  • यहा आपको अपने जिले का नाम सेलेक्ट करना है जिसके बाद आपको उपखंड सेलेक्ट करना है फिर आपको विकास खंड व गाँव सेलेक्ट करना है
  • जिसके बाद आपको सर्वे नंबर / गट नंबर  अक्षरी सर्वे नंबर / गट नंबर पहिले नाव  मधील नाव  आडनाव  संपूर्ण नाव आदि सेलेक्ट करे
  • इसके बाद आप जो सेलेक्ट करते है जैसे गटा नंबर आदि सेलेक्ट करना है वो नंबर दर्ज करे जिसके बाद आपके सामने
  • आपकी जमीन कि जानकारी आ जायगी जिसे आप डाउनलोड कर सकते है

Maharashtr Help for Property Registration PDE

संपत्ति पंजीकरण पीडीई के लिए महाराष्ट्र के नागरिक किस तरह अप्लाई आदि कर सकते है यहा देखे सम्पूर्ण जानकारी सबसे पहले आपको https://pdeigr.maharashtra.gov.in/ पोर्टल पंजीयन करना होगा इसके लिए आप इन स्टेप को फॉलो करे

वेबसाइट रजिस्ट्रशन विभाग के साथ पंजीकृत होने के लिए दस्तावेजों के लिए डेटा प्रविष्टि प्रदान करती है।

  • सार्वजनिक डेटा प्रविष्टि दो तरीकों से हो सकती है “बिना लॉगिन के डेटा प्रविष्टि” और “पंजीकृत उपयोगकर्ता” के साथ।
  • पीडीई खाता बनाने के लिए [नया खाता बनाएँ] पर क्लिक करें
  • एक बार जब आप एक खाता बनाते हैं, तो आप पीडीई एप्लिकेशन में नई प्रविष्टियां बनाने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।
  • भूल गए पासवर्ड लिंक आपको पासवर्ड पुनर्प्राप्त करने के लिए दिया गया है। पासवर्ड पंजीकृत उपयोगकर्ताओं के मोबाइल नंबर पर भेजा जाता है।
  • आप अपनी प्रोफ़ाइल जानकारी ‘अपडेट प्रोफ़ाइल’ के माध्यम से अपडेट कर सकते हैं
  • ‘पासवर्ड बदलें’ के माध्यम से अपना पासवर्ड बदल सकते हैं
  • आप ‘पंजीकरण’ बटन के माध्यम से नई प्रविष्टि देख या बना सकते हैं
  • पंजीकृत उपयोगकर्ता en न्यू टोकन पंजीकरण ’लिंक का उपयोग करके नई प्रविष्टि कर सकता है। जिला चुनें, एसआरओ चुनें और स्टार्ट बटन पर क्लिक करें।
  • आप [सभी टोकन जानकारी दिखाएँ] बटन पर क्लिक करके पहले प्रवेश विवरण देख सकते हैं। यहां आप संबंधित लिंक पर क्लिक करके पिछले पंजीकरण विवरण देखें, संपादित करें, पुन: आयात कर सकते हैं।
  • सभी आवश्यक जानकारी सही ढंग से भरें।
  • ग्यारह अंकों का डेटा एंट्री नंबर जनरेट होता है। कृपया नोट करें
  • किसी भी संशोधन के लिए आप ग्यारह अंकों का डेटा एंट्री नंबर और पासवर्ड जो आपने प्रविष्टि के दौरान बनाया है, का उपयोग कर सकते हैं। (कृपया पासवर्ड ध्यान से याद रखें)।
  • डेटा एंट्री नंबर नोट करें और इसे एसआरओ ऑफिस में ले जाएं।
  • दर्ज की गई जानकारी पंजीकरण के लिए एसआरओ कार्यालय में उपलब्ध होगी।
  • समवर्ती क्षेत्राधिकार के कार्यालयों के लिए, आप डेटा प्रविष्टि संख्या के साथ किसी भी एसआरओ कार्यालय में जा सकते हैं, भले ही डेटा एनरी के समय चुने गए कार्यालय से।
  • एक बार प्रविष्टि पूरी हो जाने पर, आप डेटा प्रविष्टि का प्रिंटआउट ले सकते हैं। कृपया प्रिंटआउट को ध्यान से पढ़ें। पिछले बटन का उपयोग करके सुधार किया जा सकता है।
  • इस डेटा प्रविष्टि का मतलब यह नहीं है कि पंजीकरण के लिए दस्तावेज़ स्वीकार किया जाता है। एसआरओ अधिकारी के पास दस्तावेज़ को अस्वीकार करने का अधिकार है या वह इसे नियम के अनुसार बदल सकता है।
  • किसी भी शिकायत / सुझाव के लिए हमें “feedback.isarita@gmail.com” पर ईमेल भेजें।
  • आपका 6 महीने पुराना डाटा डिलीट हो जाएगा। ”

भूमि अभिलेखों में उत्परिवर्तन (अपडेशन) (7/12) प्रोसेस

  • नया पीडीई उपयोगकर्ता खाता बनाने के लिए अगले पृष्ठ पर [नया खाता बनाएँ] पर क्लिक करें।
  • पीडीई खाता बनाने के लिए [नया खाता बनाएँ] पर क्लिक करें
  • एक बार जब आप एक खाता बनाते हैं, तो आप पीडीई एप्लिकेशन में नई प्रविष्टियां बनाने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।
  • भूल गए पासवर्ड लिंक आपको पासवर्ड पुनर्प्राप्त करने के लिए दिया गया है। पासवर्ड पंजीकृत उपयोगकर्ताओं के मोबाइल नंबर पर भेजा जाता है।
  • आप अपनी प्रोफ़ाइल जानकारी ‘अपडेट प्रोफ़ाइल’ के माध्यम से अपडेट कर सकते हैं
  • ‘पासवर्ड बदलें’ के माध्यम से अपना पासवर्ड बदल सकते हैं
  • आप ‘पंजीकरण’ बटन के माध्यम से नई प्रविष्टि देख या बना सकते हैं
  • उपयोगकर्ता नाम पासवर्ड का उपयोग कर लॉगिन करें। पंजीकृत उपयोगकर्ता सीधे लॉगिन कर सकते हैं।
  • लॉगिन करने के बाद, लैंड रिकॉर्ड म्यूटेशन एंट्री शुरू करने के लिए “७/112 म्यूटेशन” बटन चुनें।
  • आपको उपयोगकर्ता के उचित “रोल” का चयन करने के लिए एक पॉपअप संदेश मिलेगा।
  • तीन भूमिकाएँ हैं जिनमें डेटा प्रविष्टि की जा सकती है। एक भूमिका नागरिक है वह वारिस (वारिस) से संबंधित उत्परिवर्तन के लिए डेटा प्रविष्टि कर सकता है, जैसे कि वारिस जोड़ें, अभिभावक का नाम हटाएं (अपक शेरा कमी करेन), एचयूएफ नाम हटाएं (एक्युमाइ ड्रा कमी कर रहे हैं), वसीयत (डेडपार्ट / साइडरेशन पत्र), मृतक व्यक्ति का नाम हटा दें (मयताशे नाव कमी कर), ट्रस्टी नाम बदलें (विश्वस्टाचे नाव बदल जाता है) दूसरी भूमिका बैंक / समाज है। वे ईकार और बजासा चढेवने, बजासा की कमी के लिए डेटा प्रविष्टि कर सकते हैं
  • अन्य भूमिकाएं हो सकती हैं जिन्हें आवश्यकता के रूप में परिभाषित किया जा सकता है
  • चयनित भूमिकाओं के अनुसार संबंधित म्यूटेशन में डेटा प्रविष्टि की जा सकती है। इसलिए भूमिकाओं का चयन बहुत महत्वपूर्ण है।
    नोट: उपयोगकर्ता द्वारा भूमिका का चयन करने और सबमिट पर क्लिक करने के बाद, उपयोगकर्ता वापस नहीं जा सकता है और इसे फिर से भेज सकता है।
    14। डेटा प्रविष्टि उपयोगकर्ता को पूरा करने के बाद होम पेज पर उतारा जाएगा जहां से यह शुरू हुआ था।
  • किसी भी शिकायत / सुझाव के लिए हमें “feedback.isarita@gmail.com” पर ईमेल भेजें।

Advertisement

Recent Posts

पीएम किसान योजना 12वीं किस्त की तारीख जारी: आप सभी को पता होना चाहिए

यहां आपको पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त की रिलीज की तारीख, आवेदन अपडेट और उससे संबंधित विवरण के बारे…

अगस्त 18, 2022

Gmail बिना इन्टरनेट ईमेल भेजने का तरीका – How to send email without internet

बिना इन्टरनेट ईमेल भेजने का तरीका - Here's how to send email without internet, बिना इन्टरनेट ईमेल भेजने का तरीका,…

अगस्त 18, 2022

पैन को आधार कार्ड से लिंक करने का आखिरी दिन, ये है दोनों को लिंक करने का तरीका

आपने अपने पैन कार्ड को अपने आधार कार्ड से लिंक नहीं किया है, तो आपको इसे तुरंत करना चाहिए क्योंकि…

अगस्त 18, 2022

मजदुर कार्ड लिस्ट स्टेट वाइज BOCW Labour Card List State Wise

मजदुर कार्ड लिस्ट स्टेट वाइज, Labour Card List, मजदुर कार्ड कैसे बनाए, Majdur Card Kaise banay, मजदुर कार्ड लिस्ट स्टेट…

अगस्त 18, 2022

राजस्थान फ्री लैपटॉप योजना लिस्ट – Free Laptop Yojana List Rajasthan

फ्री लैपटॉप योजना लिस्ट, Free Laptop Yojana List, राजस्थान लैपटॉप वितरण सूची, Rajasthan laptop distribution list, राजस्थान जिलेवार में लैपटॉप…

अगस्त 18, 2022

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana – उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना, गौरा देवी कन्या धन योजना, Uttrakhand Gaura Devi Kanya Dhan Yojana online Application Form,…

अगस्त 18, 2022

Narega Met – नरेगा मेट कैसे बने नरेगा मेट आवेदन फॉर्म 2023

नरेगा मेट कैसे बने, Narega Met Kaise banay, नरेगा मेट कैसे बने, मेट के लिए आवेदन केसे करे, नरेगा मेट के…

अगस्त 18, 2022

राजस्थान शाला दर्पण योजना आवेदन फॉर्म व पंजीकरण प्रक्रिया Shala Darpan Portal

Rajasthan Shala Darpan Online Registration form, राजस्थान शाला दर्पण योजना लॉगइन व रजिस्ट्रेशन, rajshaladarpan.nic.in Portal, राजस्थान शाला दर्पण योजना फॉर्म,…

अगस्त 18, 2022

सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन फॉर्म Suknya Samridhi Yojana Registration Form

सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन फॉर्म, Suknya Samridhi Yojana Registration Form, suknya samridhi yojana, sukanya samriddhi yojana, sukanya samriddhi yojana in…

अगस्त 18, 2022

KCC Loan के लिए भर दे ये फॉर्म मिलेगा 3 लाख का लोन

Kisan Credit Card के तहत अब इस फॉर्म भरकर किसान 3 लाख रु तक का लोन बहुत ही कम ब्याज…

अगस्त 18, 2022