मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना झारखण्ड मिलेगा 100 दिन का रोजगार

मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना झारखण्ड मिलेगा 100 दिन का रोजगार

मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना अप्लाई फॉर्म, Chief Minister Urban Employment Scheme, मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना झारखण्ड, शहरी रोजगार योजना क्या है, मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना का लाभ कैसे ले, Mukhy Mantri Shahari Rojgar Yojana Application Online In Hindi,

मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना अप्लाई फॉर्म, Chief Minister Urban Employment Scheme, मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना झारखण्ड, शहरी रोजगार योजना क्या है, मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना का लाभ कैसे ले, Mukhy Mantri Shahari Rojgar Yojana Application Online In Hindi,

झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना क्या है

झारखण्ड सरकार द्वारा प्रवासी मजदूरो को रोजगार देने के लिए मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना शुरू कि है जिसमे कोरोना के समय घर लोटे प्रवासी मजदुर जिनके पास कार्य नहीं है जो बेरोजगार हो चुके है उनको 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराने के लिए इस रोजगार योजना को शुरू किया है

झारखंड समचार हर हाथ को काम मिलता है, कोई बेकार नहीं जाता…। संकट में जलाया घर का चूल्हा …।

इस उद्देश्य के लिए, बुधवार को झुमरीतिलैया नगर प्रशासक कौशलेश कुमार और सिटी मैनेजर प्रशांत भारती ने झुमरी तिलैया के पुराने बस स्टैंड के पास एक जगह पर एकत्रित होने वाले कार्यकर्ताओं के बीच जागरूकता अभियान चलाया। नगर प्रशासक कौशलेश कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री शहरी श्रमिक योजना के तहत अब तक झुमरी तिलैया नगर परिषद में 386 जॉब कार्ड बनाए गए हैं। अकुशल मजदूरों को सौ दिन का काम दिया जाना है।

झारखण्ड सरकारी योजना लिस्ट

कैसे मितला है मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना का लाभ

  • योजना का उद्देश्य – शहरी क्षेत्रों में रहने वाले अकुशल श्रमिकों को रोजगार देना ताकि वे अपनी आजीविका अच्छी तरह से चला सकें। श्रमिकों को रोजगार के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ता है, वे अपने वार्ड क्षेत्र में आसानी से काम पा सकते हैं।
  • 100 दिन की रोजगार गारंटी – सरकार ऐसे अकुशल मजदूरों को 100 दिन की रोजगार गारंटी दे रही है जो शहरी क्षेत्रों में हैं। यह योजना, मनरेगा योजना की तरह, लोगों को काम के 100 दिन एक वर्ष में दे देंगे।
  • जॉब कार्ड – जैसे मनरेगा योजना के तहत मजदूरों को जॉब कार्ड मिलते हैं, उसी तरह शहरी श्रमिक योजना के तहत झारखंड में मजदूरों को जॉब कार्ड दिए जाएंगे। सरकार हर पंजीकृत मजदूर से अपने नाम का जॉब कार्ड बनवाएगी, जिसमें उसके काम की पूरी जानकारी होगी।
  • विभाग – इसकी जिम्मेदारी नगर विकास एवं आवास विभाग की होगी। विभाग ने इस योजना का काम तेज गति से शुरू कर दिया है।
  • बेरोजगारी भत्ता – अगर मजदूर इस योजना के तहत पंजीकृत हो जाता है, और अगर उसे 15 दिनों तक कोई रोजगार नहीं मिलता है, तो सरकार बेरोजगारी भत्ता प्रदान करेगी।
  • भत्ता राशि – श्रमिकों को पहले माह के भत्ते के रूप में न्यूनतम मजदूरी का एक चौथाई दिया जाएगा। 60 दिनों के बाद, आधे मजदूर उसे दिए जाएंगे। फिर पूरे 100 दिनों के बाद, मजदूरों को भत्ते के रूप में 100 दिनों का वेतन मिलेगा।
  • बैंक खाते में स्थानांतरण – बेरोजगारी भत्ता सीधे मजदूर के बैंक खाते में 15 दिनों के भीतर स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
  • कार्यस्थल पर सुविधा – शहरी क्षेत्र में चल रहे विभिन्न विभागों द्वारा चलाए जा रहे विकास कार्यक्रम, सरकार के लिए स्थानीय मजदूरों को रोजगार प्रदान करना अनिवार्य होगा। मजदूरों को जहां भी काम पर रखा जाएगा, विभाग को इस बात का ध्यान रखना होगा कि मजदूरों को किसी तरह की दिक्कत न हो। शुद्ध स्वच्छ पेयजल, प्राथमिक चिकित्सा बॉक्स होना अनिवार्य है। इसके साथ ही महिलाओं को कार्यस्थल पर काम कर रहे हैं, तो वे भी अपने बच्चों को रखने के लिए सुविधा होगी। ताकि वे बिना किसी परेशानी के आराम से काम कर सकें।

मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना के लिए कार्य

योजना के तहत इन मजदूरों को सड़क निर्माण, नाली निर्माण, भवन निर्माण और सफाई में लगाया जाएगा।

जिन श्रमिकों को काम नहीं मिलेगा उन्हें भत्ता दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस संकट में रोजगार सबसे बड़ी समस्या है। ऐसे में मजदूरों को इस योजना का अधिक से अधिक लाभ मिलना चाहिए। इसके लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। कार्य स्थल पर शारीरिक दूरी का पालन करने, मास्क लगाने, स्वच्छता का ध्यान रखने आदि के निर्देश दिए गए हैं। यहां जागरूकता अभियान में कार्यकर्ता चेहरे पर मास्क पहने नजर आए।

झारखण्ड मुख्यमंत्री शहरी रोजगार योजना आवेदन कैसे करे

  • झारखंड सरकार मुख्यमंत्री शहरी श्रमिक रोजगार योजना के लिए एक सरकारी पोर्टल लॉन्च करेगी।
  • जिसमें सभी पात्र श्रमिक आवेदन कर सकेंगे, और पंजीकरण के बाद उन्हें जॉब कार्ड दिया जाएगा।
  • अब सरकार ने योजना के बारे में निचले स्तर पर जानकारी दी है, क्योंकि इसकी पूरी रूपरेखा तैयार हो जाएगी,
  • सरकार अपना पोर्टल भी लॉन्च करेगी, जिसके माध्यम से सभी पात्र मजदूर आवेदन कर सकेंगे और रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।
  • शहरी क्षेत्र में मजदूरों की आजीविका में सुधार के लिए यह योजना शुरू की गई है।
  • योजना के तहत गारंटीकृत रोजगार दिया जाएगा, जिससे श्रमिकों को इधर-उधर भटकना न पड़े।
  • इस योजना का कार्य ग्रामीण क्षेत्रों में चल रही मनरेगा योजना के समान होगा।
  • इसके लिए नगर परिषद के कार्यालय जाकर आवेदन ददिया भी किया जा सकता है झारखण्ड ऑफिसियल वेबसाइट – https://www.jharkhand.gov.in/

Leave a Comment

Your email address will not be published.