पालनहार योजना आवेदन फॉर्म Palanhar Yojana Rajasthan apply Form

Palnhar Yojana rajasthan | पालनहार योजना प्रतिमाह 2000रु |पालनहार योजना के लाभ | पालनहार योजना ऑनलाइन आवेदन | Palnahar Yojana List | पालनहार योजना पंजीयन फॉर्म | पालनहार योजना लाभार्थी सूचि |

राजस्थान सरकार द्वारा 8 फरवरी 2005 को पालनहार योजना शुरू कि गई जिसमे आनाथ बच्चो व एनी कई श्रेणी के बच्चो जैसे विधवा कि संतान | जिन माता पिता को आजीवन कारवास हो गई हो | विकलांग माता या पिता कि संतान | तलाक सुदा माता पिता कि संतान आदि जैसे कई श्रेणी के बच्चो को इस योजना के तहत 2000रु महिना दी जाते है इस आर्टिकल में हम जानेगे कि कैसे आप Palnhar Yojana rajasthan के लिए ऑनलाइन पंजीयन कर सकते है व पालनहार योजना के लाभ क्या क्या है पात्रता क्या है दस्तावेज हेल्पलाइन नंबर आदि सम्पूर्ण जानकारी जानेगे पोस्ट को लास्ट तक पढ़े –

पालनहार योजना राजस्थान |Palanhar Yojana

Palanhar Yojana को 8 फरवरी 2005 को शुरू किया गया था शुरू में इस योजना में अनुसूचित जाती के अनाथ बचो को सामिल किया गया था बाद में धीरे धीरे इस योजना कई श्रेणी के बच्चो को सामिल किया गया पालनहार योजना में अनाथ बच्चो का पालन पोषण किसी संस्थागत न करके रिश्ते नाती द्वारा पालन पोषण करने पर पालनहार योजना का लाभ दिया जाता है अनाथ बच्चो का कोई भी नजदीकी रिश्ते दार पालनहार बनकर बच्चो का पालन पोषण कर सकता है पालनहार योजना में शिक्षा भोजन वस्त्र आदि के लिए सरकार सिविधा उपलब्ध कराती है Palanhar Yojana कि श्रेणी में आने वाले आनाथ बच्चे

राजस्थान तारबंदी योजना फॉर्म

योजना का नाम पालनहार योजना Palanhar Yojana
लोकेशन राजस्थान
योजना टाइप मुख्यमंत्री योजना
योजना का लाभ 2000रु सहायता राशी प्रति महिना
उद्देश्य अनाथ टाइप बच्चो को प्रोत्साहन करना
योजना शुरू कब हुई 8 फरवरी 2005
ऑफिसियल वेबसाइट www.sje.rajasthan.gov.in

राजस्थान पालनहार लाभार्थी श्रेणी लिस्ट 

कोन से बच्चो को इस योजना का लाभ दिया जाता है यहा आपको निम्न श्रेणी दी गई जो बच्चे इन श्रेणी में आते है वो बच्चे या अभिभावक पालनहार योजना के लिए आवेदन कर सकते है

  • अनाथ बच्‍चे
  • न्‍यायिक प्रक्रिया से मृत्‍यु दण्‍ड/ आजीवन कारावास प्राप्‍त माता-पिता की संतान
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा माता की अधिकतम तीन संताने
  • नाता जाने वाली माता की अधिकतम तीन संताने
  • पुर्नविवाहित विधवा माता की संतान
  • एड्स पीडित माता/पिता की संतान
  • कुष्‍ठ रोग से पीडित माता/पिता की संतान
  • विकलांग माता/पिता की संतान
  • तलाकशुदा/परित्‍यक्‍ता महिला की संतान

पालनहार योजना में एसे अनाथ बच्चो को सरकार द्वारा प्रोत्सहन उपलब्ध कराया जाता है – Rajasthan Palnhar Scheme

पालनहार योजना लाभ | Benefites Palnhar Yojana

Palnhar Scheme Rajasthan में क्या क्या लाभा मिलता है ह्स्रेनी वाइज जाने इस योजना का लाभ बच्चो कि शिक्षा व आयु के अनुसार दिया जाता है जिससे उन बच्चो कि देख भाल करने वाले अभिभावक उभे अछि शिक्षा व देख भाल कर सके

  • Palanhar Yojana में 0- 6 वर्ष तक के बच्चो को 500 रु महिना प्रोत्साहन दिया जाता है
  • 6 से 18 वर्ष तक के बचो को 1000 रु प्रतिमाह प्रोत्साहन दिया जाता है
  • पालनहार योजना में 3 वर्ष से 6 वर्ष तक के बच्चे आंगनबाड़ी में जाना अनिवार्य है
  • 6 वर्ष से उपर के बच्चे स्कूल जाना अनिवार्य है
  • इसके अलावा 2000 रु अलग से हर वर्ष सहायता दी जाती है (ये राशी विधवा पेंशन लेने वाले लाभार्थी व नाता रिश्ते दार पालन में नहीं दी जाएगी )
  • पालनहार योजना के अंतरगत आने वाले बच्चो को स्कालरशिप भी दी जाती है
  • इसके अलावा आगनबाडी में अनेक सुविधा व स्कूल में कई सुविधा दी जाती है

पालनहार योजना पंजीयन दस्तावेज

Rajasthan Palnhar Yojana के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज में आवेदक श्रेणी के अनुसार इन दस्तावेज की आश्यकता होती है यहा दी गए निम्न दस्तावेज के अनुसार आप पालनहार योजना के लिए ऑनलाइन पंजीयन यानी आवेदन कर सकते है

  • आय प्रमाण पत्र (अधिकतम 1.20 लाख )
  • मुलनिवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • आंगन बड़ी केंद्र पंजीयन प्रमाण पत्र
  • स्कूल में प्रवेश के प्रमाण पत्र
  • माता पिता के मर्त्यु प्रमाण पत्र (माता पिता की मर्त्यु होने पर)
  • दण्डदोष प्रति (माता [ईटा को कारावास होने पर)
  • PPO pension कार्ड (विधवा होने पर )
  • पुनर्विवाह प्रमाण पत्र (दूसरी सादी होने पर)
  • विकलांग प्रमाण पत्र (40 प्रतिशत विकलांग होने पर)

राजस्थान राशन कार्ड ऑनलाइन पंजीयन

Palnhar Yojana Beneficiary List

अगर आप पालनहार योजना लाभार्थी लिस्ट देखना चाहते है तो आप आसानी देख सकते है इसके आपको यहा दी गए निम्न स्टेप फॉलो कराने होगे जिसके बाद राजस्थान पालनहार योजना कि लाभार्थी सूचि देखि जा सकती है

  • सबसे पहले राजस्थान जन सूचना पोर्टल पर जाए
  • यहा जाने के बाद आपको जनसूचना पोर्टल कि सर्विस पर जाना है
  • जिसके बाद आपके सामने राजस्थान कि सभी योजना आ जायगी
  • यहा आपके सामने इस तरह का पेज ओपन होगा जो यहा आप देख सकते है
  • यहा आपको सबसे पहले 17 नंबर पालनहार योजना एंव लाभार्थी वाले आप्शन पर क्लिक करना है
  • इसके बाद नया पेज ओपन होगा जिसमे आपको चार ऑप्शन मिलेंगे
  • स्वयं के आवेदन की स्थिति देखें
  • पालनहार की पात्रता के नियम
  • अपने क्षेत्र के पालनहार योजना के लाभार्थी की सूचना प्राप्त करें
  • अपने पालनहार सोशल ऑडिट के बारे में जानिए
  • आपको तिन नंबर वाले पर क्लिक करना है जिसके बाद नया पेज ओपन होगा
  • इसमें आपको सबसे पहले ग्रामीण सेलेक्ट करना है जिसके बाद जिला सेलेक्ट करे
  • इसके बाद ब्लॉक या तहसील सेलेक्ट करे फिर ग्राम पंचायत और आपको सर्च कर देना है
  • आब आपके सामने आपके ग्राम पंचायत के सभी गांवो कि लिस्ट मिलेगी जिसमे आपके गाँव के नाम के आगे लिखे “अधिक जानकारी “ पर क्लिक करे
  • इसके बाद पालनहार योजना कि लिस्ट आपके सामनेहोगी आप इस लिस्ट में अपना नाम देख सकते है नाम नहीं होने पर आवेदन कर सकते है ऑनलाइन

पालनहार योजना के लिए आवेदन कैसे करे

पालनहार परिवार को उक्‍त अनुदान आवेदन करने पर शहरी क्षेत्र में विभागीय जिला अधिकारी द्वारा एवं ग्रामीण क्षेत्र में सम्‍बन्धित विकास अधिकारी द्वारा स्‍वीकृत किया जाता है। Palanhar yojana Online Apply के लिए लाभार्थी सभी आवश्यक दस्तावेज के साथ ऑनलाइन सर्विस सेंटर के माध्यम से आवेदन कर सकते है में पालनहार योजना के लिए आवेदन ऑनलाइन ही किए जाते है यहा से डाउनलोड करे पालन हार योजना के अन्य दस्तावेज व अधिक जानकारी अगर आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते है तो यहा से आवेदन फॉर्म डाउनलोड करे व निम्न स्टेप से ऑनलाइन पंजीयन करे

  • सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट के माध्यम से आवेदन फॉर्म डाउनलोड करे
  • इसके बाद इस आवेदन फॉर्म को अपनी श्रेणी के हिसाब से भरे
  • आवेदन के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज लगाए व अपने नजदीकी इ मित्र सेंटर या फिर आप स्वय ऑनलाइन SSO ID के माध्यम से आवेदन कर सकते है
  • हम आपको सलाह देते है आप पालनहार योजना का आवेदन किसी जानकार ई मित्र के माध्यम से करवाए ताकि आपका आवेदन फॉर्म रिजेक्ट ना हो इसमें आपको डॉक्यूमेंट अपलोड कराने होते है व कई स्टेप आवेदन फॉर्म भरना होता है

Thanks for Comment