Paralysis ke Symptoms, Karan and bachav-पैरालिसिस का कारण ,लक्षण व बचाव

By | August 14, 2020

Paralysis ke Symptoms, Karan and bachav-मासपेसियों मे किसी प्रकार की
बाधा किसी अंग के Paralysis का कारण नही बनती है बल्कि अंगो मे संदेश पहुचाने
वाली तंत्रिकाओ के प्रभावित होने के कारण होता है ओर कभी कभी रीढ़ की हड्डी
प्रभावित होने के कारण भी लकवा हो जाता है लकवा शरीर के छोटे या फिर बड़े क्षेत्र को
भी प्रभावित कर सकता है यह लकवा से ग्रसित होने के कारण पर निर्भर करता है यह
शरीर पर किसी बड़ी चोट या फिर कोमल या सवेदनशील भागो जैसे -मस्थिस्क ,रीढ़ की
हड्डी पर चोट आदि के कारण हो सकता है !

Paralysis अगर ज्यादा पुराना या किसी व्यक्ति को स्थायी हो जाता है तो उसका इलाज
आसानी से नही किया जा सकता है बल्कि उसके जीवन को कुच्छ उपकरणो के द्वारा
आसान बनाया जा सकता है उपकरणो मे विधुत धाराओ के कारण मासपेसिया उत्तेजित
होती रहती है जिस कारण लकवा ग्रसित अंग कुच्छ गतिविधिया कर पाता है कभी कभी जब
शरीर के किसी अंग की मासपेसिया काम करना बंद कर देती है तो इस स्थिति को पल्सी कहा
जाता है लकवा ग्रसित अंग एक तरह से जिंदा तो रहता है लेकिन मस्थिस्क से सकेत न
मिलने के कारण कार्य नही करता है !

Paralysis के कारण

किसी व्यक्ति को अगर लकवा ग्रसित हो जाता है तो स्थायी या अस्थाई प्रकार के लकवा के
कई कारण उसे प्रभावित कर सकते है जैसे -स्ट्रोक यह लकवा का कारण बन सकता है
,पोलियो से ग्रसित हो जाना ,आघात लग जाना ,botulism नामक बीमारी का होना भी
लकवे का कारण बन सकता है इनमे चोट लगने जैसे – रीढ़ की हड्डी ओर मस्थिस्क जैसे
भागो पर चोट लगने के कारण तंत्रिकाओ के सकेत आना बंद हो जाते है क्यो की चोट के
कारण यह ब्लॉक हो जाती है ओर कुच्छ जन्म जात बीमारियो के कारण भी लकवा से प्रभावित हो जाते है !

Paralysis के लक्षण

Paraltsis के लक्षण कुच्छ इस प्रकार हो सकते है जैसे लकवा से ग्रसित होने वाले अंग मे
कुच्छ समय पहले सुन्न होना जैसे लक्षण दिखाई देने लगते है लकवा से ग्रसित अंग की
मासपेसिया अपना काम कारण बंद कर देती है इसके लक्षण आसानी से पहचाने जा सकते है
क्यो की इसमे शरीर का कोई विशेष अंग या फिर शरीर का बड़ा क्षेत्र महसूस होना बंद हो
जाता है लकवा शरीर के ऊपर के हिंसे या नीचे के या फिर शरीर के एक तरफ या दोनों तरफ
किसी भी हिंसे को प्रभावित कर सकता है इसमे चेतना मे कमी ,मुह मे लार ,सिर मे दर्द
आदि लक्षण प्रकट होते है !

Russia Covid-19 Vaccine-रूस ने बनाई दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन

Paralysis (लकवा ) से बचाव

व्यायाम करना -लकवा से ग्रसित व्यक्ति को पूर्ण रूप से व्यायाम करना चाहिय खास
तोर से उस ग्रसित अंग का व्यायाम क्यो की इसमे दवाओ से भी ज्यादा व्यायाम
कारगर सिद्ध होता है इसके अलावा चोट ,दुर्घटनाओ गिरने आदि से बचे क्यो की एक
स्वस्थ व्यक्ति इन वजहों के कारण लकवा से ग्रसित हो सकता है लकवा से ग्रसित होने
पर उस व्यक्ति से बाते करते रहना व उसे कुच्छ सुनाते रहना चाहिय ,ओर उसके लेटने
की स्थिति को ध्यान मे रखना चाहिय की वह ज्यादा समय तक एक ही अवस्था मे न
लेटा रहे ओर नियमित दवाओ का सेवन भी कराते रहना चाहिय !

Rubeola ka karan lakshan bachav-खसरा बीमारी का कारण लक्षण व बचाव

Leave a Reply

Your email address will not be published.