प्रवाशी मजदूर योजना देश मे कोरोना छाया हुआ Prawasi Majdur Yojna

अब तक सिर्फ 2.14 करोड़ प्रवाशी मजदूरो को ही मिल पाया है

जेसा की आप जानते है की देश मे कोरोना संकट छाया हुआ है इस कोरोना के कारण देश मे लोकडाउन लगा हुआ है इस लोकडाउन का सब लोग पर असर बहुत ज्यादा पड़ा है जिसमे प्रवाशी मजदूरो को सबसे ज्यादा प्रेसानी हुई है मोदी सरकार ने इस कोरोना संकट के कारण देश के 8 करोड़ मजदूरो के लिए 3500 करोड़ रुपए की कीमत से दो महीने के लिए मुफ्त अनाज देने की घोसना की थी यह योजना खास उन लोगो के लिए थी जिनके पास राज्य सरकार और केंद्र सरकार से जारी किए गए राशन कार्ड नहीं है लेकिन अब तक सिर्फ 2.14 करोड़ प्रवासी मजदूरो को ही इस योजना का लाभ मिल पाया है

8 करोड़ मजदूरो को दिया जाना था फ्री अनाज

मोदी सरकार ने कोरोना की इस संकट की घड़ी मे देश के 8 करोड़ प्रवाशी मजदूरो को 3500 करोड़ के बजट से दो महीने का राशन फ्री देने की घोसना की थी लेकिन सर्वे के अनुसार अब तक केवल 2.14 करोड़ लोगो को इस इसके तहत फ्री मे राशन मिल पाया है और साथ मे आपको यह बता देते है की अब तक तेलंगाना और गोवा मे इस योजना का एक भी लाभार्थी नहीं है यह घोसना खास एसे मजदूरो के लिए थी जिनके पास केंद्र सरकार ये फिर राज्य सरकार के द्वारा जारी किया गया राशन कार्ड नहीं है एसे लोगो को अनाज बिना राशन कार्ड दिये जाने की घोसना की गयी थी सरकार ने यह फ्री राशन मई और जून मे वितरित किया है लेकिन गोवा और तेलंगाना का कोई भी लाभार्थी नहीं है यह जानकारी केन्द्रीय खध मंत्रालय ने बुधवार को दी

तेलंगाना और गोवा को नहीं मिल पाया है लाभ

लेकिन अब तक इसका लाभ तेलंगाना और गोवा को अब तक नहीं मिल पाया है इन राज्यो मे दोनों महीने मे अनाज का वितरण नहीं हो पाया है कुछ एसे राज्य और केंद्रशासित प्रदेश भी है जिनहोने जून महीने मे अनाज का वितरण नहीं किया है जिनमे है गुजरात ,बिहार ,तमिलनाडू ,महाराष्ट्र ,लद्दाख और सिक्किम है हम आपको यह जानकारी मंत्रालय के आधार पर दे रहे है इन सब की जानकारी केन्द्रीय खध मंत्रालय ने दी है

यह भी पढे : – PM Kisan Yojana में रजिस्ट्रेशन के बावजूद नही आये खाते में 2000 रु.

Yojanaफ्री राशन वितरण
LocationAll India
Yojana TypeKisan Yojana
Official WebsiteSarkari Yojana

2.14 करोड़ प्रवासी मजदूरो को ही मिल पाया है फ्री राशन

नरेंद्र मोदी ने यह घोसना 8 करोड़ लोगो के लिए कि थी जीनेक आधार पर 8 करोड़ लोगो को फ्री राशन देना था लेकिन अब तक केवल 2.14 करोड़ लोगो को ही इसका लाभ मिल पाया है यह मई और जून महीने मे इस राशन का वितरण होता है लेकिन गोवा और तेलंगाना दो एसे राज्य है जिनमे यह फ्री राशन का वितरण अब तक नहीं किया गया है इस फ्री राशन के लिए मोदी सरकार ने 3500 करोड़ रुपए की घोसना की थी जो की दो महीने तक था यह घोसना एसे मजदूरो के लिए थी जिनके पास केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों के राशन कार्ड नहीं है एसे लोगो को बिना राशन कार्ड अनाज विरतन किया जाता है इसके तहत मजदूर के परिवार को दी महीने तक प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज और प्रति परिवार 1 किलो दाल देनी थी

खध सचिव सुधांसू पाण्डेय ने प्रेस कोंफ्रेस के जरिए यह जानकारी दी है की अब तक देश मे 2.14 करोड़ प्रवाशी मजदूरो को मुफ़्फ़्त अनाज बांटा जा चुका है और यह संख्या दिन प्रति दिन बड़ रही है

कुछ राज्यो मे यह योजना चालू नहीं हो पायी

कुछ राज्यो मे यह योजना लागू नहीं हो पाई है इसका मुख्य करना यह प्रवाशी मजदूरो का चले जाना है जानकारी के अनुसार प्रवाशी मजदूर अपने अपने राज्य मे लोटकर जा चुके है जिसके कारण उन राज्यो ने पाने राज्य मे इस योजना को लागू नहीं किया गया है एसे मे इन राज्यो ने अनाज भी नहीं उठाया लेकिन कुछ राज्यो ने जारी किए गए अनाज से जादा का अनाज लिया है क्यूकी इन राज्यो मे प्रवाशी मजदूरो की संख्या ज्यादा है देश के वे कुछ राज्य जिनमे इस योजना को चालू नहीं किया गया है इन राज्यो ने केंद्र सरकार को चिठी लिखकर यह जानकारी दी है की उनके राज्य से प्रवाशी मजदूर चले गए है

अगर आप केंद्र सरकार की किसी भी योजना के बारे मे जानना चाहते है तो आप इस https://pmkisan.gov.in/ वैबसाइट पर जाकर इसके बारे मे और अधिक जानकारी ले सकते है और इन योजनाओ का लाभ भी ले सकते है

मंत्रालय के सचिव ने दी खराब वितरण की वजह

मंत्रालय ने आंकड़े जारी किए है जिनके अनुसार कुल आवंटित अनाज 8 लाख टन मेसे 80% को राज्यो और केंद्र शासित परदेशो ने उठा लिया है लेकिन अन्य 8 राज्यो ने और केंद्र शाहित प्रदेशों ने थोड़ा आनज उठाया है इन राज्यो ने दी महीने के अंदर 1,07,031 टन अनाज का वितरण कर दिया है मंत्रालय के सचिव ने जानकारी देते हुये कहा है की
12 राज्यो मे कुल आवंटित अनाज का 1% से भी कम वितरण किया गया है जिनमे सीकिम ,ओड़ीशा ,उतराखंड ,पांडुचेरी ,केरल इन राज्यो मे वितरण की दर सबसे कम है हालांकि सचिव ने इस खराब वितरण की कोई वजह नहीं बताई है और साथ मे उन्होने राज्यो को लाभार्थियो की लिस्ट 15 जुलाई तक देने को कहा है

योजना से जुड़े हुये कुछ सवाल :-

Q. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवाशी मजदूरो को लेकर क्या घोसना की थी ?

Ans. देश मे कोरोना संकट को देखते हुये सरकार ने यह खोसना की थी खास उन प्रवाशी मजदूरो के लिए की सरकार एसे लोगो को 2 महीने तक राशन फ्री देगी और यह घोसना 3500 करोड़ के बजट से थी जिसके तहत एसे प्र्वशी मजदूर जिनके पास केंद्र सरकार और राज्य सरकार से जारी किए गए राशन कार्ड नहीं है एसे लोगो को प्रति परिवार 1 किलो दाल और प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज दिया जाता है लेकिन अब भी दो राज्य गोवा और तेलंगाना एसे है जिनमे इस योजना के तहत अब तक एक भी लाभार्थी नहीं है इसका मुख्य कारण इन राज्यो से प्रवाशी मजदूरो का चले जाना है इन राज्यो मे अब प्रवाशी मजदूरो की संख्या कम है

Leave a Comment

Your email address will not be published.