body{--wp--preset--color--black:#000000;--wp--preset--color--cyan-bluish-gray:#abb8c3;--wp--preset--color--white:#ffffff;--wp--preset--color--pale-pink:#f78da7;--wp--preset--color--vivid-red:#cf2e2e;--wp--preset--color--luminous-vivid-orange:#ff6900;--wp--preset--color--luminous-vivid-amber:#fcb900;--wp--preset--color--light-green-cyan:#7bdcb5;--wp--preset--color--vivid-green-cyan:#00d084;--wp--preset--color--pale-cyan-blue:#8ed1fc;--wp--preset--color--vivid-cyan-blue:#0693e3;--wp--preset--color--vivid-purple:#9b51e0;--wp--preset--color--contrast:var(--contrast);--wp--preset--color--contrast-2:var(--contrast-2);--wp--preset--color--contrast-3:var(--contrast-3);--wp--preset--color--base:var(--base);--wp--preset--color--base-2:var(--base-2);--wp--preset--color--base-3:var(--base-3);--wp--preset--color--accent:var(--accent);--wp--preset--gradient--vivid-cyan-blue-to-vivid-purple:linear-gradient(135deg,rgba(6,147,227,1) 0%,rgb(155,81,224) 100%);--wp--preset--gradient--light-green-cyan-to-vivid-green-cyan:linear-gradient(135deg,rgb(122,220,180) 0%,rgb(0,208,130) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange:linear-gradient(135deg,rgba(252,185,0,1) 0%,rgba(255,105,0,1) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-vivid-orange-to-vivid-red:linear-gradient(135deg,rgba(255,105,0,1) 0%,rgb(207,46,46) 100%);--wp--preset--gradient--very-light-gray-to-cyan-bluish-gray:linear-gradient(135deg,rgb(238,238,238) 0%,rgb(169,184,195) 100%);--wp--preset--gradient--cool-to-warm-spectrum:linear-gradient(135deg,rgb(74,234,220) 0%,rgb(151,120,209) 20%,rgb(207,42,186) 40%,rgb(238,44,130) 60%,rgb(251,105,98) 80%,rgb(254,248,76) 100%);--wp--preset--gradient--blush-light-purple:linear-gradient(135deg,rgb(255,206,236) 0%,rgb(152,150,240) 100%);--wp--preset--gradient--blush-bordeaux:linear-gradient(135deg,rgb(254,205,165) 0%,rgb(254,45,45) 50%,rgb(107,0,62) 100%);--wp--preset--gradient--luminous-dusk:linear-gradient(135deg,rgb(255,203,112) 0%,rgb(199,81,192) 50%,rgb(65,88,208) 100%);--wp--preset--gradient--pale-ocean:linear-gradient(135deg,rgb(255,245,203) 0%,rgb(182,227,212) 50%,rgb(51,167,181) 100%);--wp--preset--gradient--electric-grass:linear-gradient(135deg,rgb(202,248,128) 0%,rgb(113,206,126) 100%);--wp--preset--gradient--midnight:linear-gradient(135deg,rgb(2,3,129) 0%,rgb(40,116,252) 100%);--wp--preset--duotone--dark-grayscale:url('#wp-duotone-dark-grayscale');--wp--preset--duotone--grayscale:url('#wp-duotone-grayscale');--wp--preset--duotone--purple-yellow:url('#wp-duotone-purple-yellow');--wp--preset--duotone--blue-red:url('#wp-duotone-blue-red');--wp--preset--duotone--midnight:url('#wp-duotone-midnight');--wp--preset--duotone--magenta-yellow:url('#wp-duotone-magenta-yellow');--wp--preset--duotone--purple-green:url('#wp-duotone-purple-green');--wp--preset--duotone--blue-orange:url('#wp-duotone-blue-orange');--wp--preset--font-size--small:13px;--wp--preset--font-size--medium:20px;--wp--preset--font-size--large:36px;--wp--preset--font-size--x-large:42px;--wp--preset--spacing--20:0.44rem;--wp--preset--spacing--30:0.67rem;--wp--preset--spacing--40:1rem;--wp--preset--spacing--50:1.5rem;--wp--preset--spacing--60:2.25rem;--wp--preset--spacing--70:3.38rem;--wp--preset--spacing--80:5.06rem}:where(.is-layout-flex){gap:0.5em}body .is-layout-flow > .alignleft{float:left;margin-inline-start:0;margin-inline-end:2em}body .is-layout-flow > .alignright{float:right;margin-inline-start:2em;margin-inline-end:0}body .is-layout-flow > .aligncenter{margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained > .alignleft{float:left;margin-inline-start:0;margin-inline-end:2em}body .is-layout-constrained > .alignright{float:right;margin-inline-start:2em;margin-inline-end:0}body .is-layout-constrained > .aligncenter{margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained >:where(:not(.alignleft):not(.alignright):not(.alignfull)){max-width:var(--wp--style--global--content-size);margin-left:auto !important;margin-right:auto !important}body .is-layout-constrained > .alignwide{max-width:var(--wp--style--global--wide-size)}body .is-layout-flex{display:flex}body .is-layout-flex{flex-wrap:wrap;align-items:center}body .is-layout-flex > *{margin:0}:where(.wp-block-columns.is-layout-flex){gap:2em}.has-black-color{color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-color{color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-color{color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-color{color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-color{color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-color{color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-color{color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-color{color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-color{color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-black-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-background-color{background-color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-black-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--black) !important}.has-cyan-bluish-gray-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--cyan-bluish-gray) !important}.has-white-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--white) !important}.has-pale-pink-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--pale-pink) !important}.has-vivid-red-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-red) !important}.has-luminous-vivid-orange-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-amber-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--luminous-vivid-amber) !important}.has-light-green-cyan-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--light-green-cyan) !important}.has-vivid-green-cyan-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-green-cyan) !important}.has-pale-cyan-blue-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--pale-cyan-blue) !important}.has-vivid-cyan-blue-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-cyan-blue) !important}.has-vivid-purple-border-color{border-color:var(--wp--preset--color--vivid-purple) !important}.has-vivid-cyan-blue-to-vivid-purple-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--vivid-cyan-blue-to-vivid-purple) !important}.has-light-green-cyan-to-vivid-green-cyan-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--light-green-cyan-to-vivid-green-cyan) !important}.has-luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-vivid-amber-to-luminous-vivid-orange) !important}.has-luminous-vivid-orange-to-vivid-red-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-vivid-orange-to-vivid-red) !important}.has-very-light-gray-to-cyan-bluish-gray-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--very-light-gray-to-cyan-bluish-gray) !important}.has-cool-to-warm-spectrum-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--cool-to-warm-spectrum) !important}.has-blush-light-purple-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--blush-light-purple) !important}.has-blush-bordeaux-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--blush-bordeaux) !important}.has-luminous-dusk-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--luminous-dusk) !important}.has-pale-ocean-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--pale-ocean) !important}.has-electric-grass-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--electric-grass) !important}.has-midnight-gradient-background{background:var(--wp--preset--gradient--midnight) !important}.has-small-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--small) !important}.has-medium-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--medium) !important}.has-large-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--large) !important}.has-x-large-font-size{font-size:var(--wp--preset--font-size--x-large) !important}.wp-block-navigation a:where(:not(.wp-element-button)){color:inherit}:where(.wp-block-columns.is-layout-flex){gap:2em}.wp-block-pullquote{font-size:1.5em;line-height:1.6} .separate-containers .inside-article>.featured-image{margin-top:0;margin-bottom:2em;display:none}

PM Kisan Yojana – अब हर महीने पेंशन लेने के लिए नही देना होगा पैसा , मिलेगी हर महीने किसान को पेंशन

PM Kisan Mandhan Yojana Form- प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना में पहले लोगों को पेंशन राशि प्राप्त करने के लिए हर महीने प्रीमियम राशि का निवेश करना होता था परंतु किसानों के लिए एक खुशखबरी है कि किसानों को अब मान धन योजना में निवेश करने के लिए निवेश करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि पीएम किसान योजना PM Kisan Yojana किसानों के लिए बेहद कल्याणकारी योजना लेकर आई है

PM Kisan Yojana - अब हर महीने पेंशन लेने के लिए नही देना होगा पैसा , मिलेगी हर महीने किसान को पेंशन

PM Kisan Yojana-

जैसा कि आप जानते हैं हर कोई व्यक्ति चाहता है कि वह किसी ऐसी योजना में कुछ धनराशि निवेश करें ताकि उसे 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने पेंशन राशि मिल सके ताकि उसका वृद्धावस्था जीवन आसानी पूर्वक बीत सके परंतु हर महीने पेंशन राशि प्राप्त करने के लिए बहुत सी ऐसी स्कीम है जिसमें व्यक्ति को प्रीमियम राशि निवेश करनी पड़ती है परंतु किसान को सबसे बड़ी समस्या हो जाती है क्योंकि आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण किसान किसी भी पेंशन योजना में राशि निवेश नहीं कर पाता जिसके कारण उसे वृद्धावस्था में काफी सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है किसान का वृद्धावस्था जीवन काफी मुश्किलों से गुजरता है

इस स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री मानधन योजना की शुरुआत की इस योजना में किसान को 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष की आयु के बीच में धनराशि बहुत कम निवेश करनी पड़ती है जिसके बाद उसे 60 वर्ष की आयु पूर्ण हो जाने पर हर महीने 3000 रुपए की पेंशन राशि मिलनी शुरू हो जाती है इस योजना में व्यक्ति को 55 रुपए से लेकर 200 रुपए की धनराशि हर महीने निवेश करनी पड़ती है परंतु किसान को अभी यह राशि अपनी जेब से निवेश करने की आवश्यकता नहीं है

क्योंकि किसान को केंद्र सरकार की ओर से पीएम किसान योजना के माध्यम से जो हर साल 6000 रुपए दिए जाते हैं उसी राशि में से यदि किसान इस योजना में धनराशि निवेश करना चाहे तो बैंक खाते से 6000 रुपए की राशि से इस योजना की प्रीमियम राशि काट ली जाएगी ताकि किसानों को पेंशन राशि प्राप्त करने में आसानी हो सके तथा उन्हें प्रीमियम राशि निवेश करने में किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े

ऑटो डेबिट होगी प्रीमियम राशि-

यदि आप पीएम किसान योजना से जुड़े हुए हैं और आप चाहते हैं कि आपको 60 वर्ष की आयु के बाद हर महीने पेंशन राशि 3000 रुपए मिले तो आप पीएम मानधन योजना में निवेश कर सकते हैं इसमें आपको धनराशि निवेश करने के लिए बार-बार बैंक में जाकर जमा करवाने की जरूरत नहीं है जैसे ही आपके बैंक खाते में किसान सम्मान निधि योजना के तहत किस्त आएगी उसी किस्त में से मानधन योजना के तहत प्रीमियम राशि हर साल आपके बैंक खाते से काट ली जाएगी जिसे ऑटो डेबिट कहा जाता है

मानधन योजना के लिए दस्तावेज-

  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता संख्या (बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक हो)
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • नॉमिनी का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • वोटर आईडी कार्ड

आवेदन की प्रक्रिया-

प्रधानमंत्री मानधन योजना में जुड़ने के लिए आप पर उसी बैंक में जाएं जिस बैंक में आपने अकाउंट ओपन करवा रखा है वहां से आप पर मानधन योजना का आवेदन फॉर्म ले तथा उसमें पूछी गई जानकारी को सही-सही भरें इसके बाद आपको दस्तावेजों की एक-एक फोटो कॉपी इसके साथ सलंगन करनी है और फोरम को बैंक में जमा करवा देना है इसके बाद हर साल आपके बैंक खाते से धन राशि निवेश के रूप में ऑटो डेबिट कर ली जाएगी

Note- पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त के बारे में जानने के लिए आप Yojana News App को डाउनलोड करें

Telegram Icon
Join Our Telegram Group
Telegram Icon
Join Our Telegram Group

Leave a Comment

RECENT