प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना कि राशी को किया जायेगा डबल प्रतिवर्ष 12000

प्रधानमंत्री किसान योजना कि राशी को किया जायेगा डबल जाने कब से मिलेगे प्रतिवर्ष 12000 रूपये

PM KISAN YOJANA BIG UPDATE – केंद्र सरकार प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना के तहत किसानो को दी जाने वाली आर्थिक सहायता राशी को डबल करने का विचार बना रही है.

#PMKisanYojana     #PMKisanSmanNidhiYojana    #प्रधानमंत्रीकिसानसमाननिधियोजना #KisanSmmanNidhiScheme   #किसानसमाननिधियोजना  #PMKisanSmanNidhiYojanaUpdate  #KisanSmanNidhiYojanaUpdate   #PMKisanYojanaUpdate  #किसानयोजनाअपडेट
प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना

केंद्र सरकार देश के किसानो को आर्थिक सहायता पहुचाने के लिए प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना को शुरू किया गया था जिसमे किसान को सालाना 6000 रूपये कि आर्थिक सहायता राशी को 3 किस्तों के आधार पर 2000 – 2000 रूपये 4 महीने बाद दिए जाते है लेकिन अभी विभिन्न मीडिया रिपोर्ट के आधार पर अनुमान लगाया जा रहा है कि केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानो के लिए बड़ी घोषणा कि जाएगी जिसमे विभिन्न मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक किसान योजना कि राशी को डबल किया जायेगा.

क्या तैयारी है सरकार कि योजना कि राशी डबल करने कि:-

देश में अभी विभिन्न मीडिया रिपोर्टर के मुताबिक केंद्र सरकार द्वारा बहुत जल्द पीएम किसान समान निधि योजना कि राशी को डबल करने का ऐलान किया जा सकता है जिसमे किसानो को प्रतिवर्ष 6,000 रूपये कि जगह 12,000 रूपये दिए जायेगे जिसके लिए ये अपडेट किसानो के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी हो सकती है लेकिन अभी तक किसान समान निधि योजना कि आर्थिक सहायता राशी को डबल नही किया गया है लेकिन केंद्र सरकार योजना कि राशी को डबल करने का विचार कर रही है.

कब तक होगी प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना कि राशी डबल:-

मिडिया रिपोर्ट्स का कहना है कि योजना कि राशी को डबल करने का खुलासा को बिहार के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने किया है जिसमे रिपोर्ट के मुताबिक हाल ही बिहार के कृषि मंत्री ने दिल्ली जाकर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात की थी जिसके बाद बिहार के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिह द्वारा कहा गया है कि किसान समान निधि योजना कि राशी को केंद्र सरकार द्वारा जल्द ही डबल किया जायेगा.

कैसे पता करे किसान योजना का लाभ क्यों नहीं मिल रहा है
पीएम किसान योजना रिजेक्ट लिस्ट कैसे देखे
Kisan Yojana इन 5 तरीको से देखे किसान योजना लिस्ट
PM KISAN YOJANA HELPLINE NUMBER
ऐसे ले प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ मिलेगी 80% सब्सिडी

इतने किसानो को मिला योजना का लाभ:-

सबसे पहले आपको बता दे कि अभी तक प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना कि 9 किस्तों का लाभ देश के किसानो को दिया जा चूका है जिसमे 9वीं किस्त में देश भर के 9.75 करोड़ से अधिक पात्रता रखने वालें किसानों के खाते में 19,500 करोड़ रुपये ट्रांसफर किये गये थे. जिसमे 9वी क़िस्त कि आर्थिक सहायता राशी को लाभार्थी किसानो के बैंक खाते में भेजा गया है जिसमे योजना के तहत अब तक देश के किसानों के खाते में 1.38 लाख करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर की जा चुकी है. योजना का लाभ लेने के लिए किसान ऑनलाइन मध्यम से आवेदन कर सकते है.

इन किसानो को मिलेगा योजना कि डबल राशी का लाभ:-

जिन किसानो के नाम पर कृषि योग्य जमीन है और किसान के परिवार में कोई सरकारी अधिकारी नहीं है उन किसानो को योजना का लाभ दिया जायेगा साथ में जिन किसानो का बैंक खाता है और बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक है व् आधार कार्ड और बैंक खाते में नाम एक है उन सभी किसानो को योजना का लाभ दिया जायेगा लेकिन किसान को योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकरण करना जरुरी है.

योजना का लाभ इन किसानो को नही मिलेगा:-

ऐसे किसान जिनके नाम पर कृषि योग्य भूमि नही है साथ में बैंक खाता नही है उन किसानो को योजना का लाभ नही दिया जायेगा साथ में अगर बैंक खाता है और बैंक खाते में और आधार कार्ड में नाम एक नही है तो उन किसानो को प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना का लाभ नही दिया जायेगा.

प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना का आवेदन कैसे करे:-

किसान प्रधानमंत्री किसान समान निधि योजना का आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मध्यम से कर सकते है किसानो को ऑनलाइन आवेदन पीएम किसान समान निधि योजना कि अधिकारी वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर कर सकते है और ऑफलाइन आवेदन किसान अपने क्षेत्र के नजदीकी ई-मित्र से या CSC सेंटर से कर सकते है.

#PMKisanYojana, #PMKisanSmanNidhiYojana, #प्रधानमंत्रीकिसानसमाननिधियोजना, #KisanSmmanNidhiScheme, #किसानसमाननिधियोजना, #PMKisanSmanNidhiYojanaUpdate, #KisanSmanNidhiYojanaUpdate, #PMKisanYojanaUpdate, #किसानयोजनाअपडेट,

Leave a Comment

Your email address will not be published.