PM सोभाग्य योजना में कैसे ले सकते है मुफ्त बिजली कनेक्शन

PM सोभाग्य योजना,pm saubhagya yojana online form,pm saubhagya yojana in hindi,pm saubhagya yojana apply online

यदि आपको PM सोभाग्य योजना का लाभ लेना है तो आप हमारी इस पोस्ट को ध्यान से पढ़े

PM सोभाग्य योजना की है:-

इस योजना कि सुरुआत देश के तत्कालीन प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी 25 सितम्बर
2017 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय कि जयंती पर कि थी इस योजना में देश के
गरीब किसान परिवार जिनका 2001 कि आर्थिक सामाजिक जनगणना में नाम है
उनको फ्री बिजली कनेक्सन देने का प्रावधान रखा है और यदि किसी गरीब परिवार का
इस 2001 कि लिस्ट में नाम नही भी है और वो गरीबी रेखा के निचे अपना जीवन
यापन करता हो उसे भी घबराने कि जरूरत नही है वो भी इस योजना के तहत लाभ ले
सकता है इसके लिए उस परिवार कि सरकार के तह नियमो के अनुसार एक छोटी सि
रकम भरनी होती है और उसको इस योजना से जोड़ दिया जाएगा सरकार के नियम के
अनुसार इन लोगो को सिर्फ 500 रूपये कि निवेश राशि से PM saubhagya yojana
का लाभ मिल जाएगा

PM saubhagya yojana उदेश्य:-

PM सोभाग्य योजना का मुख्य उदेश्य है कि देश के कुछ राज्यों में अब भी ऐसे गरीब
परिवार है जिनके घरों में कोई बिजली कनेक्शन नही है जिससे उनके बच्चों को पढाई
करने में काफी दिक्कत होती है ऐसे में केंद्र सरकार ने ये फेसला लिया कि इस गरीब
परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्सन दिए जाने चाहिए और इसके लिए सरकार ने 16
हजार करोड़ रूपये का विशेष बिजली कनेक्शन के लिए रखा है सरकार का मानना है
कि जिस घर में बिजली नही होती है उस घर में सबसे ज्यादा मुस्किल महिलाओं को
होती है वो रात के अंधेरे में बाहर नहियो निकलना चाहती है

और रात के समय में उनको खाना बनाने में काफी परेशानी होती है कभी कभी क्या होता
है कि अगर कोई गरीब परिवार बिजली कनेक्शन लेना चाहता है तो उसे बिजली दफ्तरों
में चक्कर काटने पड़ते है और ऐसे में किसान परिवार परेशान हो जाता है और वह इन
चक्करों से बचने के लिए बिजली कनेक्शन हि नही लेता है मगर इस योजना में गरीब
परिवार को ज्यादा चक्कर काटने नही पड़ते है 

PM सोभाग्य योजना में बिजली के लिए क्या क्या मिलता है:-

सरकार कि इस योजना के अंतर्गत यदि कोई गरीब परिवार मुफ्त बिजली कनेक्शन
लेता है तो उसे एक सोलर लाईट का सेट प्रदान करती है जिसमे 5 LED बल्ब और एक
पंखा दिया जाता है सरकार का उदेश सोलर लाईट को बढ़ावा देना है और इस योजना में
कोई भी कीई प्रकार का शुल्क नही देना पड़ता है

जिन राज्यों में इस योजना का सबसे पहले लाभ होगा वो:-

  • राजस्थान
  • बिहार
  • उत्तरप्रदेश
  • झारखण्ड
  • ओड़िसा
  • जम्मू कश्मीर
  • केरल
  • तमिलनाडु और पूर्वोतर के सभी राज्य

आवश्यक दस्तावेज:-

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • 1 पासपोर्ट साइज फोटो
  • मूलनिवास प्रमाण पत्र
  • 2001 कि जनगणना में नाम का प्रमाण

कुछ मह्त्वपूर्ण जानकारी:-

आपकी जानकरी के लिए बता दे कि सरकार कि इस योजना में कुछ निजी कम्पनियां
भी अपना योगदान दे रही है सरकर ने इस योजना के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में 14.025
करोड़ रूपये का बजट रखा है और शहरी क्षेत्रों में 50 करोड़ रूपये का बजट रख रही है
इस योजना से सबसे अधिक लाभ ग्रमीण परिवारों को मिलेगा क्योंकि इससे उनके
बच्चो को पढाई में कोई दिक्कत नही होगी और महिलाओं को खाना बनाने में सरकार
चाहती है कि लोग बिजली का उपयोग कम करे और सोरल लाईट का ज्यादा उपयोग
करे ताकि देश में बिजली कि खपत कम होगी

इस योजना कि अधिक जानकारी के लिए आप इसकी ओफिसियल वेबसाईट पर भी जा
सकते है जो इस प्रकार है https://powermin.nic.in/en/content/saubhagya

Leave a Comment

Your email address will not be published.