प्रसूति सहायता योजना 2021 आवेदन प्रक्रिया Application Form - ALL GOVT YOJANA

प्रसूति सहायता योजना 2021 आवेदन प्रक्रिया Application Form

प्रसूति सहायता योजना क्या है | prasuti sahayata yojana apply online | प्रसूति सहायता योजना के आवेदन की प्रक्रिया एक बारे में | prasuti sahayata yojana form pdf | प्रसूति सहायता योजना का लाभ प्रदान करना | mp prasuti sahayata yojana | प्रसूति सहायता योजना से होने वाले लाभ क्या क्या है |

प्रसूति सहायता योजना क्या है | prasuti sahayata yojana apply online | प्रसूति सहायता योजना के आवेदन की प्रक्रिया एक बारे में | prasuti sahayata yojana form pdf | प्रसूति सहायता योजना का लाभ प्रदान करना | mp prasuti sahayata yojana | प्रसूति सहायता योजना से होने वाले लाभ क्या क्या है |

मध्यप्रदेश सरकार की और से इस प्रसूति सहायता योजना को सुरु किया गया है इस की सुरुआत मध्यप्रदेश सरकार की और से 1 अप्रेल 2018 में की गई थी इसमें राज्य के श्रमिक परिवार की गर्भवती महिलाओं को शामिल किया जाएगा जिन श्रमिकों के पास लेबर कार्ड नाम का अहम दस्तावेज है उन श्रमिकों के परिवार की महिलाओं को गर्भावस्था के दोरान पोस्टिक आहार और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायेगी क्योंकि श्रमिक परिवार की महिलाओं को गर्भावस्था के दोरान सही और पोस्टिक भोजन नही मिल पाता है

जिसके कारण माता तथा जन्म लेने वाला बच्चा दोनों ही कुपोषण का शिकार हो जाते है एसी स्तिथि को सुधारने के उदेश्य से इस प्रसूति सहायता योजना को सुरु किया गया है ताकि मृत्यु दर में कमी लाइ जा सके इस योजना का लाभ लेने के लिए इन्छुक श्रमिक परिवार को ऑफलाइन आवेदन करना होगा ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में निचे मिल जायेगी जिसकी मदद से आप जान सकते है तथा जो दस्तावेज इसके आवेदन प्रक्रिया में जरूरी है उनके बारे में भी जानकारी आपको मिल जायेगी तो चलिए फिर जानते है इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार से

Prasuti Sahayata Yojana–मध्यप्रदेश राज्य में जो लोग है जिनके घर महिला किसी बच्चे को जन्म देने वाली है तो उस परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा यानी पंजीकृत श्रमिक परिवार में गर्भवती महिलाओं को मध्यप्रदेश सरकार की और से प्रसव के समय तथा प्रसव के बाद आर्थिक सहायता राशि प्रदान जाती है क्योंकि राज्य में बहुत सी गर्भवती महिलाओं की प्रसव समय या फिर प्रसव के बाद मृत्यु हो जाती है इसका मुख्य कारण है महिला को गर्भावस्था के दोरान पोस्टिक आहार नही मिल पाता है

तथा गर्भावस्था के दोरान जो जांचे होनी अनिवार्य है वो नही हो पाती है ऐसे में उनकी मृत्यु हो जाती है या फिर महिला या उसके पेट में पल रहा बच्चा यानी दोनों ही कुपोषण के शिकार हो जाते है इस समस्या को रोकने क्र लिए मध्यप्रदेश सरकार की और से गर्भवती महिलाओं को प्रसव के 3 माह पहले उनके वेतन यानी जो सहायता राशि सरकारी की और से दी जायेगी उसका 50% हिस्सा प्रदान कर दिया जाएगा और प्रसव के बाद 1000 रूपये सहायता राशि अलग से दी जायेगी

ये सहायता राशि प्रसव पर लगने वाले खर्चे के भुगतान के लिए दी जाती है इसके अलावा महिला के पति को भी पितृत्व योजना के तहत 15 दिन आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायेगी प्रसूति सहायता योजना के न की प्रक्रिया सुरु कर दी गई है यदि आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आर्टिकल को ध्यान से पढ़ कर आवेदन कर सकते है

प्रसूति सहायता योजना का मुख्य उदेश्य:-

इस प्रसूति सहायता योजना का मुख्य उदेश्य है की जो श्रमिक परिवार है उनमे गर्भवती महिलाओं को पोस्टिक आहार और गर्भावस्था के समय जो महत्वपूर्ण जांचे होती है उसके लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान करना ही है इस प्रसूति सहायता योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 16000 रूपये की सहायता राशि दी जाती है ये राशि महिलाओं को किस्तीं में दी अजएगी वो भी उनके बैंक अकाउंट में ताकि कोई अन्य व्यक्ति के हाथों में ये पैसे न लग जाए

गर्भवती महिला इस योजना के जरिये मिली राशि से गर्भावस्था के दोरान सही पोस्टिक आहार या फिर अन्य जरूरत की चीजे खरीद सकती है इस योजना में गर्भवती महिलाओं को प्रथम क़िस्त के रूप में 4 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है ये राशि महिला को स्वास्थ्य केंद्र में तिमाही की जांच करवाने के बाद दी जायेगी उसके बाद बाकी की 12 हजार रूपये की राशि महिला को प्रसव के बाद बच्चे के टीकाकरण तथा उसके पंजीयन व् अन्य जांच करवाने के बाद दी जायेगी

इस योजना के सुरु हो जाने से गरीब मजदूर परिवार की महिलाओं को प्रसव के पहले तथा प्रसव के बाद पोस्टिक भोजन मिल सकेगा जिससे महिला और उसके बच्चे का स्वास्थ्य ठीक रहेगा राज्य में महिला मृत्युदर में कम लाने में ये योजना काफी सहायक सिद्द होगी क्योंकि इस राशि की मदद से महिला अपनी जरूरतों को पूरा कर सकेगी और श्रमिक को भी उसके पोस्टिक भोजन और गर्भावस्था के समय होनी वाले जांच के लिए धनराशी का व्यय नही करना पड़ेगा

प्रसूति सहायता योजना के पंजीयन के लिए योग्यताएं:-

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को आवेदन के लिए निम्न प्रकार की योग्यताओं का ध्यान रखना होगा

  • उत्तरप्रदेश की गर्भवती महिलाओं के लिए इस योजना को सुरु किया गया है
  • जो महिलाएं श्रमिक परिवार से है और श्रमिक के पास लेबर कार्ड (श्रमिक कार्ड) है तो ही महिला इस योजना के लाभ के लिए आवेदन कर सकती है
  • महिला की आयु 19 वर्ष से कम नही होनी चाहिए
  • महिला के नाम से बैंक खाता होना जरूरी है वो भी महिला के आधार कार्ड से लिंक
  • महिला को प्रसव के लिए सरकारी अस्पताल में जाना होगा और वहा से चिकित्सा प्रमाण पत्र लेना होगा
  • असंगठित क्षेत्र में चाहे शहरी या फिर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले परिवार की गर्भवती महिला ही इस योजना की सही पात्र मानी जायेगी

MADHYA PRADESH LABOUR CARD

प्रसूति सहायता योजना के लाभ की लिस्ट:-

  • श्रमिक परिवार की महिलाओं को गर्भावस्था के समय तथा प्रसव के बाद जो पोस्टिक आहार मिलना चाहिए उसके लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जायेगी
  • इस प्रसूति सहायता योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को 16 हजार रूपये की धनराशी दी जायेगी
  • योजना में मिलने वाली धनराशी गर्भवती महिला के बैंक खाते में ट्रांसफर की जायेगी
  • इसमें में गर्भवती महिला को मिलने वाली राशि 2 किस्तों में दी जायेगी प्रथम क़िस्त में रूप में 4000 रूपये की राशि दी जायेगी
  • दूसरी क़िस्त बच्चे के जन्म के बाद उसके टीकाकरण तथा अन्य प्रक्रिया को पूरा करने के बाद 12 हजार रूपये की राशि दी जायेगी
  • इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश सरकार की और से जननी सुरक्षा योजना के तहत दिया जा रहा है
  • राज्य में कुपोषण के शिकार होने से मरने वाले नवजात बच्चे या फिर गर्भवती महिलाओं को बच्चे के लिए इस योजना को सुरु किया गया है
  • महिलाओं और बच्चों के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान सरकार की और से रखा जाएगा

जरूरी दस्तावेज:-

  • आवेदक महिला का आधार क्रेड
  • महिला का वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक खाता संख्या
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • चिकित्सा प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • डिलीवरी जिस अस्पताल से हुई है उसका प्रमाण पत्र
  • महिला का जन्म प्रमाण पत्र

Prasuti Sahayata Yojana में आवेदन कैसे करे?

प्रसूति सहायता योजना के आवेदन की प्रक्रिया ऑफलाइन है आइये जानते है किस प्रकार से इस योजना में आवेदन किया जा सकता है

  • सबसे पहले आपको श्रम विभाग मध्यप्रदेश के कार्यालय में या फिर अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाना होगा
  • इसके बाद महिला को उस Prasuti Sahayata Yojana आवेदन फॉर्म लेना है
  • इस आवेदन फॉर्म में आपसे जो जानकारी पूछी जाए उसे सही सही भरना है
  • फिर महिला को बताये गये दस्तावेजों को सलंग्न करना है और फॉर्म को जमा करवा देना है
  • इसके बाद चिकित्सा अधिकारी की और से एक मातृत्व एवं शिशु सुरक्षा कार्ड आपको दिया जाएगा
  • इसके बाद महिला को प्रसव के लगभग 6 सप्ताह के बाद फिर से उसी कार्यालय में जाकर आवेदन फॉर्म और भरना है जिसके बाद महिला को प्रसव के बाद आर्थिक धनराशी प्रदान कर दी जायेगी
  • अधिक जानकारी के लिए आप इस Prasuti Sahayata Yojana की आधिकारिक वेबसाइट की भी मदद ले सकते है इसके लिए आपको यहाँ पर क्लिक करना होगा

साइकिल सहायता योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन Application Form

Leave a Comment

Your email address will not be published.