[registration form ]राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना avedan form ~rajastha shadi.com

इंटर कास्ट मैरिज राजस्थान|How to claim money for intercaste marriage in Rajasthan|राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना|अंतर जाति विवाह लाभ|inter caste marriage benefits in hindi|other caste marriage benefits|अंतर जाति विवाह लाभ आवेदन फार्म|राजस्थान में अंतर जाति विवाह लाभ

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन –राजस्थान सरकार ने प्रदेश में अंतरजातीय विवाह को महत्व देने के लिय इस योजना को शुरू किया है इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार ने प्रदेश की वे बालिकाए जो अर्तिक रूप से कमजोर परिवार से है और sc /st वर्ग समुदाय है उनको आर्थिक मदद प्रदान करना जो युवा राज्य की obc समुदाय से है और sc /st समुदाय की बालिकाओ से शादी करते है उनको राज्य सरकार की और से 5 लाख रुपया तक की आर्थिक सहायता राशी प्रदान करवाना है राजस्थान के वैवाहिक आंकड़ो को देखे तो पिछले साल 187 जोड़ो को 87.50 लाख रुपया की आर्थिक सहायता राशी देने की घोषणा राज्य सरकार ने की है

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको इस अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के दस्तावेज , पात्रता , उधेश्य , लाभ और इसकी गुणवता के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे इसलिय आप से अनुरोध है की आप इस आर्टिकल को लास्ट तक देखे और योजना का लाभ उठाए

राजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना 2020

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन – राजस्थान सरकार ने प्रदेश में जो युवा साथी नीची जाति की महिला के साथ ऊँची जाति का लड़का शादी करना चाहते है तो उनके परिवार को राज्य सरकार 5 लाख रुपया तक की आर्थिक सहायता राशी प्रदान करेगी इस अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के अंर्गत राज्य सरकार चाहती है की प्रदेश में जो जाति विवाद है उनको ख़त्म करने के लिय अनेको योजनाओ को प्रदेश में शुरू किया जा रहा है इस योजना से राज्य में जाति विशेष का जो भेदभाव है उनको आप ख़त्म किया जएगा इसके साथ राजस्थान की महिलाओ को वैवाहिक समंध बनाने के लिय इस योजना को प्रदेश आज राजस्थान एक कुरीतियों का प्रदेश है इसमें अनेको भादभाव रखे जाते है

जिसका लाभ पाने व् कुरीतियों को ख़त्म करने के लिय राजस्थान सरकार ने ये बड़ा कदम उठाया है राज्य सरकार द्वारा जो सहायता राशी दी जाति है उनको दो भागो में वर्गीकृत किया गया है इन रुपयों को २.50 लाख रुपया तो राज्य सरकार sc/st समुदाय की बालिकाओ के घर वालो को देगी तथा बाकि बचे २.50 लाख रुपया लड़के के परिवार वालो को दिया जाएगा

राजस्थान इंदिरा रसोई घर योजना 2020

आर्टिकल किसके बारे में हैराजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना
शुरू की गईमुख्यमंत्री राजस्थान सरकार द्वारा
उधेश्यप्रदेश में जाति प्रथा व् कुरीतियों से मुक्त कराना है
लाभार्थीराजस्थान के युवक व् युवतिय
सहायता राशी5 लाख रुपया
ऑफिसियल वेबसाइटsjms.rajasthan.gov.in/sjms/Login.aspx

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना का मुख्य उधेश्य क्या है

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन – इस योजना का मुख्य उधेश्य है की प्रदेश में जो जाति विवाद की अवधारणा है उनको प्रदेश के लोगो के मन में जो भेदभाव है उनको दूर करना है इस योजना के अंतर्गत राज्य का कोई भी obc ya सामान्य समुदाय का लड़का जो 18 साल की उम्र से ज्यादा है और वो sc/st समुदाय की लड़की से शादी करता है तो उसे राज्य सरकार की और से 5 लाख रुपया तक की आर्थिक सहायता राशी दी जाएगी इस राशी को राज्य सरकार ने दो भागो में विभाजित किया है इसमें से २.50 लाख रुपया तो राज्य सरकार लड़के वाले के परिवार को दिया जाएगा तथा बाकि जो २.50 लाख रुपया है

इस राशी को sc/st वर्ग की बालिकाओ के परिवार को दी जाएगी इस योजना का उधेश्य है की प्रदेश में जो सामाजिक कुरीतिय है उनको कम करना तथा सभी समुदाय मिलकर एक साथ बने रहे इसी शिक्षा को प्रदेश के हर मनुष्य के अन्दर होनी चाहिय कोई भी भेदभाव नही होना चाहिय

राजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना होने वाले लाभ किस प्रकार है

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन – इस योजना से प्रदेश में जो जातियों के प्रति जो भेदभाव है उनको ख़त्म किया जाएगा राजस्थान सरकार अगर प्रदेश का कोई भी युवा साथी नीची जाति की बालिका के साथ शादी करना चाहते है तो उनको राज्य सरकार द्वारा 5 लाख रुपया की मदद राशी दी जाएगी उन्हें ‘एकमुश्त’ राशि मिलेगी तो नया घर बसाने में सुरक्षा रहेगी|

  • अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन राशि देने का यही मुख्य लाभ है उनको नया घर बनाने के लिए कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा|
  • सरकार की यह योजना अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन देने की है। सरकार का प्रयास है कि ऐसी योजनाएं समाज में सामाजिक समरसता पैदा करती हैं।
  • डॉ. सविता बेन अम्बेडकर अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजनान्तर्गत युगल के सुखद दांपत्य जीवन को सुनिश्चित करने के प्रयोजन से पति-पत्नी के लिए 5 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि में से 2.50 लाख रुपये |
  • दोनों के संयुक्त खाते में 8 वर्ष के लिए फिक्स डिपोजिट के रूप में |
  •  2.50 लाख रुपये दांपत्य जीवन के निर्वहन के प्रयोजनार्थ आवश्यक व घरेलू उपयोग आदि की चीजों की खरीद के लिए |
  • नकद सहायता उनके संयुक्त बैंक खाते के माध्यम से प्रदान किये जायेंगे।

राजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना के जरुरी पात्रता

  • राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य की स्थाई निवासियों को ही दिया जाएगा
  • इस योजना का लाभ राज्य के उन युवा को मिलेगा जो युवा साथी अन्य पिछड़ा वर्ग या सामान्य वर्ग से है और वो sc /st समुदाय की लड़की से शादी करता है तो इस योजना के पात्र सम्ह्जा जाएगा
  • इस योजना का लाभ लेने के लिय लड़के की उम्र 18 साल से 35 साल के बिच होनी जरुरी है
  • बालिका की उम्र भी 18 से 30 साल के बिच होनी चाहिय

राजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना के आवश्यक दस्तावेज

  • लड़के तथा लड़की का आधार कार्ड
  • दोनों के परिवार वालो का आधार कार्ड
  • परिवार का राशन कार्ड
  • लड़की का पहचान पत्र
  • लड़के का पहचान पत्र
  • दोनों का जन्म प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

राजस्थान अंतरजातीय vivah प्रोत्साहन योजना की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

राजस्थान राज्य का कोई भी परिवार का लड़का या लड़की इस अंतरजातीय विवाह योजना के अंतर्गत अपना ऑनलाइन पनिकरण करवाना चाहते है तो वे हमारे द्वारा जो बताए गए दिशा निर्देश है उनके अनुसार ही फॉर्म को ऑनलाइन अप्लाई करे ताकि इस योजना का लाभ पाने में कोई भी मुश्किल ना हो

लिंक पर क्लिक करने के बाद, आपके सामने एक पेज ओपन होगा। यहां आपको “Redirect to SSO” का बटन दिखाई देगा, फिर आप उस पर क्लिक करें। जैसा नीचे चित्र में दर्शाया गया है

  • उसके बाद आपको इस योजना से समन्धित जो भी दस्तावेज है उनको upload करना है
  • documents को upload करने के बाद निचे save बटन या submit बटन पर क्लिक कर देना है
  • इसके बाद आपकी अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अपना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया सम्पूर्ण हो जाएगी

Thanks for Comment