राजस्थान पालनहार योजना 2020,किनको मिलेगा इस योजना का लाभ और केसे करे इस योजना मे आवेदन

पालनहार योजना क्या है पालनहार योजना मे आवेदन केसे करे पालनहार योजना किनके लिए है राजस्थान पालनहार योजना का लाभ केसे ले राजस्थान पालनहार योजना का स्टेटस क्या है आपके इनहि सवालो के जवाब आपको इस आर्टिकल मे देंगे इस योजना मे आवेदन करने के लिए आप कहा से आवेदन कर सकते है अगर आप भी पालनहार योजना का लाभ लेना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढे यह योजना अनाथ बच्चो के पालन पोषण उनकी आर्थिक मदद केरने के लिए और उनकी और उन्हे शिक्षित करने के लिए चलाई गयी है

राजस्थान पालनहार योजना के बारे मे

इस आर्टिकल मे हम आपको राजस्थान पालनहार योजना के बारे मे बताएँगे की यह योजना क्या है और क्या क्या इस योजना के लाभ है यह योजना अनाथों बचो के लिए है उनका पालन पोषण करने और उनको शिक्षित करना है इस योजना मे अनाथ बच्चो की देखभाल की संस्थान मे न होकर उस बच्चे के परिवार के किसी सदस्य को उस बच्चे का पालनहार बनाया जाता है सरकार का मानना है की अगर बच्चे की पारिवारिक महोल मे शिक्षा होगी तो बच्चे का सुधार होगा और परिवार के बीच मे रहे पर बच्चे को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी

यह भी पढे : – गुजरात विधवा सहाय योजना 2020,जानिए क्या है

Yojanaपालनहार योजना
Locationराजस्थान
Yojana TypeCM Yojana
Official Website

इस योजना से उन बच्चो को बहुत ज्यादा फायदा होगा जो अनाथ है एसे बच्चो का भविस्य बनेगा वो आर्थिक रूप से बेसहारा नहीं होंगे और किसी और पर अपने जीवन व्यापन के लिए आश्रित नहीं होंगे

योजना के लिए पात्रता

इस योजना का लाभ उन बच्चो को दिया जाता है जो अनाथ है एसे बच्चो को सरकार उनका पालन पोषण करने के लिए और उनको शिक्षित करने के लिए उनकी आर्थिक मदद करती है जो बच्चे का पालनहार बनता है उसके परिवार की वार्षिक आय 1.20 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए योजना के तहत अनाथ बचे को 2 वर्ष की आयु होने पर आंगनबाड़ी केंद्र और 6 वर्ष की आयु होने पर स्कूल भेजना जरूरी है

इस योजना की शुरुवात फरवरी 2005 मे की गयी थी शुरुवात मे यह योजना उन बच्चो के लिए चलाई गयी थी जो अनुसूचित जाती के थे अब इस योजना मे टाइम टाइम पर संसोधन करते हुये निम्नलिखित श्रेणियों को जोड़ा गया है :-

  • आजीवन कारावास या न्यायिक प्रक्रिया से मृत्यु दंड प्राप्त माता पिता की संतान
  • अनाथ बच्चे
  • एसी माँ जो किसी भी विधवा पेंशन योजना का लाभ नहीं ले रही है उसके बच्चे
  • पुनर्विवाहित विधवा माता के बच्चे
  • नाते जाने वाली माता के अधिकतम तीन बच्चे पर
  • एड्स से पीड़ित माता पिता की संतान
  • विकलांग माता पिता की संतान
  • कुस्थ रूग से पीड़ित माता पिता की संतान
  • तलाकशुदा महिला की संतान

योजना मे नए संसोधन के बाद ऊपर दिया गए श्रेणी के लोग इस योजना का लाभ ले सकते है

पालनहार योजना मे मिलने वाली राशि

इस आर्टिकल मे हम आपको इस योजना के तहत मिलने वाली राशि के बारे मे बताएँगे वो परिवार जो अनाथ बच्चे का पालनहार बनता है उस परिवार को बच्चे की 5 वर्ष आयु तक प्रति माह 500 रुपए दिये जाते है और बाद मे स्कूल मे जाने के बाद 18 साल की उम्र हो जाने के बाद 1000 रुपए प्रतिमह दिया जाता है इसके अलावा बच्चे की स्वेटर ,जूते ,वस्त्र आदि के लिए 2000 हजार रुपए प्र्तिवर्ष दिये जाते है जो परिवार पालनहार बनता है वह अगर शहरी है तो विभागीय जिला अधिकारी के द्वारा और अगर वह गाव से है तो उसे संबन्धित विकास अधिकारी से स्वीकृत किया जाता है

राजस्थान पालनहार योजना के लिए आवेदन केसे करे

इसमे हम आपको बताएँगे की आप किस प्रकार से इस योजना मे आवेदन कर सकते है आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी आधिकारी वैबसाइट https://sje.rajasthan.gov.in पर जाना होता है इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने इस योजना का फोरम आता है इस फॉर्म को आपको डाउनलोड करना होता है इस फॉर्म मे आपसे मांगी गयी सारी जानकारी आपको इसमे भरनी होती है इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होता है और आपका आवेदन हो जाता है

योजना का उधेश्य

यह योजना अनाथ बच्चो के लिए है अत सरकार का इस योजना के तहत खास उन बच्चो की देखभाल करना है जो अनाथ है एसे बच्चो का पालन पोषण किसी अनाथ आश्रम मे न होकर बच्चे के परिवार को ही उस बच्चे का पालनहार बनाया जाता है और वो पालनहार बच्चे की देखभाल करता है और उसकी शिक्षा का ध्यान रखता है

योजना से जुड़े हुये सवाल

Q. पालनहार योजना क्या है ?

Ans.यह योजना अनाथ बच्चो के लिए है अत सरकार का इस योजना के तहत खास उन बच्चो की देखभाल करना है जो अनाथ है एसे बच्चो का पालन पोषण किसी अनाथ आश्रम मे न होकर बच्चे के परिवार को ही उस बच्चे का पालनहार बनाया जाता है और वो पालनहार बच्चे की देखभाल करता है और उसकी शिक्षा का ध्यान रखता है

Q. पालनहार योजना किस राज्य से जुड़ी हुई है ?

Ans. राजस्थान

Q. इस योजना को चालू कब किया गया था ?

Ans. फरवरी 2005 को इस योजना को चालू किया गया था पहले यह योजना खास अनुसूचित जाती के अनाथ बच्चो के लिए थी लेकिन बाद मे इस योजना मे संसोधन किए गए और इसके लाभ सभी को दिये गए जो इसके पात्र है

Leave a Comment