Advertisement
Categories
PM SARKARI YOJANA

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना ऑनलाइन आवेदन मिलेंगे 10 रुपए मे एलईडी बल्ब (Apply Form)

Advertisement

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया क्या है | pradhan mantri gramin ujjwala yojana application form online | प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना ऑनलाइन पंजीयन फॉर्म | pradhan mantri ujjwala yojana apply form | प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना का लाभ किस प्रकार ले ऑनलाइन तरीका

आज दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको बताने वाले है की प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना सरकार जल्द ही शुरू कर सकती है देश मे बढ़ रही ऊर्जा की मांग को देखते हुये एनर्जी एफिसिएन्सि सेर्विसेज लिमिटेड (ईईएसएल) सालो से ऊर्जा के क्षेत्र मे काम कर रही है इसका मकसद बिजली को बचाना है और गावों मे और शहरो मे बिजली अभियान चलाना है ईईएसएल का उदेश्य है

Advertisement

की बिजली बिल मे कमी आए इसलिए ईईएसएल जल्द ही गावों मे एक अभियान चलाने जा रही है जिसका नाम ग्रामीण उजाला योजना रखा है अगर आप ग्रामीण उजाला योजना के बारे मे और अधिक जानना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को अंत तक देखिये इसमे आपको इससे संबन्धित सारी जानकारी मिलेगी तो चलिए जानते है इसके बारे में पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना (Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021):-

यह योजना बिजली को बचाने के लिए सरकार जल्द ही गावों मे ला सकती है ईईएसएल काफी टाइम से ऊर्जा दक्षता के क्षेत्र मे काम कर रही है इसके तहत गावों मे बिजली बचाई जाए और लोगो के बिजली के बिल काम आए इसके लिए यह गावों मे एक अभियान चलाएगी जिसका नाम ग्रामीण उजाला योजना रखा है

ईईएसएल के प्रबंध निदेशक सौरभ कुमार है उन्होने बताया की गावों मे प्रति परिवार सिर्फ 10 रुपए मे 3 से 4 एलईडी बल्ब दिये जाएंगे इस योजना के तहत देश मे करीब 15 करोड़ परिवार को यह एलईडी बल्ब दिया जाएगा जो बिजली मंत्रालय के अंतर्गत उपकरण आते है जेसे पीएफ़सी ,एनटीपीसी ,आरईसी इनमे ईईएसएल इस इस योजना के तहत 50 करोड़ एलईडी बल्ब का वितरण होगा

Advertisement

सभी प्रकार की सरकारी योजनाओं के आवेदन की जानकारी के लिए क्लिक करे:-

योजनाप्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
लोकेशनपुरे देश में
अपडेट2021
योजना टाइपहर वर्ग के लिए
ऑफिसियल वेबसाइटbeeindia.gov.in/

ईईएसएल का मानना है की इस योजना के तहत दिये जाने वाले एलईडी बल्ब से करीब 12,000 मेगावाट बिजली की बचत होगी और वही कार्बन उत्सर्जन मे सालाना 5 करोड़ तन की कमी आएगी

ईईएसएल पहले भी चला चुकी है इस प्रकार की योजना:-

ईईएसएल लगातार बिजली बचाने के क्षेत्र मे काम कर रही है इसने पहले भी इस प्रकार की योजना चलाई है जिससे की बिजली बच सके इसने 70 रुपए की दर से 36 करोड़ से अधिक एलईडी बल्ब का वितरण कर चुकी है जिनमे से 20% बल्ब का ही वितरण गावों मे हो पाया है

Advertisement

ईईएसएल के निदेश ने बताया की हम जल्द ही गावों मे ग्रामीण उजाला योजना को शुरू करने जा रहे है लेकिन अभी इस योजना को लाने के लिए काम चल रहा है ईईएसएल की इस योजना के तहत गावों मे 10 रुपए एक एलईडी के दर से प्रति परिवार 3 से 4 एलईडी बल्ब का वितरण किया जाएगा आपको यह बता देते है की इस योजना पर ईईएसएल अभी काम कर रही है अभी 3 से 6 महीने इस योजना को गावों मे लाने के लिए लग जाएगे

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना का मुख्य उदेश्य क्या है?

इस योजना का मेन मकसद बिजली को बचाना है ईईएसएल लगातार इसके क्षेत्र मे काम कर रही है पहले इसके इस प्रकार की योजना चलाई गयी थी जिसके तहत ईईएसएल ने लगभग 36 करोड़ एलईडी बल्ब 70 रुपए प्रति एक एलईडी बल्ब की दर के आधार पर दिये थे लेकिन अब इस योजना के तहत यह एलईडी बल्ब 10 रुपए प्रति बल्ब के आधार पर देश भर मे लगभग 50 करोड़ एलईडी बल्ब का वितरण करेगी ईईएसएल चाहती है की गावों मे लोगो के बिजली का बिल काम आए और बिजली बचाई जाए

ज्यादा लागत का होना हो सकता है एक बड़ा कारण:-

ईईएसएल ने पहले से इस प्रकार की योजना चला रखी है जिसके तहत 70 रुपए प्रति एलईडी की दर से दी जा रही है और लगभग 36 करोड़ लोगो को एलईडी बल्ब दिये जा चुके है लेकिन गावों मे इसकी हीसेदारी सिर्फ 20% है इसका मुख्य कारण बड़ी लागत का होना हो सकता है क्योंकि एलईडी की कीमत अभी ज्यादा है लेकिन जम्मू कश्मीर ,पांडुचेरी और आंध्र प्रदेश ने अपने राज्य मे एलईडी बल्ब पर सबसिडी देते हुये 10 रुपए मे एलईडी बल्ब दिया गया था

जिसका फर्क यह हुआ की इन राज्यो मे गावों मे 95% तक बल्ब गावों मे पहुच चुके है अब ईईएसएल ने कहा है की इन राज्यो को देखते हुये हम इस प्रकार की योजना को ला रहे है इसका फायदा ये हुआ की गावों मे इस योजना के तहत 50 करोड़ एलईडी बल्ब का वितरण किया जाएगा जिससे अधिकतम 12,000 मेगावाट को बिजली को बचाया जा
सकता है और एक अनुमान के आधार पर इससे बिजली बिल मे 25,000 से 30,000 करोड़ रुपए की सालाना बचत होगी और कार्बन उत्सर्जन मे सालाना 5 करोड़ टन की कमी आएगी

ग्रामीण उजाला योजना:-

ईईएसएल के निदेशक कुमार ने बताया की इस योजना से लोगो के बिजली बिल मे कमी आएगी जिससे लोगो के पेसो मे भी बचत भी होगी पेसे काम होने पर एलईडी बल्ब की मांग बढ़ेगी और जिससे निवेश भी बढ़ेगा कुमार ने बताया की अगर यह योजना सफल रहती है तो हम गावो मे सस्ती दर ट्यूबलाइट भी उपलब्ध करवाई जाएगी योजना के
तहत कुमार ने कहा है की कार्बन ट्रेंडिंग और प्रमाण पत्र का मामला सयुंक्त राष्ट्र से जुड़ा हुआ है और इस योजना को मजूरी मिलने मे अभी एक से डेड महिना लग सकता है

क्या होगी इस एलईडी बल्ब मिलने की प्रोसेस और योजना की प्रोसेस?

ईईएसएल ने बताया की हम इस योजना के लिए ना तो केंद्र सरकार से कोई सबसिडी ले रहे है और न हीं राज्य सरकार से किसी भी प्रकार की सबसिडी ले रहे है योजना पर होने वाला सारा खर्चा ईईएसएल उठाएगी कुमार ने बताया की कार्बन ट्रेंडिंग के माध्यम से लागत को वसूला जाएगा योजना के तहत कुमार ने बताया की हम प्रतिपरिवार तीन एलईडी बल्ब देंगे और उसके बदले तीन पुराने बल्ब लेंगे और उनका संग्रह करेंगे

और उनकी निगरानी करेंगे फिर उनको नष्ट किया जाएगा ये सब कार्यकर्म सयुंक्त राष्ट्र की मजूरी के आधर पर होगा और यह हमे इसके बदले कार्बन प्रमाण पत्र देंगे कुमार ने बताया की इन प्रमाण पत्र की दूसरे विकसित देशो मे बहुत मांग है वहा पर इनको देकर एलईडी बल्ब की लागत को वसूला जाएगा

योजना की अधिकारिक वेबसाइट:-

यदि आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते है और इस योजना के बारे में कोई भी जानकारी जानने के इन्छुक है तो सरकार की और से जारी की गई इस योजना लो अधिकारिक वैबसाइट beeindia.gov.in/ पर जाकर इसके बारे मे अधिक जानकारी ले सकते है

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के जरिये होने वाली बचत के बारे में:-

केंद्र सरकार की और से इस योजना को कई चरणों में सुरु किया जाएगा हर राज्य के लोगों को इसका लाभ चरणों के हिसाब से दिया जाएगा केंद्र सरकार की और से इस योजना का प्रथम चरण में उत्तरप्रदेश,महारास्ट्र,गुजरात,बिहार,आंध्रप्रदेश राज्यों को इसमें शामिल करके वहा के लोगों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा तथा हर साल इस योजना के जरिये काफी ज्यादा बिजली की बचत होने वाली है यानी अगर सही माने में माने तो केंद्र सरकार की इस प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के जरिये देश में 9324 करोड़ यूनिट बिजली की बचत होने वाली है

और अगर पैसों की बात करे तो इस योजना के सुरु हों जाने के बाद हर साल 50 हजार करोड़ रूपये की बचत देश को होने वाली है क्योंकि इस योजना से सालाना कार्बन उत्सर्जन में 7.65 तन की कमी आने वाली है जो की अपने आप में बिजली बचत में काफी सहायक होने वाली है साथ ही साथ आपको ये भी बता दे की सरकार की इस योजना के तहत किसी भी प्रकार की सब्सिडी को केंद्र सरकार या फिर राज्य सरकार की और से नही वसूला जाएगा तथा इस योजना का पूरा खर्चा EESL की और से वहन किया जाएगा

सुकन्या समृधि योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म – Sukanya Samridhi Yojana

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना से होने वाले लाभ तथा मुख्य विसेषता:-

Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021 से जो लाभ लोगों को होने वाले है तथा इसके साथ साथ देश को भी जो लाभ प्राप्त होने वाले है वो कुछ इस प्रकार के है

  • इस योजना को केंद्र सरकार के निर्देशों सी EESL एजेंसी की और से संचालित किया जा रहा है
  • सरकार की इस योजना में देश के सभी वर्ग के लोगों को शामिल करके उन्हें 3 से लेकर 4 LED लाईट दी जायेगी
  • इस Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021 के जरिये लोगों को जो LED बल्ब मिलने वाले है उनकी कीमत लोगों को सिर्फ 10 रूपये प्रति बल्ब के हिसाब से दनी है
  • देश के लगभग 20 से लेकर 25 करोड़ परिवारों को इस योजना में शामिल करके उन्हें LED बल्ब दिए जायेगे
  • देश में लगभग 60 करोड़ से भी ज्यादा LED लाईट लोगों को इस योजना के जरिये दी जाने वाली है
  • इस योजना का पूरा खर्च EESL (कार्बन ट्रेडिंग) की और से किया जाएगा
  • Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021 के सुरु हो जाने से देश में हर साल लगभग 9324 करोड़ यूनिट बिजली की बचत होने वाली है
  • इसके अलावा हर साल अब कार्बन उत्सर्जन में भी कमी आने वाली है अगर सही मायने में माना जाए तो अब हर साल 7.65 तन कार्बन उत्सर्जन में कामी आने वाली है
  • देश में बिजली की हो रही खपत में कमी आएगी
  • हर वर्ष 50 हजार करोड़ रूपये की बचत देश को होने वाली है
  • लोगों की कमजोर आर्थिक स्तिथि में सुधार आएगा तथा लोगों को बिजली के प्रति हो रही समस्या से भी मुक्ति मिल जायेगी
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए लोगों को इस Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2021 में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा जिसके बाद उन्हें इस योजना में शामिल किया जाएगा
  • सरकार की इस योजना को कई चरणों में बांटकर लोगों को इसका लाभ प्रदान किया जाएगा

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के लिए दस्तावेज;-

केंद्र सरकार की इस प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना में आवेदन करके लाभ लेने के लिए जिन दस्तावेजों की जरूरत लोगों को पड़ने वाली है वो कुछ इस प्रकार के होंगे

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बिजली बिल
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • फ़ोन नंबर

महत्वपूर्ण जानकारी:-

केंद्र सरकार के निर्देशों से इस प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की सुरुआत की गई है और इस योजना को EESL की और से चलाया जा रहा है इस योजना में ख़ास करके देश के ग्रामीण क्षेत्रों के परिवारों को शामिल किया जा रहा है उन्हें सस्ती दर पर LED बल्ब प्रदान किये जा रहे है ताकि हर परिवार को अधिक बिजली बिल का भुगतान न करना पड़े उनकी आर्थिक स्तिथि पर कोई बुरा असर नही पड़े सरकार की इस योजना से ग्रामीणों को पैसों की बचत होने वाली है तथा देश में बढती बिजली की खपत को रोकने में काफी ज्यादा आसानी होने वाली है

इस योजना में ग्रामीण ख्सेत्रों के परिवारों को सिर्फ 10 रूपये प्रति बल्ब के हिसाब से 3 से लेकर 4 बल्ब दिए जायेगे ताकि लोग अधिक वाट की क्षमता वाले बल्बों का प्रयोग बंद कर दे जिससे बिजली खपत को रोका जा सके इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए EESl की और से इसकी ऑफिसियल वेबसाइट भी जारी कर दी गई है जिसके बारे में हमने आपको इस आर्टिकल में बता दिया है

हेल्पलाइन नंबर:-

योजना के हेल्पलाइन नंबर के लिए आइये जानते है

  • सबसे पहले आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट को खोले beeindia.gov.in/ जिसके बाद जो इसका मुख्य पेज ओपन होगा उसमे आपको उपर ही उपर की लाइन में हमसे सम्पर्क करे का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है
  • इस पर क्लिक करते ही इस उजाला योजना के हेल्पलाइन नंबर ओपन हो जायेगे
  • इस हेल्पलाइन नंबर की मदद से आप सभी प्रकार की जानकारी बिना किसी शुल्क के दिए प्राप्त कर सकते है क्योंकि ये नंबर टोल फ्री नंबर है जो ग्राहक की सेवा के लिए हमेशां चालु रहते है

अटल पेंशन योजना पंजीयन फॉर्म 2021 Atal Pension Application Form

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.