शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना 2021 बिहार Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana Apply Form - ALL GOVT YOJANA

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना 2021 बिहार Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana Apply Form

Sikshka of anudan sahayata yojana apply in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना ऑनलाइन पंजीयन | sikshka of anudan sahayata yojana registration in hindi form | sikshka of anudan sahayata yojana last date apply form | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना पंजीकरण फॉर्म | sikshka of anudan sahayata yojana bihar state in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है और क्या क्या लाभ है |

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना 2021:—निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों के बच्चे यदि IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि प्रकार की उच्च शिक्षा प्राप्त करन चाहते है मगर श्रमिक निर्माण कार्य से जुदा हुआ होने के कारण उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त नही करवा पाता है और मजबूरन श्रमिकों के बच्चों को अपनी पढाई को अधूरा छोड़ना पड़ता है ऐसे कामगार श्रमिकों के पढने वाले होशियार बच्चों को बिहार सरकार की इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के तहत 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है ये सहायता राशि उन श्रमिकों के बच्चों को दी जायेगी जो उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इन्छुक है

Sikshka of anudan sahayata yojana apply in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना ऑनलाइन पंजीयन | sikshka of anudan sahayata yojana registration in hindi form | sikshka of anudan sahayata yojana last date apply form | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना पंजीकरण फॉर्म |  sikshka of anudan sahayata yojana bihar state in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है और क्या क्या लाभ है |

और श्रमिक के पास लेबर कार्ड है इस योजना में बच्चों के ट्यूशन की फ़ीस तक बिहार सरकार की और से वहन की जाती है दरअसल इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना को बिहार श्रम संसाधन विभाग की और से चलाया जा रहा है और इसे बिहार राज्य के लगभग सभी जिलों में सुरु कर दिया गया है शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के पंजीकरण की सारी विधि इस पोस्ट में हमारे द्वारा बताई गई है इसके बारे में आपको ध्यान से पढकर सारी जानकारी जान सकते है

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana Apply Form (शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना):-

घर की आर्थिक स्तिथि ठीक न होने के कारण बिहार राज्य में बहुत से श्रमिकों के ऐसे बच्चों है जो अपनी पढाई को बीचे में छोड़ने को मजबूर हो जाते है और उन्हें अपने माता या पिता के साथ दिन रात मेहनत मजदूरी करके घर का खर्चा चलाने में सहायता करनी पड़ी है इससे बच्चों के भविष्य पर काफी बुरा असर पड़ता है इसके साथ साथ बिहार राज्य में बेरोजगारी जैसी समस्या उत्पन हो जाती है एसी समस्या को रोकने के लिए बिहार श्रम संसाधन विभाग की और से इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना की सुरुआत की गई है इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना में श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए 5000 रूपये से लेकर के 20000 रूपये की सहायता राशि मुहहिया करवाई जाती है

इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का लाभ बच्चों को तभी दिया जाएगा जब वो किसी उत्क्रिस्ठ सरकारी संस्थानों में उच्च शिक्षा ग्रहण करते है इसमें अलग अलगे उच्च शिक्षा के लिए बच्चो को आर्थिक सहायता राशि दी जाती है जिन बच्चों के माता या पिता श्रम संसाधन विभाग में पंजीकृत है उन बच्चों को इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के जरिये 20000 रूपये तक की धनराशी दी जाती है श्रमिक को अपने बच्चों के लाभ हेतु इस योजना में पहले पंजीकरण करवाना होगा जिसके बाद उन्हें इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना में शामिल करके दी जाने वाली सहायता राशि दी जायेगी

योजनाशिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://bocw.bihar.gov.in/
राज्यबिहार

रिन्यू बिहार लेबर कार्ड अप्लाई फॉर्म BIHAR LABOUR CARD RENEWAL Application Form

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का उदेश्य क्या है?

श्रम संसाधन विभाग बिहार की और से सुरु की गई इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का मेंन उदेश्य यही अहि की जो श्रमिक अपने बच्चों को उच्च शिक्षा नही दिला पाते है क्योंकि श्रमिक की कमाई इतनी अधिक नही होती है की वह अपने बच्चों को IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि जैसी उच्च शिक्षा दिला सके बच्चों को पढाई बीच में छोड़ने को मजबूर होना पड़ता है ऐसे श्रमिकों को अब अपने बच्चों की पढाई की चिंता नही करनी पड़ेगी क्योंकि बिहार सरकार ने अब बच्चों की पढाई के लिए लगने वाले खर्च का भुगतान स्वयं करने के जिम्मा लिया है इससे बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेगे

श्रमिक को बच्चों की पढाई हेतु वित्तीय सहायता राशि मुहहिया करवाना इस IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि का मुख्य उदेश्य है ताकि श्रमिक के बच्चे भी पढाई करके रोजगार को प्राप्त कर सके रोजगार जैसी समस्या को रोकने में ये योजना काफी कारगर सिद्द होगी जिन श्रमिकों के पिता के पास या फिर माता के पास लेबर कार्ड नही है उन बच्चों को मिलने वाली सहायता राशि नही दी जायेगी इसलिए हर शर्मिक के पास लेबर कार्ड होना बहुत जरूरी होता है शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना बिहार सरकार की और से सुरु की आगी 16 योजनाओं में से एक योजना है

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के जरिये मिलने वाली राशी:-

1. IIT,IIM,AIMS की पढाई करने वाले बच्चों को उनके ट्यूशन की फ़ीस दी जायेगी
2.Btech या फिर इसके पास की कक्षा की तैयारी करने वाले बच्चों को20000 रूपये की राशि दी जायेगी
3.नर्सिंग या फिर पोलोटेकनिकल जैसे डिप्लोमा के लिए10000 रूपये
4.ITI की तैयारी करने वाले बच्चों को 5000 रूपये की राशि दी जाती है

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए श्रमिक की आय:-

पंजीकृत श्रमिक की वार्षिक आय यदि 2 लाख रूपये से अधिक नही है तो ही श्रमिक के बच्चों के लिए दी जाने वाली आर्थिक धनराशी दी जायेगी यदि श्रमिक इससे अधिक राशि हर साल कमाता है तो उसके बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि नही दी जायेगी

बिहार सेवानिवृत श्रमिक पेंशन योजना 2021 Sevanivriti Shramik Pension Yojana Online Registration

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए योग्यता के बारे में जानकारी:-

  • जिन श्रमिकों के पास श्रमिक कार्ड है और वो भी कम से कम 5 साल की सदस्यता प्रमाण पत्र के साथ है उन मजदूरन के बच्चों को शिक्षा के लिए धनराशी दी जायेगी
  • श्रमिक के पास बिहार राज्य का स्थाई निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए
  • श्रमिक की सालाना आय 2 लाख से अधिक नही होनी चाहिए
  • अगर श्रमिक के बच्चे किसी एसी ही योजना के लाभ हेतु आवेदन कर चुके है तो उन्हें इस योजना के लिए आवेदन करने की इजाजत नही दी जायेगी
  • केवल उच्च शिक्षा के लिए इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है
  • पंजीकृत श्रमिक दो बच्चों के लिए इस योजना का लाभ ले सकता है यदि तीन बच्चे श्रमिक के घर में है तो सिर्फ दो बच्चे के लिए आवेदन किया जा सकता है
  • श्रमिक या फिर बच्चों के बैंक खाते में अनुदान राशि दी जायेगी

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana से लाभ (Benefit):-

  • बिहार राज्य के श्रमिकों के बच्चों को 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये की राशी उच्च शिक्षा के लिए दी जायेगी
  • किसी भी बच्चे को आर्थिक कमजोर होने की स्तिथि में अपनी पढाई को बीच में नही छोड़ना होगा
  • मिलने वाली राशि श्रमिक के बैंक खाते में भेजी जाएगी
  • बढती बेरोजगारी को काफी हद तक रोकने में आसानी हो जायेगी
  • बिहार राज्य के पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करना इस Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana का मुख्य उदेश्य है और लक्ष्य है

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana के लिए दस्तावेज कोन कोन से जरूरी है?

  • आधार कार्ड
  • बच्चों की शैक्षिक योग्यता (कोनी श्रेणी की शिक्षा प्राप्त कर रहे है)
  • बैंक खाता संख्या
  • राशन कार्ड
  • श्रमिक का सदस्यता प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • आय प्रमाण पत्र

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के पंजीयन की विधि क्या है?

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लाभ हेतु ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है इस योजना के लाभ के लिए बच्चे ऑनलाइन आवेदन नही कर पायेगे क्योंकि इसकी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया प्रारम्भ नही की गई है

श्रमिक या फिर पढने वाले बच्चे को श्रम संसाधन विभाग बिहार के मुख्य कार्यालय में जाकर के आवेदन फॉर्म को भरकर दस्तावेजों की सहायता से आवेदन करना होगा

मुख्यमंत्री कन्या विवाह अनुदान योजना 2021 {बिहार} Mukhyamantri Kanya Vivah Anudan Yojana Form

प्रश्न- शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है

उतर- जो बिहार राज्य के पंजीकृत मजदूर लोग है उनके बच्चे यदि उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इन्छुक है तो उन बच्चों को बिहार सरकार की और से उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है

प्रश्न- कितनी सहायता राशि दी जाती है

उतर- इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के तहत बच्चों को 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये तक की राशि दी जाती है

प्रश्न- पंजीकृत मजदूर की सालाना आय कितनी होनी चाहिए

उतर- पंजीकृत मजदूर की वार्षीक आय 2 लाख रूपये से अधिक नही होनी चाहिए

प्रश्न- लेबर कार्ड सदस्यता कितनी होनी चाहिए

उतर- शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लाभ हेतु उन्ही श्रमिकों के बच्चों को धनराशी दी जायेगी जिन श्रमिकों ने पांच साल की लेबर कार्ड सदस्यता प्राप्त कर ली है

Leave a Comment

Your email address will not be published.

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना 2021 बिहार Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana Apply Form

Sikshka of anudan sahayata yojana apply in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना ऑनलाइन पंजीयन | sikshka of anudan sahayata yojana registration in hindi form | sikshka of anudan sahayata yojana last date apply form | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना पंजीकरण फॉर्म | sikshka of anudan sahayata yojana bihar state in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है और क्या क्या लाभ है |

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना 2021:—निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों के बच्चे यदि IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि प्रकार की उच्च शिक्षा प्राप्त करन चाहते है मगर श्रमिक निर्माण कार्य से जुदा हुआ होने के कारण उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त नही करवा पाता है और मजबूरन श्रमिकों के बच्चों को अपनी पढाई को अधूरा छोड़ना पड़ता है ऐसे कामगार श्रमिकों के पढने वाले होशियार बच्चों को बिहार सरकार की इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के तहत 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है ये सहायता राशि उन श्रमिकों के बच्चों को दी जायेगी जो उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इन्छुक है

Sikshka of anudan sahayata yojana apply in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना ऑनलाइन पंजीयन | sikshka of anudan sahayata yojana registration in hindi form | sikshka of anudan sahayata yojana last date apply form | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना पंजीकरण फॉर्म |  sikshka of anudan sahayata yojana bihar state in hindi | शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है और क्या क्या लाभ है |

और श्रमिक के पास लेबर कार्ड है इस योजना में बच्चों के ट्यूशन की फ़ीस तक बिहार सरकार की और से वहन की जाती है दरअसल इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना को बिहार श्रम संसाधन विभाग की और से चलाया जा रहा है और इसे बिहार राज्य के लगभग सभी जिलों में सुरु कर दिया गया है शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के पंजीकरण की सारी विधि इस पोस्ट में हमारे द्वारा बताई गई है इसके बारे में आपको ध्यान से पढकर सारी जानकारी जान सकते है

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana Apply Form (शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना):-

घर की आर्थिक स्तिथि ठीक न होने के कारण बिहार राज्य में बहुत से श्रमिकों के ऐसे बच्चों है जो अपनी पढाई को बीचे में छोड़ने को मजबूर हो जाते है और उन्हें अपने माता या पिता के साथ दिन रात मेहनत मजदूरी करके घर का खर्चा चलाने में सहायता करनी पड़ी है इससे बच्चों के भविष्य पर काफी बुरा असर पड़ता है इसके साथ साथ बिहार राज्य में बेरोजगारी जैसी समस्या उत्पन हो जाती है एसी समस्या को रोकने के लिए बिहार श्रम संसाधन विभाग की और से इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना की सुरुआत की गई है इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना में श्रमिकों के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए 5000 रूपये से लेकर के 20000 रूपये की सहायता राशि मुहहिया करवाई जाती है

इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का लाभ बच्चों को तभी दिया जाएगा जब वो किसी उत्क्रिस्ठ सरकारी संस्थानों में उच्च शिक्षा ग्रहण करते है इसमें अलग अलगे उच्च शिक्षा के लिए बच्चो को आर्थिक सहायता राशि दी जाती है जिन बच्चों के माता या पिता श्रम संसाधन विभाग में पंजीकृत है उन बच्चों को इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के जरिये 20000 रूपये तक की धनराशी दी जाती है श्रमिक को अपने बच्चों के लाभ हेतु इस योजना में पहले पंजीकरण करवाना होगा जिसके बाद उन्हें इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना में शामिल करके दी जाने वाली सहायता राशि दी जायेगी

योजनाशिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://bocw.bihar.gov.in/
राज्यबिहार

रिन्यू बिहार लेबर कार्ड अप्लाई फॉर्म BIHAR LABOUR CARD RENEWAL Application Form

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का उदेश्य क्या है?

श्रम संसाधन विभाग बिहार की और से सुरु की गई इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना का मेंन उदेश्य यही अहि की जो श्रमिक अपने बच्चों को उच्च शिक्षा नही दिला पाते है क्योंकि श्रमिक की कमाई इतनी अधिक नही होती है की वह अपने बच्चों को IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि जैसी उच्च शिक्षा दिला सके बच्चों को पढाई बीच में छोड़ने को मजबूर होना पड़ता है ऐसे श्रमिकों को अब अपने बच्चों की पढाई की चिंता नही करनी पड़ेगी क्योंकि बिहार सरकार ने अब बच्चों की पढाई के लिए लगने वाले खर्च का भुगतान स्वयं करने के जिम्मा लिया है इससे बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेगे

श्रमिक को बच्चों की पढाई हेतु वित्तीय सहायता राशि मुहहिया करवाना इस IIT,IIM,ITI,पोलोटेकनिकल,Nursing,AIMS आदि का मुख्य उदेश्य है ताकि श्रमिक के बच्चे भी पढाई करके रोजगार को प्राप्त कर सके रोजगार जैसी समस्या को रोकने में ये योजना काफी कारगर सिद्द होगी जिन श्रमिकों के पिता के पास या फिर माता के पास लेबर कार्ड नही है उन बच्चों को मिलने वाली सहायता राशि नही दी जायेगी इसलिए हर शर्मिक के पास लेबर कार्ड होना बहुत जरूरी होता है शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना बिहार सरकार की और से सुरु की आगी 16 योजनाओं में से एक योजना है

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के जरिये मिलने वाली राशी:-

1. IIT,IIM,AIMS की पढाई करने वाले बच्चों को उनके ट्यूशन की फ़ीस दी जायेगी
2.Btech या फिर इसके पास की कक्षा की तैयारी करने वाले बच्चों को20000 रूपये की राशि दी जायेगी
3.नर्सिंग या फिर पोलोटेकनिकल जैसे डिप्लोमा के लिए10000 रूपये
4.ITI की तैयारी करने वाले बच्चों को 5000 रूपये की राशि दी जाती है

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए श्रमिक की आय:-

पंजीकृत श्रमिक की वार्षिक आय यदि 2 लाख रूपये से अधिक नही है तो ही श्रमिक के बच्चों के लिए दी जाने वाली आर्थिक धनराशी दी जायेगी यदि श्रमिक इससे अधिक राशि हर साल कमाता है तो उसके बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि नही दी जायेगी

बिहार सेवानिवृत श्रमिक पेंशन योजना 2021 Sevanivriti Shramik Pension Yojana Online Registration

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए योग्यता के बारे में जानकारी:-

  • जिन श्रमिकों के पास श्रमिक कार्ड है और वो भी कम से कम 5 साल की सदस्यता प्रमाण पत्र के साथ है उन मजदूरन के बच्चों को शिक्षा के लिए धनराशी दी जायेगी
  • श्रमिक के पास बिहार राज्य का स्थाई निवासी प्रमाण पत्र होना चाहिए
  • श्रमिक की सालाना आय 2 लाख से अधिक नही होनी चाहिए
  • अगर श्रमिक के बच्चे किसी एसी ही योजना के लाभ हेतु आवेदन कर चुके है तो उन्हें इस योजना के लिए आवेदन करने की इजाजत नही दी जायेगी
  • केवल उच्च शिक्षा के लिए इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है
  • पंजीकृत श्रमिक दो बच्चों के लिए इस योजना का लाभ ले सकता है यदि तीन बच्चे श्रमिक के घर में है तो सिर्फ दो बच्चे के लिए आवेदन किया जा सकता है
  • श्रमिक या फिर बच्चों के बैंक खाते में अनुदान राशि दी जायेगी

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana से लाभ (Benefit):-

  • बिहार राज्य के श्रमिकों के बच्चों को 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये की राशी उच्च शिक्षा के लिए दी जायेगी
  • किसी भी बच्चे को आर्थिक कमजोर होने की स्तिथि में अपनी पढाई को बीच में नही छोड़ना होगा
  • मिलने वाली राशि श्रमिक के बैंक खाते में भेजी जाएगी
  • बढती बेरोजगारी को काफी हद तक रोकने में आसानी हो जायेगी
  • बिहार राज्य के पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान करना इस Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana का मुख्य उदेश्य है और लक्ष्य है

Sikshka Of Anudan Sahayata Yojana के लिए दस्तावेज कोन कोन से जरूरी है?

  • आधार कार्ड
  • बच्चों की शैक्षिक योग्यता (कोनी श्रेणी की शिक्षा प्राप्त कर रहे है)
  • बैंक खाता संख्या
  • राशन कार्ड
  • श्रमिक का सदस्यता प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • आय प्रमाण पत्र

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के पंजीयन की विधि क्या है?

शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लाभ हेतु ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है इस योजना के लाभ के लिए बच्चे ऑनलाइन आवेदन नही कर पायेगे क्योंकि इसकी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया प्रारम्भ नही की गई है

श्रमिक या फिर पढने वाले बच्चे को श्रम संसाधन विभाग बिहार के मुख्य कार्यालय में जाकर के आवेदन फॉर्म को भरकर दस्तावेजों की सहायता से आवेदन करना होगा

मुख्यमंत्री कन्या विवाह अनुदान योजना 2021 {बिहार} Mukhyamantri Kanya Vivah Anudan Yojana Form

प्रश्न- शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना क्या है

उतर- जो बिहार राज्य के पंजीकृत मजदूर लोग है उनके बच्चे यदि उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इन्छुक है तो उन बच्चों को बिहार सरकार की और से उच्च शिक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है

प्रश्न- कितनी सहायता राशि दी जाती है

उतर- इस शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के तहत बच्चों को 5000 रूपये से लेकर 20000 रूपये तक की राशि दी जाती है

प्रश्न- पंजीकृत मजदूर की सालाना आय कितनी होनी चाहिए

उतर- पंजीकृत मजदूर की वार्षीक आय 2 लाख रूपये से अधिक नही होनी चाहिए

प्रश्न- लेबर कार्ड सदस्यता कितनी होनी चाहिए

उतर- शिक्षा के लिए अनुदान सहायता योजना के लाभ हेतु उन्ही श्रमिकों के बच्चों को धनराशी दी जायेगी जिन श्रमिकों ने पांच साल की लेबर कार्ड सदस्यता प्राप्त कर ली है

Leave a Comment

Your email address will not be published.