सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम ऑनलाइन पंजीयन Soil Helth Card Online Form

By | February 8, 2021

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम, Soil Health Card Scheme in hindi, सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम ऑनलाइन पंजीयन, Soil Health Card Scheme upsc, Soil Helth Card,

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बतायेगे कि केंद्र सरकार कि ओर से सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम शुरु कि गई इस योजना के जरिये देश का कोई भी किसान अपनी जमीन कि गुणवत्ता कि जानकारी केर उसमे उसके हिसाब से फसल कि बुआई कर सकता है जिसके बाद उसे अच्छी फसल कि प्राप्ति होगी सरकार कि इस योजना के जरिये किसान को एक सॉयल हेल्थ कार्ड दिया जाता है जिसमे पूरी जानकारी लिखी होती है कि किसान कि जमीन में कोन कोन से तत्व है और जमीन कि उपजाऊ क्षमता कैसी है यानी जमीन से जुडी पूरी जानकारी इस कार्ड में दी होती है अगर आप भी इस सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम के इन्छुक है

तो इस आर्टिकल को पढ़कर जान सकते है कि किस प्रकार इसका लाभ लिया जा सकता है तो आइये जानते है इसके बारे में विस्तार से

Soil Helth Card

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम (Soil Helth Card):-

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम कि सुरुआत तत्कालीन मोदी सरकार कि और से कि गई है इस योजना के तहत देश का
कोई भी किसान अपने खेत कि मिट्टी कि कि गुणवत्ता कि जांच करवा सकता है सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम से आप
अपने खेत कि मिट्टी कि गुणवत्ता कि जांच करवाकर इसमें कोनसी फसलों का सबसे ज्यादा उत्पादन हो सकता है
इसके बारे में जान सकते है सॉयल हेल्थ कार्ड केंद्र सरकार कि और से हर 3 वर्ष में एक बार बनाया जाता है ये कार्ड
देश के लगभग 14 करोड़ किसानो के लिए जारी किया जाता है

जिसमे सभी श्रेणी के किसान सामिल है सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम के जरिये किसान अपमी मिट्टी कि उर्वरक क्षमता
कि जांच करवाकर उसमे अच्छी फसल प्राप्त कर सकता है और इससे किसान कि आय में भी वृद्धि होगी देश में
बहुत से ऐसे किसान है जिनकी आर्थिक स्तिथि कमजोर होने के कारण वह अपनी खेत कि मिट्टी कि जनाच नही
करवा सकते है जिसके कारण उन्हें ये नही पता चलता है कि मिट्टी कि उर्वरक क्षमता क्या है क्योंकि बहुत से
किसानो कि आय कम होने का यही एक कारण होता है

YojanaSoil Helth Card Scheme
LocationAll India
Yojana TypeKisan Scheme
Official Websitehttps://soilhealth.dac.gov.in/

कि उनकी जमीन कि उर्वरक क्षमता क्या है और वो लोग एसी फसलों कि बुआई कर देते है जो उस जमीन में नही
हो पाती है जिसके कारण किसान को कम फसल पैदावार होती है मागे अब एसा नही होगा कोई भी किसान अपनी
खेत कि मिट्टी कि उर्वरक क्षमता कि जांच करवाके उसमे उसके हिसाब से फसल कि बुआई करके अपनी आय को
सुधार सकता है अगर आप भी इस सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम से जुड़ने के इन्छुक है तो आप इस आर्टिकल को अंत
तक पूरा पढ़ कर इसके आवेदन के बारे में जान सकते है

सरकारी योजना – Sarkari Yojana List 2021

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम का मुख्य उदेश्य क्या है? – Soil Helth Card

केंद्र सरकार कि इस सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम का मुख्य उदेश्य है कि देश के किसानो के खेत कि मिट्टी कि जांच
करके उन्हें मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनाकर दिया जाना ताकि किसान इसकी जानकारी लेकर अपने खेत में सही खेती
कर सके और अच्छी फसल कि पैदावार कर सके जिससे कमजोर किसानो कि आय में भी बढ़ोतरी होगी

इस योजना का कोई भी किसान लाभ उठाकर अपने खेत कि मृदा कि गुणवत्ता कि जांच करवा सकता है और फिर
उसमे कोनसी फसल कि बुआई करनी है उसके हिसाब से खेती कर सकता है ये कार्ड हर 3 साल में 1 बार देश के
सभी किसानो के लिए जारी किया जाता है इस कार्ड के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करने कि विधि भी हम
आपको इस आर्टिकल में बतायेगे

किसान कल्याण योजना

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम से होने वाले फायदे:-

अगर आप किसान है और अपने खेत कि मिट्टी कि गुणवत्ता कि जांच करवाना चाह्तेब है तो आप सबसे पहले इस
 सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम से होने वाले फायदों के बारे में भी जा सकते है तो आइये जानते मही इसके बारे में 

  1. इस स्कीम का लाभ लगभग 14 करोड़ किसानो को दिया जाता है
  2. देश के हर किसान को उसके खेत कि मिट्टी कि जांच करके उसे सॉयल हेल्थ कार्ड बनाकर दिया जाता है
  3. इस कार्ड कि मदद से किसान ये जान सकता है कि वह अपनी खेती में सबसे ज्यादा किस फसल कि पैदावार
    कर सकता है
  4. केंद्र सरकार कि इस मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लिए 568 रूपये का बजट तैयार किया गया है
  5. इस योजना का लाभ देश का कोई भी किसान ले सकता है चाहे वह लघु किसान हो या फिर सीमांत किसान हो
  6. अगर कोई किसान अपने खेत कि मिट्टी कि जांच करवाता है और उसमे उर्वरक क्षमता कम पाई जाती है तो
    सरकार कि और से इसका समाधान भी किया जाता है ताकि किसान को अधिक फसल प्राप्त हो सके

सॉयल हेल्थ कार्ड किस प्रकार तैयार किया जाता है?

आज हम आपको इस आर्टिकल में ये भी जानकारी देंगे कि सॉयल हेल्थ कार्ड किसानो को किस प्रकार बनाकर
दिया जाता है

  • सर्वप्रथम क्रषि अधिकारी आपके खेत कि मिट्टी अपने साथ लेकर जायेगे
  • इसके बाद में आपके खेत कि मिट्टी कि जांच के लिए इसे सरकारी लेब में भेजा जाएगा
  • फिर इस मिट्टी कि नई नई तकनिकी मशीनों से जांच करके मिट्टी के उर्वरक क्षमता के बारे में पता किया जाएगा
  • इसके बाद में अधिकारी कि और से एक सूचि बनाई जायेगी कि इस मिट्टी में कोन कोनसी उर्वरक क्षमता है और
     कोन कोनसी कमियाँ है
  • इसके बाद में जिस किसान के खेत कि मिट्टी है उसके नाम से मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनाया जाएगा 
  • अब इस कार्ड को सरकार द्वारा ऑनलाइन Upload कर दिया जाएगा और किसान को उसके मोबाइल नंबर पर मेसेज के जरिये बता दिया जाएगा

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम से क्या क्या चैक किया जा सकता है?

हम आपको ये जानकारी भी देने वाले है कि केंद्र सरकार कि और से शुरु कि गई इस सॉयल हेल्थ स्कीम से किसान
कि मिट्टी किमया क्या जांच कि जा सकती है आइये जानते है

  1. किसान के खेत कि फसल उत्पादन क्षमता कैसी है
  2. मृदा के सेहत कि जानकारी प्राप्त कर सकते है
  3. खेत कि नमी के बारे में चैक किया जा सकता है
  4. कोनसे पोषक तत्वों कि कमी है इसके बारे में पता किया जा सकता है 
  5. जमीन कि गुणवत्ता के बारे में जान सकते है आदि

मृदा स्वास्थ्य कार्ड के लिए ऑनलाइन पंजीयन प्रक्रिया:-

अगर आप भी अपने खेत कि मृदा कि गुणवता के बारे में जानना चाहते है तो आपको ऑनलाइन पंजीयन कि विधि
 हम बताने वाले है आप हमारे इन स्टेपों को फोलो करे या फिर आप अपने किसी नजदीकी CSC Canter
पर जाकर के ऑनलाइन आवेदन कर सकते है 

  • सबसे पहले आपको सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम कि आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जिसके बाद आपके सामने इसका मुख्य पृष्ठ ओपन हो जाएगा http
    s://soilhealth.dac.gov.in/
  • इसके बाद आपको इस पेज में लॉग
    इन का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर क्लिक करना है जिसके बाद इसका दूसरा पेज ओपन होगा 
  • अब आपको आपको इस पेज में अपना राज्य के चयन करना है 
  • राज्य को चयन करने के बाद आपको इसके ठीक निचे Continue का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर ओके
    करना है जिसके बाद इस दूसरा पेज ओपन हो जाएगा
  •   इसके बाद आपको इस पेज में New Registration का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर क्लिक करना है जिसके
    बाद आपके सामने नया रजिस्ट्रेशन का फॉर्म ओपन हो जाएगा
  • अब आपको इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गई जानकारी को सही सही भरना है 
  • इसके बाद आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपका ऑनलाइन पंजीयन पूरा हो जाएगा

सॉयल हेल्थ कार्ड स्कीम हेल्पलाइन नंबर:-

इस स्कीम के आवेदन में आपको कोई समस्या का सामना करना पड़ रहा है या फिर आपको इससे जुडी और अधिक जानकारी प्राप्त करणी है तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर पर जाकर के जानकारी प्राप्त कर कसते है 011-24305591 – 011-2430548

Thanks for Comment