श्रमिक भरण पोषण योजना आवेदन फॉर्म 1000रु भत्ता labor maintenance scheme - ALL GOVT YOJANA

श्रमिक भरण पोषण योजना आवेदन फॉर्म 1000रु भत्ता labor maintenance scheme

labor maintenance scheme, श्रमिक भरण पोषण योजना आवेदन फॉर्म, मजदूरो को 1 हजार रु भत्ता उत्तरप्रदेश, योगी सरकार देगी मजदूरो को भत्ता, Labour Card, Bharan Poshan Yojana,

labor maintenance scheme, श्रमिक भरण पोषण योजना आवेदन फॉर्म, मजदूरो को 1 हजार रु भत्ता उत्तरप्रदेश, योगी सरकार देगी मजदूरो को भत्ता, Labour Card, Bharan Poshan Yojana,

उत्तरप्रदेश सरकार ने मजदूरो को 1000रु सहायता राशी देने की घोषणा की जिसमे पंजीकर्त मजदूरो को भत्ते के रूप में यह राशी दी जायगी इस योजना के तहत 23 लाख से अधिक मजदूरो को इस योजना का लाभ मिलेगा जिसके लिए सरकार ने 230 करोड़ का बजट निर्धारित किया है | श्रमिक हित को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने एक सहायता राशी की घोषणा की जिसके लिए मजदूरो को लाभ देना शुरू किया है

श्रमिको भरण-पोषण भत्ता labor maintenance scheme

कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन में मजदूरो के पास कई रोजगार नहीं होने के कारण मजदुर कई तरह की परेशानियों का सामना कर रहे है एसे में मजदूरो को हर परेशानी का समाधान तो नहीं किया जा रहा है लेकिन सरकार के नए नए प्रयास से कुछ मदद मजदूरो तक पहुचाई जा रहे है ताकि मजदूरो को इस महामारी में खाने पिने का कुछ इतजाम मिल सके इसी के चलते उत्तरप्रदेश सरकार ने मजदूरो को 1000रु भत्ता देने की घोषणा की है जिसके लिए सरकार ने एक पोर्टल भी जारी किया है जिस पर इन मजदूरो का डाटा आवेदन आदि प्रोसेस होगी |

उत्तरप्रदेश भरण पोषण योजना का लाभ किसे मिलेगा

इस योजना का लाभ उत्तरप्रदेश के पंजीकर्त मजदूरो को दिया जायगा जिसमे यूपी के 23 लाख मजदुर इस योजना में सामिल होंगे जिन्हें इस योजना का लाभ दिया जायगा बता दें कि कोरोना की विषम परिस्थितियों में राज्य सरकार ने ठेला, ट्रैक दुकानदार, पंजीकृत श्रमिकों के अलावा अन्य श्रमिक, दिहाड़ी मजदूर, रिक्शा चालक, कुली, पुली, नाविक, नाई, धोबी, मोची, हलवाई आदि पर रोक लगा दी है. एक माह के लिए प्रति परिवार 1000 रुपये भरण पोषण भत्ता देने का निर्णय लिया गया है।

यह योजना फिलहाल एक महीने के लिए लागू की गई है। वर्तमान में श्रम विभाग के अंतर्गत उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड (बीओसीडब्ल्यू) में 98 लाख श्रमिक पंजीकृत हैं। इनमें से लगभग 67.37 लाख श्रमिकों का पंजीकरण नवीनीकृत है। तदनुसार, वे रखरखाव भत्ते के हकदार हैं।

यूपी श्रमिक कार्ड योजना लिस्ट व लाभ

भरण पोषण योजना का लाभ कैसे ले

उत्तरप्रदेश के मजदुर जिनके पास लेबर कार्ड बना हुआ है एसे मजदुर अपना लेबर कार्ड चेक कर ले आपका लेबर कार्ड नवीनकरण के लिए तो नहीं है अगर आपका लेबर कार्ड नवीनीकरण के लिए तो आप अपने लेबर कार्ड को रिन्यूअल करवा ले ताकि आपको इस योजना का लाभ मिल सके बहुत से लेबर कार्ड Renew के लिए पेंडिंग में है अगर आप अपना लेबर कार्ड चेक करना है तो आप यहा दे सकते है – यूपी श्रमिक कार्ड नवीनीकरण फॉर्म

उत्तरप्रदेश भरना पोषण योजना का लाभ कैसे ले

इस योजना का लाभ कैसे ले कैसे इसके लिए आवेदन करे यूपी श्रमिक इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए यहा दी गए स्टेप को फॉलो कर इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है

  • सबसे पहले यूपी के श्रमिक अधिकारी वेबसाइट पर जाए – http://upbocw.in
  • यहा जाने के बाद आपके सामने Up BOCW Board की अधिकारी वेबसाइट ऑपन होगी जिसमे आपको कई तरह के आप्शन मिलेंगे
  • आपको यहा योजना का आवेदन पर क्लिक करना है |
labor maintenance scheme, श्रमिक भरण पोषण योजना आवेदन फॉर्म, मजदूरो को 1 हजार रु भत्ता उत्तरप्रदेश, योगी सरकार देगी मजदूरो को भत्ता, Labour Card, Bharan Poshan Yojana,
  • यहा आपको योजना का आवेदन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपके सामने नया पेज ऑपन होगा
  • इस पेज में आपको अपने जानकारी सेलेक्ट करनी है जिसमे आपको सबसे पहले मंडल सेलेक्ट करना है इसके बाद आपको अपने श्रमिक कार्ड के नंबर दर्ज करना है
  • इसके बाद आपको अपने मोबाइल नंबर दर्ज करना है होगा जिसके बाद आवेदन फॉर्म खोले पर क्लिक करना है इसके बाद आपके सामने आवेदन पत्र ऑपन हो जायगा जिसमे आपको अपनी जानकारी व योजना का नाम आदि सेलेक्ट कर आवेदन सबमिट करना है जिसके बाद आपका आवेदन हो जायगा |

भरण पोषण भत्ता हेल्पलाइन नंबर

इस योजना से जुड़ी अन्य जानकारी आप हेल्पलाइन नंबर पर प्राप्त कर सकते है इसके लिए आपको यूपी लेबर कार्ड की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है जिसके बाद आपके सामने मेनू बार में सम्पर्क करे पर क्लिक करना है इसके बाद आपके सामने हेल्प डेस्क पर क्लिक करना है आपके सामने लेबर कार्ड हेल्पलाइन नंबर आ जायगे – 1800-1805412 पर कॉल कर आप इस योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है

उत्तरप्रदेश मजदुर भरन पोषण भत्ता योजना से जुड़े सवाल जबाब

Q. यूपी श्रम भत्ता की आधिकारिक वेबसाइट क्या है?
यूपी श्रम भत्ता से संबंधित आधिकारिक वेबसाइट है- http://uplabour.gov.in।

Q. यूपी मजदूर भट्टा योजना के तहत लाभार्थियों को कितनी वित्तीय सहायता दी जाएगी?
यूपी मजदूर भट्टा योजना के तहत लाभार्थियों को हर महीने 1000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी।

Q. इस योजना के तहत प्राप्त वित्तीय सहायता को लाभार्थियों तक कैसे पहुंचाया जाएगा?
इस योजना के तहत लाभार्थियों के खाते में हर महीने वित्तीय सहायता भेजी जाएगी, इसलिए आपके बैंक में खाता होना अनिवार्य है और खाते को आधार से जोड़ना भी आवश्यक है।

Q. उत्तर प्रदेश रखरखाव योजना में किन उम्मीदवारों को मिलेगा लाभ?
उत्तर प्रदेश भरण-पोषण योजना के तहत जो दिहाड़ी मजदूरी करते हैं, उन्हें सरकार की ओर से आर्थिक मदद दी जाएगी, जैसे कि श्रमिक, रिक्शा चालक, मोची, निर्माण श्रमिक आदि को इस योजना का लाभ मिलेगा।

Q. यूपी सरकार ने मजदूर भट्टा योजना क्यों शुरू की?
कोविड-19 संक्रमण की वजह से देश में कई लोग बेरोजगारी के शिकार हो गए, जिनमें से रोजी-रोटी कमाने वाले दिहाड़ी मजदूरों को ज्यादा नुकसान हुआ है, ऐसे में यूपी सरकार ने इन लोगों को श्रम भत्ता दिया है. योजना शुरू की है।

Q.मजदूर भत्ता योजना का लाभ कौन ले सकता है ?
जिन उम्मीदवारों का नाम श्रम विभाग, ग्राम सभा, नगरीय विकास में होगा, वे पहले से पंजीकृत होंगे, उन्हें मजदूर भत्ता योजना का लाभ मिलेगा।

इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार किस मोड में आवेदन कर सकते हैं?
इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार ऑफलाइन और ऑनलाइन मोड में आवेदन कर सकते हैं।

Q. ऑफलाइन मोड में आवेदन करने के लिए क्या करें?
अगर आप ऑफलाइन मोड में आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने नजदीकी नगर निगम कार्यालय में जाना होगा। आप वहां से आवेदन पत्र लेकर आवेदन कर सकते हैं।

Q, मजदूर भट्टा योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?
हमने अपने लेख में आपको मजदूर भत्ता योजना में ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया दी है, आप दिए गए चरणों का पालन करके ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Q. यूपी श्रम विभाग से जुड़ा हेल्पलाइन नंबर क्या है?
अगर आपको इस योजना से संबंधित कोई जानकारी चाहिए या आपको कोई समस्या है तो आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।
हेल्पलाइन नंबर – 1800-1805412

Leave a Comment

Your email address will not be published.