फ्री चावल योजना योजना अब से शुरू ये राशन कार्ड धारी ले सकेंगे लाभ

प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण योजना के तहत कि गई योजना कई योजना कि घोषणा में फ्री राशन देने कि घोषणा हुई है फ्री चावल योजना,

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में बुधवार को मुफ्त चावल वितरण शुरू हो जाएगा। राशनकार्ड धारकों को इसका लाभ मिलेगा। दरअसल, 15 अप्रैल से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना शुरू हो जाएगी। कन्नौज समेत यूपी के सभी कोटेदार पात्र गृहस्थी व अन्त्योदय कार्डधारकों को फ्री मेें चावल बांटेंगे। हर यूनिट पर पांच-पांच किलो के हिसाब से लाभ दिया जाएगा। जनपद में नगर निकाय व ग्रामीण क्षेत्र की 661 उचित दर विक्रेताओं के यहां लाभ मिलेगा।

फ्री चावल योजना फ्री चावल योजना योजना अब से शुरू ये राशन कार्ड धारी ले सकेंगे लाभ

करीब 90 फीसदी वितरण

लॉकडाउन से पहले उचित दर दुकानों पर 85-86 फीसदी राशन बंटता था, लेकिन 12 अप्रैल तक पहली शिफ्ट में 90 फीसदी के करीब गेहूं व चावल का वितरण हुआ। अन्त्योदय व पात्र गृहस्थी के अलावा श्रमिकों, दिहाड़ी मजदूरों व मनरेगा सक्रिय जॉबकार्ड धारकों को नियमानुसार फ्री और सरकारी दर पर वितरण हुआ। डीएसओ का दावा शहरी क्षेत्र में 91.50 व ग्रामीण क्षेत्र में 89.25 फीसदी वितरण हुआ है।

सभी राज्यों के श्रमिक कार्ड

15 अप्रैल से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना की शुरुआत

इस बारे में कन्नौज जिला पूर्ति अधिकारी कमलेश कुमार गुप्त ने बताया कि 15 से 26 अप्रैल तक सभी राशन की दुकानों पर प्रति यूनिट के हिसाब से पांच-पांच किलो चावल फ्री में दिया जाएगा। फ्री में चावल बांटने के दौरान दो-दो नोडल अधिकारी तैनात रहेंगे। पहले एक-एक ही नोडल अधिकारी रहते थे। चूंकि हर दुकान पर सभी अन्त्योदय व पात्र गृहस्थी राशनकार्ड धारकों को फ्री में लाभ मिलेगा तो नोडल अधिकारियों की संख्या बढ़ गई है।

एक यूनिट पर पांच किलो के हिसाब से दिया जाएगा लाभ

सभी कोटेदार अपनी-अपनी दुकानों पर तीन जगह सूचना भी चस्पा करेंगे। उसमें योजना का नाम, एक यूनिट के हिसाब से फ्री में पांच किलो चावल, मास्क लगाकर आने और सैनेटाइज रहने का जिक्र होगा। जिला पूर्ति अधिकारी ने उदाहरण देते हुए बताया कि अगर किसी कार्ड पर चार यूनिट हैं तो उसे प्रति यूनिट पांच किलो के हिसाब से 20 किलो चावल मिलेंगे, इसके एवज में कोई रुपया नही देना पड़ेगा।

सभी राशनकार्डधारकों को मिलेगा फ्री में चावल

डीएसओ ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से करीब 1200 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। इसमें लेखपाल, सचिव, शिक्षक, विकास विभाग और अन्य विभागों के लोग शामिल हैं। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि चावल का उठान होने के दौरान कोटेदारों से किसी भी प्रकार का शुल्क नही लिया गया है। न ही राशनकार्डधारकों से लिया जाएगा।

चावल के लिए पात्र लोगों के लिए 26 अप्रैल तक का समय

डीएम राकेश मिश्र ने भी सभी कार्डधारकों को मास्क, अंगौछा या रूमाल बांधकर चावल लेने और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा है। जनपद में करीब 2.95 लाख पात्र गृहस्थी और 29 हजार अंत्योदय राशन कार्ड हैं। प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत बुधवार से सभी कार्डधारकों को पांच-पांच किलो के हिसाब से फ्री में चावल दिया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.